प्रभु जरनल टिकट पर सफर कराने वाले टिटियों पर मेहरबान, टिकट रद्द कराने वालों की हो रही जेब ढीली

करोड़ों रुपये के घाटे से जूझ रहे रेल मंत्रालय की आमदनी बढ़ाने के लिए रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने सफर करने वाले यात्रियों का ट्रेन में सफर करना मुश्किल कर दिया है. आलम यह है कि अगर ट्रेन के प्लेटफार्म से छूटने के चार घंटे पहले आप अपना आरक्षण टिकट निरस्त करने नहीं पहुंचे तो आपको एक फूटी कौड़ी भी रेल विभाग



समर-यात्रा

आज सवेरे ही से गाँव में हलचल मची हुई थी। कच्ची झोंपड़ियाँ हँसती हुई जान पड़ती थीं। आज सत्याग्रहियों का जत्था गाँव में आयेगा। कोदई चौधरी के द्वार पर चँदोवा तना हुआ है। आटा, घी, तरकारी, दूध और दही जमा किया जा रहा है। सबके चेहरों पर उमंग है, हौसला है, आनन्द है। वही बिंदा अहीर, जो दौरे के हाकिमों के पड़ाव



सपा की साईकिल यात्रा

मेंरे भाइयों और दोस्तों सपा की साईकिल यात्रा कहाँ तक चलेगी क्या यहीं पर समाप्त हो जाएगी या और आगे जाएगी |लेपटाप वितरण क्या साईकिल को और आगे ले जाएगी या नहीं अभी तक तो साईकिल गांव-गांव तक चली अब और कहाँ तक चलने की बारी है क्या साईकिल की गुण्डागर्दी और चलेगी इस समय साईकिल काफी तेज चल रही है सड़क बनवान



श्वेत-श्याम सपनाें की अनकही यात्राएं

भारत में हर माैसम अपनी रवानी में उतरता है अाैर कुछ उलाहने, कुछ प्रेम, कुछ पहेलियां बुझाते हुए निकल जाता है। इसीलिए हम भारतीय हर माैसम का बेइंतहा इंतजार करते हैं। गर्मियां भले ही ऊब-डूब करती सांसें अाैर पहलु बदलने का माैसम है, लेकिन अपनी रवायत अाैर रसीले अामाें की अामद की वजह से सभी काे इसका इंतजार र



यात्रा वृतांत: एक बारात की मजेदार यात्रा

यात्रा वृतांत: एक बारात की मजेदार यात्रा - Ignored Post | Top Interesting Post---जब लगन चरम पर हो और ठाला भी चरम पर हो तो पुरे सीजन में एक बारात भी करने को मिल जाए तो नरक कट जाता है और ये मलाल भी नहीं रहता की, इस सीजन में एक बारात तक नहीं मिली | कल बिल्कुल यही परिस्थिति थी | कल इस जानलेवा ठाले के दौ



यात्रा

वसंत आ रही है, नए साल में आप सोचते हैं कि खेलने के लिए कहाँजाएंगे? प्रेमपूर्ण और गुलाबी के जयपुर, जोधपुर या सुनहरा रेगिस्तान के राजस्थान, गार्डन शहर के रूप में बैंगलोर। ज़ाहिर है, सुंदर भारतीय के अलावा, बाहर की दुनिया फिर मजेदार और रंगीन है। जैसे: चार महान प्राचीन सभ्यताओंके चीन, मिस्र, बाबुल।वे भार



पगड़ी नहीं उतारी तो हवाई यात्रा करना हो सकता है मुश्किल

खबर बिल्कुल सच्ची है। अगर आप खुद को सच्चा सिख साबित करने पर अड़ गए और सुरक्षा जांच के दौरान पगड़ी उतारने से इनकार कर दें तो इस बात की संभावनाएं ज्यादा हैं कि आपको हवाई यात्रा से महरूम रहना पड़ जाए।जी हां, खबर बिल्कुल सच्ची है। अगर आप खुद को सच्चा सिख साबित करने पर अड़ गए और सुरक्षा जांच के दौरान पगड



