से सम्बंधित लेख निम्नलिखित है :-

बल बुद्धि विद्या निधान श्री हनुमान

बल बुद्धि विद्या निधान श्री हनुमान डॉ शोभा भारद्वाज ब्रम्हा सृष्टि का निरंतर निर्माण कर रहे थे | सृष्टि निर्माण से लेकर अब तक जीवन को चलाने वाली वायू प्राणियों के जीवन काआधार है जीवधारी हवा में साँस लेते है वृक्ष एवं पेड़ पौधे वायु को शुद्ध करते हैं |मंद पवन बह रही



सेहत के लिए वरदान समान है करेला

करेले स्वाद में भले ही कड़वा हो लेकिन इसके लाभ अनगिनत हैं। कुछ लोग महज इसके कड़वे स्वाद के चलते करेले को डाइट में शामिल नहीं करते। लेकिन अगर आप इसकी सब्जी या जूस का नियमित रूप से सेवन करते हैं तो बहुत सी बीमारियों को अपने पास फटकने से भी रोक सकते हैं। तो चलिए जानते हैं करेले के सेवन से स्वास्थ्य को हो



चौहान ,परमार ,प्रतिहार,सोलंकी शकृत,शबर,पोड्र,किरात,सिंहल,खस,द्रविड,पह्लव,चिंबुक, पुलिन्द, चीन , हूण,तथा केरल आदि जन-जातियों की काल्पनिक व्युत्पत्तियाँ- प्रस्तुति-करण :–यादव योगेश कुमार "रोहि"

भविष्य पुराण में मध्यम पर्व के बाद प्रतिसर्ग पर्व चार खण्डों में है । भविष्य पुराण निश्चित रूप से 18 वीं सदी की रचना है । अत: इसमें आधुनिक राजनेताओं के साथ साथ आधुनिक प्रसिद्ध सन्तों महात्माओं का वर्णन भी प्राप्त होता है । _______________________________________ प्रारम्भिक रूप में राजा प्रद्योत कुरु


निराभिनता का उदाहरण हनुमान जी -- आचार्य अर्जुन तिवारी

*इस समस्त विश्व में जन जन के मनोमस्तिष्क में भारतीयता , बुद्धिमत्ता , वीरता , दासता , कुशलता एवं चातुर्य का प्रतीक माने जाने वाले पवनपुत्र , केशरीनन्दन , रामदूत बजरंगबली का चित्र अवश्य अंकित होगा | यदि निराभिमानता (अभिमान रहित) का उदाहरण भारतीय ग्रंथों में ढूँढ़ा जाय तो एक ही चरित्र उभर कर सामने आता



हनुमान जन्मोत्सव :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

*सनातन हिन्दू धर्म के चरित्रों का यदि अवलोकन करके आत्मसात करने का प्रयास कर लिया जाय तो शायद इस संसार में न तो कोई समस्या रहे और न ही कोई संशय | हमारे महान आदर्शों में पवनपुत्र , रामदूत , भगवत्कथाओं के परम रसिया अनन्त बलवन्त हनुमन्तलाल जी का जीवन दर्शन दर्शनीय है | हनुमान जी का जन्मोत्सव मनाने में य



व्यवस्थित मानव सभ्यता के प्रथम प्रकाशक के रूप में ऋग्वेद के कुछ सूक्त साक्ष्य के रूप में हैं ।

भारतीयों में प्राचीनत्तम ऐैतिहासिक तथ्यों का एक मात्र श्रोत ऋग्वेद के 2,3,4,5,6,7, मण्डल है ।आर्य समाज के विद्वान् भले ही वेदों में इतिहास न मानते हों ।तो भीउनका यह मत पूर्व-दुराग्रहों से प्रेरित ही है। यह यथार्थ की असंगत रूप से व्याख्या करने की चेष्टा है परन्तु हमारी मान्यता इससे सर्वथा विपरीत ही ह


आत्मविशवास



वर्ण-व्यवस्था और मनु का ऐैतिहासिक विवेचन एस नवीनत्तम व्याख्या-

वैदिक सन्दर्भों के अनुसार दास से ही कालान्तरण दस्यु शब्दः का विकास हुआ हैं।मनुस्मृति मे दास को शूद्र अथवा सेवक के रूप में उद्धृत करने के मूल में उनका वस्त्र उत्पादन अथवा सीवन करने की अभिक्रिया  कभी प्रचलन में थी।परन्तु कालान्तरण में लोग इस अर्थ को भूल गये।भ्रान्ति वश एक नये अर्थ का उदय हो गया।जिस पर


हनुमाना जयन्ती की हार्दिक शुभकामनाएँ

हनुमान जयन्तीकल चैत्र पूर्णिमा... विघ्नहर्तामंगलकर्ता हनुमान जी की जयन्ती… जिसे पूरा हिन्दू समाज भक्ति भाव से मनाता है... आजरात्री सात बजकर सत्ताईस मिनट से लेकर कल सायं चार बजकर बयालीस मिनट तक चैत्रशुक्ल पूर्णिमा है… मान्यता है कि सूर्योदय काल में हनुमान जी का जन्म हुआ था | कलसूर्योदय पाँच बजकर पावन



नेक्सप्रो आरडी 40 कैप्सूल | Nexpro Rd 40 Capsule In Hindi

नेक्सप्रो आरडी 40 कैप्सूल गैस्ट्रिक अल्सर, नाराज़गी, अम्लता, गैस्ट्रो-इसोफेगल रिफ्लक्स, पेप्टिक अल्सर और हेलिकोबैक्टर पाइलोरी से संक्रमण के इलाज के लिए उपयोग की जाने वाली दवा है। यह एक डोपामाइन विरोधी दवा है जो विभिन्न गैस्ट्रो-आंत्र रोगों से पीड़ित लोगों के लिए मतली और उल्टी को नियंत्रित करता है।ने



