जानें क्यों सिर्फ पुरुषों में होती है गंजेपन की समस्या, कौन से हार्मोन हैं जिम्मेदार?

07 जनवरी 2019   |  अंकिशा मिश्रा   (296 बार पढ़ा जा चुका है)

जानें क्यों सिर्फ पुरुषों में होती है गंजेपन की समस्या, कौन से हार्मोन हैं जिम्मेदार?

लोगों में गंजेपन की समस्या तेजी से बढ़ रही है। जिसके लिए लोगों का गलत खान-पान और जीवनशैली जिम्मेदार है।आजकल तो ये समस्या छोटी उम्र के बच्चों में भी देखने को मिल रही है।

गौरतलब है कि गंजेपन का शिकार आमतौर पर सिर्फ पुरुष ही होते हैं महिलाओं में गंजापन बहुत दुर्लभ है। 40 की उम्र पार करते करते ही आधे से ज्यादा पुरुष गंजे हो जाते हैं।


आपको बताते हैं कि क्यों ज्यादातर पुरुष ही गंजेपन का शिकार होते हैं?


पुरुषों में टेस्टोस्टेरॉन है जिम्मेदार


टेस्टोस्टेरॉन एक तरह का हार्मोन है, जो पुरुषों और महिलाओं दोनों में पाया जाता है मगर पुरुषों में यह हार्मोंन ज्यादा मात्रा में पाया जाता है। जिसके चलते पुरुषों में पुरुषत्व वाले शारीरिक बदलाव होते हैं।टेस्टोस्टेरॉन पुरुषों में स्रावित होने वाले एंड्रोजन ग्रुप स्टेरॉयड हार्मोन है, जिसके कारण बाल झड़ने की समस्या पैदा होती है।मानव शरीर के अंदर कुछ एंजाइम ऐसे होते हैं जिसके चलते टेस्टोस्टेरॉन डिहाइड्रो-टेस्टोस्टेरॉन में बदल जाता है। जिसके चलते डिहाइड्रो-टेस्टोस्टेरॉन बालों को पतला और कमजोर कर देता है। आमतौर पर हार्मोंस में यह बदलाव करने वाले एंजाइम इंसान में उसे उसके जींस से मिलते हैं। इसी कारण गंजेपन को आनुवांशिक भी माना जाता है।

महिलाओं में बहुत कम होता है टेस्टोस्टेरॉन


महिलाओं में भी टेस्टोस्टेरॉन पाया जाता है मगर इसकी मात्रा बहुत कम होती है। जब ये महिलाओं में अधिक स्रावित होता है तो महिलाओं में अनचाहे बालों की अधिक मात्रा में आने की समस्या पैदा होती है। महिलाओं के शरीर में मुख्य रूप से एस्ट्रोजन हार्मोन होता है।





जो इनके शरीर में टेस्टोस्टेरॉन के डिहाइड्रो-टेस्टोस्टेरोन में बदलने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है। जिसके चलते महिलाओं में बाल झड़ने की समस्या होती है मगर गंजापन नहीं होता।

गर्भावस्था में क्यों झड़ते हैं बाल?


गर्भावस्था में महिलाओं में कई तरह के हार्मोनल बदलाव होते हैं। कई बार जब महिलाओं के शरीर में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन का स्राव बढ़ जाता है, तो बाल झड़ने की समस्या उत्पन्न होती है। इसलिए अक्सर महिलाओं को गर्भावस्था और मेनोपॉज में बाल झड़ने की सामस्य होती है।

क्यों आगे के बाल जल्दी झड़ते हैं?


पुरुषों में बालों के झड़ने का सबसे आम कारण एन्ड्रोजेनेटिक एलोपिका (गंजापन) माना जाता है।

इसे 'पुरुष पैटर्न गंजापन' के रूप में भी जाना जाता हैं, यह दिक्कत बाल पुटिका पर डीहायड्रोटेस्टोस्टेरोने (DHT)हार्मोन के कारण होती हैं। खोपड़ी के सामने का, ऊपर का और मुकुट क्षेत्र DHT को लेकर काफी संवेदनशील होता है।



अगला लेख: Khaab Foundation: खाब फाउंडेशन की पहल दे रही है सैकड़ो मानसिक रोगियों को जीवन जीने की एक नई दिशा