यात्रा और यात्री

साँस चलती है तुझेचलना पड़ेगा ही मुसाफिर! चल रहा है तारकों कादल गगन में गीत गाता,चल रहा आकाश भी हैशून्य में भ्रमता-भ्रमाता,पाँव के नीचे पड़ीअचला नहीं, यह चंचला है,एक कण भी, एक क्षण भीएक थल पर टिक न पाता,शक्तियाँ गति की तुझेसब ओर से घेरे हु‌ए है;स्थान से अपने तुझेटलना पड़ेगा ही, मुसाफिर!साँस चलती है त



मेरी देवप्रयाग यात्रा

12 साल बाद लगने वाले मौरी मेले में मुझे पांडव के साथ देवप्रयाग गंगा स्नान जाने का मौका मिला, मैंने 7 दिसम्बर मेले के उद्घाटन दिन ही तय कर दिया था कि जब पांच पांडव १३ अप्रैल को बिखोती मे गंगा स्नान को देवप्रयाग संगम में जायेंगे तो मै भी पैदल यात्रा कर के उनके साथ स्नान के जाऊंगा।दिसम्बर के बाद वक



यात्रा वृतांत

नैनीताल से चल कर लखनऊ एवम् अरब देश आबूधाबी होते हुये समुद्र किनारे बसे एक छोटे एवम सुंदर ब्यवस्थित देश कुवैत पहुँचा हूँ ।इस के संबंध् में शीघ्र ही अपने अनुभव आगामी लेख में प्रस्तुत करूँगा ।



केप टाउन के विहंगम दृश्य (यात्रा वृत्तांत)-१

"जीवन", भगवान का एक सुंदर उपहार है जो हमें अपने अनुभवों से सीखकर अपने आप को विकसित करने का अवसर प्रदान करता है। यात्रा, एक ऐसा अनुभव है जो हमारे दिल को सुनहरी यादों के साथ सिक्त कर देता है। हमारी केप टाउन यात्रा, एक अप्रत्याशित यात्रा थी जिसने हमारी ज़िन्दगी में नए रंग भर दिए|दुनिया में कुछ चुनिदा



यदि मोदी विदेश यात्रा नहीं करेंगे तो क्या भारत बदनाम हो जायेगा ।…

ये सत्य है की पुरे विश्व  मैं मोदी जी ने यात्राये करके भारत का नाम रोशन   कर दिया...  पर  सत्यता यह भी   है की भारत  मैं एक  आम  आदमी अभी  भी जैसा पहले था वैसा  ही अभी  भी  है बल्कि महंगाई  बढ़ने  के कारण ओर  ज्यादा परेशान ….  राष्ट्र धर्म संस्कृति विरोध  ,, दंगो के कारण असुरक्षित ।...  हमको दूसरे  ल



आवारापनः किष्किन्धा कांड!

गरमियों में कर्नाटक जाना हुआ था। लेकिन आवारगर्दी कहिए या फिर खानाबदोशी की मेरी आदत, एक जगह टिककर रहना नहीं हुआ। बीजापुर, गुलबर्गा वगैरह में सूखे और किसानों की आत्महत्या की ख़बरें कर चुका था, मन और तन दोनों क्लांत हो चुके थे। हॉसपेट थोड़ा दक्षिण है गुलबर्गा से। बेल्लारी ज़िले में। अरे, वही बेल्लारी



गढ़ कुंडार : एक ऐतिहासिक महत्त्व का दुर्ग ही नही बल्कि राष्ट्र धर्म और जुझारू संस्कृति का जनक

जुझारू संस्कृति का जनक गढ़ कुण्डार अशोक सूर्यवेदी नक्षत्रों में सूर्य सी आभा लिए जुझौती (आधुनिक बुंदेलखंड ) का प्राचीनतम और पवित्रतम दुर्ग, गढ़ कुंडार एक ऐतिहासिक महत्त्व का दुर्ग ही नही बल्कि राष्ट्र धर्म और जुझारू संस्कृति का जनक भी है!अपने एक सह्त्राब्दी के जीवन काल में इस गढ़ ने अनेकानेक राजनैति



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x