घर पर गर्भावस्था की जांच (प्रेग्नेंसी टेस्ट) कैसे करे

07 फरवरी 2019   |  श्रीमती अर्चना श्रीवास्तव   (12 बार पढ़ा जा चुका है)

घर पर गर्भावस्था की जांच (प्रेग्नेंसी टेस्ट) करने से आपके पेशाब में गर्भावस्था के हॉर्मोन ह्यूमन कोरियोनिक गोनाडोट्रोफिन की मौजूदगी का पता चलता है। अधिकांश टेस्ट माहवारी चूकने के पहले दिन ही आपको बता सकते हैं कि आप गर्भवती हैं या नहीं। अधिक संवेदनशील जांचे तो आपकी माहवारी की नियत तिथि से कुछ दिन पहले भी एच.सी.जी. के कम स्तर का पता लगा सकती हैं।

बहुत से टेस्ट में केवल टेस्ट स्टिक पर पेशाब करना होता है। वहीं, कुछ अन्य में आपको पहले पेशाब को एक छोटे कप में इकट्ठा करना होता है, और फिर टेस्ट स्ट्रिप को उसमें डुबोना होता है। जांच किट के साथ आए निर्देशों को देखें, लेकिन आमतौर पर जांच परिणाम तीन से पांच मिनट के अंदर पता चल जाने चाहिए। कुछ ऐसा ही गर्भावस्था जांच परिणाम है। देखते रहने से वह इंतजार और भी लंबा और मुश्किल लगता है।

गर्भावस्था जांच किट कहां से खरीदी जा सकती है?
आप बिना डॉक्टर की पर्ची के प्रेग्नेंसी जांच किट अधिकांश दवा की दुकानों से खरीद सकती हैं। आप इन्हें आॅनलाइन भी खरीद सकती हैंं।

घर पर गर्भावस्था जांच किट का इस्तेमाल कैसे करुं?
पहले, दिए गए निर्देशों को ध्यानपूर्वक पढ़ें, क्योंकि हर अलग ब्रांड के निर्देश भी अलग हो सकते हैं।

बहुत से टेस्ट में केवल टेस्ट स्टिक पर पेशाब करना होता है। वहीं, कुछ अन्य में आपको पहले पेशाब को एक छोटे कप में इकट्ठा करना होता है, और फिर टेस्ट स्ट्रिप को उसमें डुबोना होता है। या फिर आपको साथ में ड्रॉपर दिया जा सकता है, ताकि टेस्ट स्टिक पर पेशाब का थोड़ा सा नमूना डाला जा सके।

जांच का परिणाम किस तरह दर्शाया जाता है इसमें भी अंतर हो सकता है। कुछ टेस्ट में गुलाबी या नीली रेखाएं दिखाई देती हैं। कुछ अन्य में प्लस या माइनस के निशान या फिर पेशाब के नमूने के रंग में बदलाव आता है। डिजिटल टेस्ट में “प्रेग्नेंट” या “नॉट प्रेग्नेंट” लिखा हुआ आ जाता है और कुछ में तो यह भी अनुमान दिया होता है कि आपने कितने सप्ताह पहले गर्भाधान किया था।

अगला लेख: अटल टिंकरिंग लैब (ATL) क्या है?



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
06 फरवरी 2019
मन्वन्तर एक संस्कॄत शब्द है, जिसका संधि-विच्छेद करने पर = मनु+अन्तर मिलता है। इसका अर्थ है मनु की आयु. प्रत्येक मन्वन्तर एक विशेष मनु द्वारा रचित एवं शासित होता है, जिन्हें ब्रह्मा द्वारा सॄजित किया जाता है। मनु विश्व की और सभी प्राणियों की उत्पत्ति करते हैं, जो कि उनकी आयु की अवधि तक बनती और चलती र
06 फरवरी 2019
09 फरवरी 2019
मौन की महिमा अपरंपार है, इसके महत्व को शब्दों के जरिए अभिव्यक्त करना संभव नहीं है।प्रकृति में सदैव मौन का साम्राज्य रहता है। पुष्प वाटिका से हमें कोई पुकारता नहीं, पर हम अनायास ही उस ओर खिंचते चले जाते हैं। बड़े से बड़े वृक्षों से लदे सघन वन भी मौन रहकर ही अपनी सुषमा से सारी वसुधा को सुशोभित करते है
09 फरवरी 2019
08 फरवरी 2019
जिस प्रकार पौधा लगाने से पहले बीज आरोपित किया जाता है उसी प्रकार के युवा लड़के-लड़कियों के मन में दाम्पत्य जीवन के संबंधों के भावों को पैदा करने के लिए विवाह पूर्व ही अनेक संस्कार आरोपित किए जाते हैं। यद्यपि वे सारे के सारे विवाह के ही अंग माने जाते हैं। जैसे-हल्दी चढ़ाना, तैल चढ़ाना, कन्या पूजन, गाना ब
08 फरवरी 2019
09 फरवरी 2019
बजरंग बाण. जिस भी घर,परिवार में बजरंग बाण का नियमित पाठ,अनुष्ठान होता है वहां दुर्भाग्य, दारिद्रय,भूत-प्रेत का प्रकोप और असाध्य रोग,शारीरिक कष्ट कभी नहीं सताते। बजरंग बाण में पूरी श्रद्धा रखने और निष्ठापूर्वक उसके बार बार दोहराने से हमारे मन में हनुमान जी की शक्तियां जमने लगती हैं। शक्ति के विचारों
09 फरवरी 2019
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x