व्यक्तित्व निर्माण :--- आचार्य अर्जुन तिवारी

*आदिकाल से समस्त विश्व में भारत को सर्वोच्च स्थान प्राप्त था | यह सर्वोच्च स्थान हमारे देश भारत को ऐसे ही नहीं मिल गया था बल्कि इसके पीछे भारत की आध्यात्मिकता , वैज्ञानिकता एवं संस्कृति / संस्कार का महत्वपूर्ण योगदान था | हमारे देश भारत में प्रारंभ से ही व्यक्ति की अपेक्षा व्यक्तित्व का आदर्श ग्रहण



तिलक का महत्त्व --- आचार्य अर्जुन तिवारी

🌸🌞🌸🌞🌸🌞🌸🌞🌸🌞🌸 *‼ भगवत्कृपा हि केवलम् ‼* 🌻☘🌻☘🌻☘🌻☘🌻☘🌻 *भारतीय सनातन की मान्यतायें एवं परम्परायें सदैव से अलौकिक एवं अद्भुत होने के साथ ही मानव मात्र के लिए सहयोगी व उपयोगी सिद्ध हुई हैं | जिस प्रकार सनातन की सभी मान्यतायें दिव्य रही हैं उसी प्रकार



जानिए खुबानी के गुण और इसके स्वास्थ्य लाभ | Know the Health Benefits of Apricot In Hindi

खुबानी एक प्रकार का गुठलीदार फल जो बहुत स्वादिष्ट होता है अंग्रेजी में इसे Apricot नाम से जाना जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम प्रुनुस आर्मेनियाशा (Prunus Armeniaca) है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से एप्रीकोट यानि की खुबानी Apricot In Hindi के बारें में बताएंगे और इसके सेवन से क्या स्वास्थ्य लाभ होते ह



मैं बिना उत्साहपूर्ण कुछ करने के बजाय घर में बैठना पसंद करूंगी – हेली शाह

हेली शाह अपने नए शो सूफियाना प्यार मेरा के बारे में बात कीनए स्टार भारत शो, सूफियाना प्यार मेरा (एलएसडी फिल्म्स प्राइवेट लिमिटेड) में प्यारी अभिनेता हेली शाह अपनी दोहरी भूमिका के लिए उत्सुक है।https://hindi.iwmbuzz.com/television/celebrities/id-rather-sit-at-home-than-do-something-unexciting-helly-s



बारिश वेब पर एक क्लटर-ब्रेकर है: शरमन जोशी

शरमन जोशी के साथ बातचीतhttps://hindi.iwmbuzz.com/digital/celebrities-digital/baarish-is-a-clutter-breaker-on-the-web-sharman-joshi/2019/04/18



क्या आप जानते है किस करने के फायदे | Do You Know The Benefits of Kiss

किस यानि चुंबन करना मनुष्यों में स्नेह को व्यक्त करने का महत्वपूर्ण तरीका होता है। ज्यादातर लोग अपने पार्टनर के मनमोहक चेहरे को और गालों को चूमना पंसद करते है वहीं ओठों को किस करना सभी प्रेमी जोड़ो की पहली पंसद के रुप में जानी जाती है। लेकिन अधिकतर लोग किस या चुंबन कर



शरमन (जोशी) शरारती है: आशा नेगी

आशा नेगी ने ऑल्ट बालाजी सीरीज बारिश की शूटिंग के अपने अनुभव के बारे में बात कीप्रतिभाशाली और खूबसूरत अभिनेत्री आशा नेगी एक कलाकार के रूप में फिर से जादू बुनने के लिए तैयार हैं, और इस बार, यह वेब पर है।आशा, जो पवित्रा रिशता (ज़ी टीवी) में मुख्य भूमिका निभा रही हैं, को ऑल्ट बालाजी की बारिश में एक महत्



अमेज़ॅन प्राइम के लाखों में एक सीजन 2 की समीक्षा: एक दलित कहानी जहां वास्तविकता है … कड़वी

आई डब्लू एम बज लाखों में एक सीज़न 2 की समीक्षा करता है, एक सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल में गहरे भ्रष्टाचार का एक शक्तिशाली अभियोग से निहित हैhttps://hindi.iwmbuzz.com/digital/editorial-digital/review-of-amazon-primes-laakhon-mein-ek-season-2-an-underdog-story-where-reality-bites-hard/2019/04/17



त्वचा में निखार लाती है मुल्तानी मिट्टी का फेस पैक - Multani Mitti Face Pack

Multani Mitti Face Pack- हर किसी को अपने चेहरे की फिक्र होती है फिर वो लड़का हो या लड़की हो. हर किसी को अपनी त्वचा का ख्याल रहता है और उसके लिए कई जतन भी करते हैं.खासकर लड़कियों को अपनी त्वचा को लेकर अलग ही क्रेज होता है और वे त्वचा को चमताने के लिए अलग-अलग चीजें करती हैं. एक चीज जो हर लड़कियों में



यह एक अद्भुत यात्रा रही है: इश्क में मरजावां से निकलने पर आलिशा पंवार

आलिया पंवार ने इश्क में मरजावां से बाहर निकलने के बारे में बात की टीवी कलाकारों के दायरे में आने वाली नई खोज आलिशा पंवार ने अपने शो इश्क में मरजावां में, से अपनी विदाई ली।लगभग डेढ़ साल के सफल कार्यकाल के बाद, अभिनेत्री ने आगे बढ़ने का फैसला किया है।https://hindi.iwmbuzz.com



आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x