से सम्बंधित लेख निम्नलिखित है :-

अपने संदेशों को निजी कैसे बनाएं?

एक बिल्कुल सुरक्षित, एन्क्रिप्टेड संदेश अनुप्रयोग, कुछ के लिए पवित्र कंघी बनानेवाले की रेती, सेवा उच्च स्तर की सुरक्षा प्राप्त करने का आश्वासन देती है जो आमतौर पर जांच के तहत विघटित होती है।सरकारी अधिकारी आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई के दौरान इस्तेमाल की जाने वाली सुरक्षा कारणों से विशाल तकनीकी कंपनियों क



ख़ूबसूरत वियना की बाहों में - डॉ दिनेश शर्मा

डॉ दिनेश शर्मा का यात्रा वृत्तान्त... हमेशा की तरह एक ख़ूबसूरतशब्दचित्र...खूबसूरत वियना की बाहों में : दिनेश डॉक्टरविएना पहुंचा तोलगा जैसे विएना शहर नही एक खूबसूरत लड़की है जिसने मुझे आगे बढ़कर अपनी बाहों में भरलिया है| सबसे पहले उतर करपूछताछ खिड़की पर गया और लोकल ट्रामों, ट्रेनों और अंडरग्राउंड ट्यूब र



आत्मसंयम :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

*इस धरती पर जन्म लेने के बाद मनुष्य एक लंबे समय तक जीवन जीता है और इस जीवन काल में जीवन को सुचारू रूप से चलाने के लिए मनुष्य को अनेक संसाधनों की आवश्यकता पड़ती है | जितनी आवश्यकता मनुष्य को भौतिक संसाधनों की पड़ती है उतनी ही आवश्यकता आंतरिक संसाधनों की भी होती है , मात्र भौतिक संसाधनों के बल पर इस ज



खिचड़ी बनाम बिरयानी

"खिचड़ी बनाम बिरयानी "(व्यंग्य)"मालिन का है दोष नहीं ,ये दोष है सौदागर का जो भाव पूछता गजरे का और देता दाम महावर का" ऐसा ही कुछ आजकल के धरना प्रदर्शनों का है जो किसी अन्य वजहों की वजह चर्चा में आ जाते हैं बजाय उसके जो वजह उन्होंने चुनी है ।धरना ,वैचारिक मतभेदों को लेकर है



गुम इंसान की खोज लाश दिखाकर!

गुम इंसान की खोज लाश दिखाकर!(वेणोन्गिल चक्का वे-रेलुम कायकिम)यह एक मलयालम कहावत है जिसका हिन्दी अनुवाद है - चाहे तो कटहल(जेक फ्रूट) जड़ों में भी लग सकता है. इस कहावत का उपयोग हम यहां उस पुलिस व्यवस्था पर कर रहे हैं जो बहत्तर वर्ष पूर्व के अंग्रेज शासनकाल से बस यूं ही चली आ रही है अगर वह चाहे तो



आजादी

राजनीतिक आजादी का कोई मोल है।आर्थिक आजादी अब तक रे गोल है।।खाली खजाना भर चलवाया जिनने,उनकी हीं होती सुहावनी हर भोर है।फूटपाथ से चुन खाये- जिनने तिनके,उनकी चौलों की छतों में कई होल हैं।।'आइ. पी. सी.' रट उतार लिया बचके,"अथर्व वेद" की ऋचाएँ सारी गोल हैं।अमीरों की उठ रही नित अट्टालिकायें,साधु चले



हमारा संविधान :--+ आचार्य अर्जुन तिवारी

*प्राचीनकाल में हमारे देश भारत में राजाओं का शासन होता था , जो कि कुल परंपरा के अनुसार चला करता था | राजा के चुनाव में प्रजा का कोई अर्थ नहीं होता था | आदिकाल से लेकर के अंग्रेजों के शासन तक यही परंपरा चलती रही जिसे राजतंत्र कहा गया है , परंतु जब हमारे देश के स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के अथक परिश



२७ जनवरी से २ फरवरी तक का राशिफल

गणतन्त्र दिवस की हार्दिक बधाई औरशुभकामनाओं के साथ प्रस्तुत है इस सप्ताह का सम्भावित राशिफल...नीचे दिया राशिफल चन्द्रमा की राशि परआधारित है और आवश्यक नहीं कि हर किसी के लिए सही ही हो – क्योंकि लगभग सवा दो दिनचन्द्रमा एक राशि में रहता है और उस सवा दो दिनों की अवधि में न जाने कितने लोगोंका जन्म होता है



