संतरे के छिलकों को ना करें फेकने की भूल, होंगे यह नुकसान

15 जनवरी 2019   |  मिताली जैन   (166 बार पढ़ा जा चुका है)

संतरे के छिलकों को ना करें फेकने की भूल, होंगे यह नुकसान

सर्दियों में लोग संतरे का सेवन काफी अधिक मात्रा में करते हैं, लेकिन अक्सर देखने में आता है कि संतरा खाने के बाद लोग इसके छिलके को यूंही बाहर फेंक देते हैं| पर क्या आप इस बात से वाकिफ हैं कि संतरे की ही तरह उसके छिलके भी सेहत सौंदर्य दोनों के लिए बेहद लाभदाई होते हैं| तो चलिए आज हम आपको संतरे के छिलकों से होने वाले कुछ ऐसे लाभों के बारे में बताते हैं जिन्हें जानने के बाद फिर शायद आप दोबारा संतरे के छिलके फेकने की भूल ना करें-


ब्लड प्रेशर को करे कंट्रोल


संतरे के छिलके में एस्परजिडिन नामक एक फ्लेवोनॉयड्स पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने में काफी मदद करता है इसलिए अगर आप संतरे के छिलके का इस्तेमाल करते हैं तो इससे उच्च रक्तचाप बैड कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्याओं से निजात मिलती है


एलर्जी से होता है बचाव


मनुष्य के शरीर में एलर्जी का एक मुख्य कारण हिस्टामाइन नामक रसायन होता है लेकिन संतरे के छिलके में कुछ ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो इसे रोकने में मददगार होते हैं| इसलिए अगर किसी को एलर्जी की समस्या है तो संतरे के छिलके उसके लिए काफी लाभदायक साबित हो सकते हैं|


कैंसर का खतरा करें कम


बहुत से अध्ययन इस बात की ओर इशारा करते हैं कि संतरे के छिलके में पाए जाने वाले फ्लेवोनॉयड्स कैंसर के रिस्क को कम करने में काफी मददगार हैं| इसके अतिरिक्त संतरे के छिलके में लिमोनेने नामक एक कंपाउंड पाया जाता है, यह भी कैंसर के खतरे को काफी हद तक कम करता है| वैसे संतरे के छिलकों के अतिरिक्त भी अन्य सिट्रस फलों के छिलके कैंसर को रोकने में काफी हद तक प्रभावशाली साबित हो सकते हैं|


फेफड़े बनाए बेहतर


चूँकि संतरे के छिलके में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है इसीलिए यह कंजेशन को दूर करके फेफड़ों को क्लीन करने का काम करता है और शायद यही कारण है कि सर्दियों में इसे खाना काफी अच्छा माना जाता है क्योंकि यह ठंड फ्लू जैसी बीमारियों से रक्षा करने में काफी मददगार है


मधुमेह रोगियों के लिए लाभदायक


संतरे के छिलके में पेक्टिन नामक एक फाइबर पाया जाता है जो रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने का काम करता है| यहां तक कि बहुत से अध्ययन इस बात की ओर इशारा भी करते हैं कि किस तरह यह पेक्टिन नामक फाइबर मधुमेह के उपचार में बेहद लाभदायक होता है|


वजन करें कम


अगर आप अपने बढ़ते वजन से परेशान हैं और उसे कम करने की चाह रखते हैं तो संतरे के छिलके इसमें आपकी काफी मदद कर सकते हैं| संतरे के छिलकों में पाया जाने वाला विटामिन सी शरीर में जमा फैट को कम करने में मदद करता है| वही मोटापे से ग्रस्त व्यक्तियों को संतरे का सेवन भी अवश्य करना चाहिए क्योंकि इसमें कैलोरी बहुत कम होती है इसलिए निश्चिंत होकर इसका सेवन किया जा सकता है और इसमें पाया जाने वाला डाइटरी फाइबर आपको लंबे समय तक होने का एहसास कराता है जिससे आप अतिरिक्त कैलोरी का सेवन करने से बच जाते हैं|


