work

1


इशा कोपिकर की दीपिका पादुकोण के साथ एक्सक्लूसिव वर्कआउट सेशन | आई डब्लयू एम बज

आज के समय ने, केवल अभिनेताओं के लिए ही नहीं बल्कि अभिनेत्रियों के लिए भी शारीरिक रूप से फिट रहना काफी महत्वपूर्ण हो गया है। समय की प्रगति के साथ फिटनेस गेम आगे बढ़ चुका है।आज की सभी अभिनेत्रियों, दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर, जान्हवी कपूर, सारा अली खान, अनुष्का शर्मा, कैट



मानसी श्रीवास्तव बनी छिपकली: बोली ट्रोल्स की नहीं करती परवाह

स्टार प्लस का लोकप्रिय अलौकिक शो दिव्य दृष्टि फायरवर्क्स प्रोडक्शंस और मुक्ता धोंड द्वारा निर्मित, अपने अप्रत्याशित कहानी, अद्भुत ग्राफिक्स और वीएफएक्स के कारण अपने दर्शकों से अपार लोकप्रियता और प्यार बटोर रहा है। चल रही स्टोरीलाइन दर्शकों को अपनी सीटों से जोड़े रख रह



काम भी कर सकता है आपका रिश्ता तबाह, इस तरह बनाएं बैलेंस

आज की भागदौड़ भरी जिन्दगी में लोगों के पास अपनों के समय की बेहद कमी है। जिस तरह कारपोरेट कल्चर से उन्नति के अवसर खोले हैं, उससे रिश्तांे पर आंच आनी शुरू हो गई है। सबसे पहले तो लोग जल्द से जल्द अपने जीवन में सफलता की उंचाईयों को छू लेना चाहते हैं, वहीं दूसरी ओर कंपनी भी



कम समय में भी कर सकते हैं यह एक्सरसाइज

आज की बिजी लाइफस्टाइल में किसी के पास इतना समय ही नहीं है कि व्यक्ति खुद पर ध्यान दे सके। जो लोग खुद को फिट रखना भी चाहते हैं, वह भी समय के अभाव में ऐसा नहीं कर पाते। ऐसे में काम की व्यस्तता कहीं न कहीं आपकीे सेहत को प्रभावित करती है। कहते हैं कि पहला सुख निरोगी काया। अर्थात अगर आप हेल्दी और फिट ही



Top IT Brands 2016 _ A10 NETWORKS

 The Game PlanA10 Networks looks at marketing strategies to be depending on quantifiable and data-based analytics to drive decisions relating to customer needs and behaviour, new routes to market, new opportunities and strategies for customer engagement. It is less of an art and more of science as



चेतावनी प्रकृति की:२०१३की उत्तराखण्ड आपदा के अनुभव ६

td p { margin-bottom: 0cm; direction: ltr; color: rgb(0, 0, 0); }td p.western { font-family: "Liberation Serif","Times New Roman",serif; font-size: 12pt; }td p.cjk { font-family: "Arial Unicode MS",sans-serif; font-size: 12pt; }td p



चेतावनी प्रकृति की: २०१३ की उत्तराखण्ड आपदा के अनुभव ५

td p { margin-bottom: 0cm; direction: ltr; color: rgb(0, 0, 0); }td p.western { font-family: "Liberation Serif","Times New Roman",serif; font-size: 12pt; }td p.cjk { font-family: "Arial Unicode MS",sans-serif; font-size: 12pt; }td p.ctl { font-family: "Lohit Marathi"; font-size: 12pt; }p { margi



चेतावनी प्रकृति की: २०१३ की उत्तराखण्ड आपदा के अनुभव ४

td p { margin-bottom: 0cm; direction: ltr; color: rgb(0, 0, 0); }td p.western { font-family: "Liberation Serif","Times New Roman",serif; font-size: 12pt; }td p.cjk { font-family: "Arial Unicode MS",sans-serif; font-size: 12pt; }td p.ctl { font-family: "Lohit Marathi"; font-size: 12pt; }h3 { dire