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
02 जनवरी 2019
आजकल का जमाना काफी बदल चुका है और जमाने के साथ साथ लोगों की जीवनशैली भी बदल चुकी है यदि व्यक्ति को किसी भी प्रकार की कोई शारीरिक परेशानी होती है तो वह अंग्रेजी दवाइयों पर निर्भर रहता है हर बीमारी के लिए वह अंग्रेजी दवाइयों का सेवन करता है परंतु भारत में पहले ऐसा नहीं
02 जनवरी 2019
25 दिसम्बर 2018
SEO ब्लॉग और लेख हमारी ऑनलाइन पीआर सेवाओं और सामाजिक मीडिया प्रबंधन का वास्तव में महत्वपूर्ण हिस्सा हैं।SEO ब्लॉग और लेख हमारी ऑनलाइन पीआर सेवाओं और सामाजिक मीडिया प्रबंधन का वास्तव में महत्वपूर्ण हिस्सा हैं।यदि आप भी एक अच्छे SEO लेख लेखक बनना चाहते हैं और अपने आर्
25 दिसम्बर 2018
25 दिसम्बर 2018
मध्य प्रदेश में सियासत का रंग बदले हुए हम सब ने देखा है पिछले 15 सालों से मध्य प्रदेश के तख़्त पर बैठी भारतीय जनता पार्टी को अपना तख़्त छोड़ना पड़ा और इसी के साथ कांग्रेस का वनवास ख़त्म हो गया। वहीँ सत्ता बदलने के बाद जहां लोगों में आशा की नई उम्मीद जाएगी है तो कांग्रेस पर भी बड़ी ज़िम्मेदारी भी आन पढ़ी है।
25 दिसम्बर 2018
02 जनवरी 2019
आजकल का जमाना काफी बदल चुका है और जमाने के साथ साथ लोगों की जीवनशैली भी बदल चुकी है यदि व्यक्ति को किसी भी प्रकार की कोई शारीरिक परेशानी होती है तो वह अंग्रेजी दवाइयों पर निर्भर रहता है हर बीमारी के लिए वह अंग्रेजी दवाइयों का सेवन करता है परंतु भारत में पहले ऐसा नहीं
02 जनवरी 2019
03 जनवरी 2019
जाने रामचरितमानस चौपाई के बारे में:रामायण का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है। रामायण की किताब लगभग हर हिंदू घर में मिलती है। रामायण में हर एक किरदारों का अपना एक अलग महत्व है। रामायण के बारे में ज़्यादातर लोगों को टीवी, सीरियल या राम-लीला देखकर ही जानकारी मिली है। बहुत लोग किताब पढ़कर भी रामायण में निपु
03 जनवरी 2019
25 दिसम्बर 2018
★ नेहरू जी ने #नेशनल हेराल्ड नामक अखबार 1930 में शुरू किया। धीरे-धीरे इस अखबार ने 5000/- करोड़ की संपत्ति अर्जित कर ली। सन् 2000 में यह अखबार घाटे में चला गया और इस पर 90 करोड़ का कर्जा हो गया।★ "नेशनल हेराल्ड" की तत्कालीन डायरेक्टर्स, सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी और मोतीलाल वोरा ने, इस अखबार को यंग इं
25 दिसम्बर 2018
25 दिसम्बर 2018
SEO ब्लॉग और लेख हमारी ऑनलाइन पीआर सेवाओं और सामाजिक मीडिया प्रबंधन का वास्तव में महत्वपूर्ण हिस्सा हैं।SEO ब्लॉग और लेख हमारी ऑनलाइन पीआर सेवाओं और सामाजिक मीडिया प्रबंधन का वास्तव में महत्वपूर्ण हिस्सा हैं।यदि आप भी एक अच्छे SEO लेख लेखक बनना चाहते हैं और अपने आर्
25 दिसम्बर 2018
04 जनवरी 2019
मोटापा आपकी पर्सनालिटी ख़राब करने के साथ साथ कई रोगों का मुख्य कारण भी है। पाचन तंत्र ठीक काम ना करने से वजन कम और ज्यादा होने जैसी परेशानियां होने लगती है।अगर कमर और पेट से मोटापा कम करने के उपाय करने है तो आपको सबसे पहले अपने लाइफ स्टाइल में जरुरी बदलाव करने होंगे जिसमें सबसे ज़रूरी है अपनी डाइट में
04 जनवरी 2019
04 जनवरी 2019
कम कार्बोहायड्रेट युक्त आहार खाने से वजन घटाने में मदद मिलती है। हाल ही के शोध के निष्कर्षों के अनुसार, कम कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन वजन कम रखने में सहायक सिद्ध होती है। यह जांच बीएमजे नामक पत्रिका में सामने आया है और कहा गया है कि कम शक्कर खाने से कैलोरी की मात्रा कम हो... और पढ़ें
04 जनवरी 2019
24 दिसम्बर 2018
आजकल शादियों का सीजन चल रहा है। और किसी भी शादी में छोटी-मोटी भूल-चूक, नाराज़गी होना तो आम बात है। लेकिन जब इन छोटे छोटे बातों का लोग मुद्दा बना देते हैं तो शादी के रंग में भंग पड़ते देर नहीं लगती। जिसके चलते कभी कभी नौबत शादी टूटने तक भी आ जाती है। आपने शादी टूटने के कई कि
24 दिसम्बर 2018
04 जनवरी 2019
2019 लोकसभा चुनावों को लेकर सारी पार्टियां अपने जीत की जद्दोज़हद में लग गए हैं। इस बार पूरा विपक्ष एक होता दिख रहा है वहीं मोदी सरकार की मुश्किलें बढ़ती दिखाई दे रही हैं। लेकिन एक कहावत है कि जंगल में एक ही शेर होता है और भाजपा इस वाक्य को सही साबित करने में लगी हुई है। इसी के चलते अभी बाकि पार्टियां
04 जनवरी 2019
31 दिसम्बर 2018
2019 की शुरुआत होने जा रही है और हर किसी के दिमाग में बस यही चल रहा होगा कि कैसा होगा ये नया साल।व्यक्ति के जीवन में राशियों का बड़ा महत्व माना गया है राशियों के आधार पर किसी भी व्यक्ति के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है व्यक्ति को आने वाले समय में किन किन परिस्थितियों का सामना करना पड़ेगा इन स
31 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
यूनेस्को द्वारा नालंदा यूनिवर्सिटी को वर्ल्ड हेरिटेज साइट का दर्ज़ा दिया गया ।'नालंदा' नाम की उत्पत्ति 3 संस्कृत शब्दों के संयोजन से हुई: "ना", "आलम" और "दा", जिसका अर्थ है 'ज्ञान के उपहार को ना रोकना'।न
26 दिसम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x