नजरें होंगी तेज़


संतरे के छिलके में लिमोनेन, डिकानल और साइट्राल जैसे योगिक पाये जाते हैं जो नज़रों को तेज़ करने का काम करते हैं, इसके अतिरिक्त संतरे के छिलके के एंटी इन्फ्लैमटरी तत्व आँखों के संक्रमण से लड़ते हैं जिससे आँखों की रोशनी बेहतर होती हैं |

बेहतर बनाए पाचन तंत्र


संतरे के छिलके में पाया जाने वाला फाइबर पाचन तंत्र को बेहतर तरीके से काम करने के लिए प्रोत्साहित करता है इतना ही नहीं अध्ययन से यह भी पता चला है कि खट्टे फल आम तौर पर पाचन तंत्र को बेहतर बनाते हैं तथा पाचन तंत्र संबंधी विकारों को दूर करने में भी काफी मददगार होते हैं


दांतों की करे रक्षा


संतरे के छिलके की एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज दांतो से संबंधित परेशानियों से निजात दिलाने में मदद करती है इतना ही नहीं अगर आप चाहे तो संतरे के छिलके की मदद से अपने पीले दांतो की समस्या से छुटकारा पा सकते हैं दरअसल संतरे के छिलके में पाए जाने वाला न्यू नेम दांतो को नेचुरल तरीके से सफेद बनाने का काम करता है|अगर किसी को सांस की दुर्गंध के कारण परेशानी होती है, उनके लिए संतरे के छिलके लाभदायी हैं। दरअसल, संतरे के छिलके कैविटीज से लड़ने में मदद करते हैं और सांसों को तरोताजा बनाते हैं।


स्किन करेगी ग्लो


दुनिया में ऐसा कौन व्यक्ति होगा जो एक बेहतरीन ग्लोइंग स्किन पाने की चाह ना रखता हो अगर आपका नाम भी ऐसे ही लोगों की लिस्ट में शुमार है तो संतरे के छिलके का प्रयोग अवश्य करें संतरे के छिलके ब्लड से लेकर डेड स्किन सेल्स एक्ने और ब्लैक जैसी समस्याओं से आसानी से छुटकारा दिलाते हैं इतना ही नहीं है आपके चेहरे पर प्राकृतिक तौर पर चमक भी लेकर आते हैं कमाल के लिए ऑफिस में दूध या दही भी मिला सकते हैं ऐसा करने पर शरीर के शरीर में मौजूद टैनिंग भी खत्म होती है|


दूर करे हैंगओवर


अगर रात की पार्टी के बाद आपको हैंगओवर हो गया है तो उसके लिए भी संतरे के छिलके की मदद ली जा सकती है।इसके लिए पानी में करीबन 15 से 20 मिनट के लिए संतरे के छिलकों को उबालें और फिर उसे छानकर चाय की तरह पीएं।


प्रतिरक्षा तंत्र को बनाए मजबूत


चूंकि संतरे के छिलके में विटामिन सी और विटामिन ए पाया जाता है, जो एक प्राकृतिक एंटी-आॅक्सीडेंट माना गया है। जिसके कारण यह प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत बनाने का काम करते हैं। इससे व्यक्ति के शरीर को कीटाणुओं व वायरस से लड़ने में मदद मिलती है।


ठीक करे अस्थमा


आपको शायद जानकर हैरानी हो लेकिन संतरे के छिलके अस्थमा को ठीक करने में भी प्रभावी हो सकता है। संतरे के छिलके कफ को दूर करता है, जिसके कारण अस्थमा के मरीजों को काफी राहत मिलती है।