इसे कहते है सच्ची समाजसेवा!!! | आपकी सहेली ज्योति देहलीवाल

आदित्य तिवारी, एक ऐसे व्यक्ति है, जो न तो बड़े नेता है और न ही कोई बड़े अधिकारी। फिर भी उन्होंंने समाजसेवा का उत्कृष्ट कार्य किया है। इसे कहते है सच्ची समाजसेवा!!! | आपकी सहेली ज्योति देहलीवाल



चेतावनी प्रकृति की: २०१३ की उत्तराखण्ड आपदा के अनुभव १

शब्दनगरी के सभी मान्यवरों को प्रणाम! २०१३ की उत्तराखण्ड आपदा के अनुभव आज भी प्रासंगिक हैं| उन अनुभवों को आपके सामने प्रस्तुत कर रहा हूँ| धन्यवाद|



काम कोई भी छोटा नहीं होता

काम कोई भी छोटा नहीं  होताएक समय की बात है समुद्र के किनारे  मछुआरों की बस्ती में हेमंत नाम का मलाह रहता था वह अपनी कश्ती से यात्रियों को एक किनारे से दुसरे किनारे लाने ले जाने का काम करता था इस काम से उसे ज्यादा पैसे तो मिलते नहीं थे पर दाल रोटी चलती जाती थी उसका परिवार खुश था उसका बड़ा बेटा राहुल भ



काश कमीना काम न होता

अपने प्रेमी के संग स्वच्छंद रंगरेलियां मनाने की हवस में अंधी, एक कलयुगी माँ द्वारा ,अपने मासूम बच्चों की तकिये से गला घोंट कर निर्मम हत्या करने की खबर से आहत होकर लिखी गयी और खरे कटु सत्य को उजागर करती कविता -*******************************************@@@@@@@ काश कमीना काम न होता @@@@@@@************



तीन बहुएँ - Teen Bahuein, hindi short story by Mithilesh Anbhigya

कैसी हो रश्मि! मार्च में पड़ने वाले अपनी देवरानी के बच्चे के बर्थडे पर आनंदी उसके घर आयी थी. ठीक हूँ दीदी, आप कैसी हैं! मैं भी ठीक हूँ, रागिनी आ गयी है. आने ही वाली है, फोन आया था उसका. गाँव से आकर बड़े शहर के अलग-अलग हिस्सों में रहने वालीं तीन संपन्न बहुओं में रागिनी सबसे छोटी थी. शाम को केक कटने के



आजतक शीर्ष पंक्ति - IIT के पूर्व छात्र ने शुरू की हिन्दी वेबसाइट ‘शब्दनगरी’

आईआईटी मुंबई के पूर्व छात्रों ने हिंदी में पहली बार एक ऐसी वेबसाइट शुरू की है, जहां यूजर फेसबुक की तरह अपना पेज बना सकता है और ब्लॉग के जरिए विचार साझा कर सकता है. 'शब्दनगरी' के नाम से शुरू की गई यह वेबसाइट फेसबुक से प्रेरित होने के बावजूद उसकी हूबहू नकल नहीं है. इस वेबसाइट पर यूजर राष्ट्रभाषा हिन्द



दिल्ली चुनाव पर मिथिलेश की कुण्डलिया - Poem on Delhi Election, Politics, BJP, AAP, Congress by Mithilesh

आया चुनाव नजदीक है, बन लोकतंत्र की लाज देखो, सुनो परखो जरा, यह है ज़रूरी काज। यह है ज़रूरी काज, नाच नेता की देखो। छल कपट दंश प्रपंच, वक्त पर तुम भी समझो। कहते 'अनभिज्ञ' सही, दूर हो मोह व माया शांत बुद्धि से वोट दो, दिन तुम्हारा आया। साठ साल तक राज में, ना उभरा दूजा और | कांग्रेस की दुर्गति में, यह



द टाइम्स ऑफ़ इंडिया - Ex-IITians develop social networking site in Hindi

Almost 11 years back in February 2004 when Facebook was launched by its founder Mark Zeckerberg from Harvard dormitory (Harvard University's hostel), nobody knew that the social networking site would become a giant, connecting millions of people across the world. Taking inspiration from Zuckerberg,





1
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x