अगला लेख: पेट में हो गई है गैस, अपनाएं यह उपाय



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
25 जनवरी 2019
जीरे के बिना सब्जी में तड़का भी नहीं लगता। यह भोजन का स्वाद बढ़ाने के लिए ही इस्तेमाल नहीं किया जाता, बल्कि यह स्वास्थ्य के लिए भी उतना ही लाभकारी होता है। जीरा शरीर के सभी अंगों के लिए फायदेमंद है और इसके गुणों के कारण ही भारतीय किचन में इसका एक अलग महत्व है। भोजन के अतिरिक्त भी इसे अन्य कई तरीकों से
25 जनवरी 2019
13 जनवरी 2019
सर्दियों के मौसम में अदरक का सेवन काफी मात्रा में किया जाता है। फिर चाहे बात सुबह की चाय की हो या फिर दोपहर के खाने की, अदरक के बिना भोजन का वह स्वाद ही नहीं आता। इतना ही नहीं, ठंड के मौसम में अदरक का सेवन शरीर के तापमान को भी बनाए रखने का काम करता है। लेकिन क्या आप इस बात से वाकिफ हैं कि अदरक एक बे
13 जनवरी 2019
06 जनवरी 2019
नींबू की गिनती एक स्वास्थ्यवर्धक पेय पदार्थ में की जाती है। अगर कोई बढ़ते वजन से परेशान है तो उसे सुबह उठकर खाली पेट नींबू पानी पीने की ही सलाह दी जाती है। जहां नींबू में मौजूद विटामिन सी इम्युन सिस्टम को मजबूत बनाने के साथ अन्य कई तरह के लाभ प्रदान करता है। अक्सर देखने में आता है कि लोग इसके लाभों क
06 जनवरी 2019
03 जनवरी 2019
कपकपाती ठंड अपने साथ कई तरह की बीमारियां लेकर आती हैं। खासतौर से, इस मौसम में खांसी-जुकाम होना बेहद आम है। फिर चाहे बात बच्चों की हो या बड़ों की, हर किसी को इस सर्दी के मौसम में खांसी-जुकाम उन्हें अपनी जद में ले ही लेता है। यह एक आम बीमारी होने के बावजूद भी काफी तकलीफदेह होती है। नाक बंद होने की स्थि
03 जनवरी 2019
21 जनवरी 2019
जिंदगी एक धारा है. जब बहता रहें तो स्वच्छ निर्मल और पारदर्शक रहता है . जब लयबद्द और संगीतमय हो तो आनदं के परम सीमा में रहती है और हमें उसी दिशा में अपने जीवन को बहते ले जाना है ताकि अंत में परमात्मा स्वरूपी महासागर में विलय होजाये .
21 जनवरी 2019
08 जनवरी 2019
मासिक धर्म हर स्त्री के शरीर का एक नेचुरल प्रोसेस है, लेकिन फिर भी बहुत सी महिलाओं को पीरियड के दौरान असहनीय कष्ट व पीड़ा का सामना करना पड़ता है। आमतौर पर महिलाएं माहवारी के दर्द के दौरान पेनकिलर्स लेती हैं या सिर्फ आराम करना ही पसंद करती हैं। वहीं कुछ महिलाएं इस असहनीय दर्द के साथ चार-पांच दिन गुजार
08 जनवरी 2019
06 जनवरी 2019
नींबू की गिनती एक स्वास्थ्यवर्धक पेय पदार्थ में की जाती है। अगर कोई बढ़ते वजन से परेशान है तो उसे सुबह उठकर खाली पेट नींबू पानी पीने की ही सलाह दी जाती है। जहां नींबू में मौजूद विटामिन सी इम्युन सिस्टम को मजबूत बनाने के साथ अन्य कई तरह के लाभ प्रदान करता है। अक्सर देखने में आता है कि लोग इसके लाभों क
06 जनवरी 2019
11 जनवरी 2019
ठंड के मौसम में खान-पान में काफी बदलाव आ जाता है। इस कड़कड़ाती ठंड में लोग मीठा खाना ज्यादा पसंद करते हैं। लेकिन जरूरत से ज्यादा मीठा सेहत के लिए अच्छा नहीं माना जाता। अगर आपको इस मौसम में अक्सर मीठे की तलब लगती है तो डाइट में रिफांइड शुगर के स्थान पर गुड़ को जगह दें। गुड़ में कैल्शियम, फास्फोरस, मैग्नी
11 जनवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x