गणतन्त्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ

गणतन्त्र दिवस की हार्दिकबधाई एवं शुभकामनाएँअल्पानामपिवस्तूनां संहति: कार्यसाधिकातॄणैर्गुणत्वमापन्नैर्बध्यन्तेमत्तदन्तिन:।। हितोपदेश 1/35छोटीछोटी वस्तुओं को भी यदि एक स्थान पर एकत्र किया जाए तो उनके द्वारा बड़े से बड़ेकार्य भी किये जा सकते हैं | उसी प्रकार जैसे घासके छोटे छोटे तिनकों से बनाई गई डोर से



खूबसूरत वियना की बाहों में : दिनेश डॉक्टर

विएना पहुंचा तो लगा जैसे विएना शहर नही एक खूबसूरत लड़की है जिसने मुझे आगे बढ़कर अपनी बाहों में भर लिया है। सबसे पहले उतर कर पूछताछ खिड़की पर गया और लोकल ट्रामों, ट्रेनों और अंडर ग्राउंड ट्यूब रेलवे के बारे में जानकारी ली । पता लगा कि विएना शहर के भीतर सब प्रकार के पब्लिक ट्रांसपोर्ट में निर्विघ्न जितन


भारत में आईयूआई की लागत

विदेशों की तुलना में भारत में आईयूआई की लागत काफी कम है। भारत में एक चक्र के लिए iui लागत की शुरुआत अनुमानित रूप से करीब 3000 रुपये से होती है। आईयूआई उपचार के एक चक्र का ख़र्च 5000 से 10000 रूपए तक होता है जिसमें आईयूआई प्रक्रिया से पहले होने वाले अल्ट्रासाउंड, दवाईयाँ, इंजेक्शन आदि भी शामिल हैं। ले



हमारा गणतन्त्र दिवस :--- आचार्य अर्जुन तिवारी

*किसी भी परिवार , समाज एवं राष्ट्र को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए नियम एवं संविधान की आवश्यकता होती है , बिना नियम एवं बिना संविधान के समाज एवं परिवार तथा कोई भी राष्ट्र निरंकुश हो जाता है | इन्हीं तथ्यों को ध्यान में रखते हुए अंग्रेजों की दासता से १५ अगस्त सन १९४७ को जब हमारा देश भारत स्वतंत्



मरने से डरता नहीं

आज कल बड़ी शोर है ,एक तकिया कलाम का ,मरने से डरता नहीं ,कोई मुसलमान यहां ,पर आओ करें ,कुछ जिवंत साक्षात्कार ,देखा हमने छिपते भागते ,सद्दाम को बंकर में यहा ,खौफ में अमेरिका के ,चेहरे बदलते यहां ,देखा हमने भागते ,रोहिंण्या को बर्मा से यहां ,पनाह मांगते भारत में ,छुपाते अपने कुकर्मों को यहां ,आज कल बड़


टेस्ट

टेस्ट



अंतिम दिन

सफर का पयाम होगा,अंतिम वो विराम होगा।श्वांस भी होगी मद्धिम,जब महाप्रयाण होगा।वो दिन आखिरी होगा.....!!!लिखती कलम शब्द जो,वो पृष्ठ भी अंतिम होगा।भाव,कल्पना मर्म सब,सदृश्य जब प्रतीत होगा।वो दिन आखिरी होगा.....!!!देह थामेगी निष्क्रियता,होगी धड़कन निस्तारित।दृश्य सब होंगे गमगीन,द्रुतयान होगा संचालित।वो दि



सहिष्णुता :-- आचार्य अर्जुन तिवारी

*मानव जीवन में प्राय: एक शब्द सुनने को मिलता है सहिष्णुता एवं असहिष्णुता | आज यह शब्द अधिकतर प्रयोग किया जा रहा है , तो इसके विषय में जान लेना परम आवश्यक है कि सहिष्णुता कहा किसे कहा जाता है | सहिष्णुता का तात्पर्य है सहनशीलता ! किसी दूसरे के विचारों से सहमत ना होने के बाद भी उसे समझना एवं उसका सम्



Counseling क्या है करियर के लिए जानना जरूरी

एक अच्छे करियर के लिए काउंसेलिंग के बारे में जानकारी होना जरूरी है। Counseling kya hai career ke liye janna jaruriCounseling एक ऐसा शब्द है जिसे सुनते ही बहुत से स्टूडेंट घबरा जाते हैं और बहुत को तो काउंसेलिंग का मतलब ही नही पता है। जानकारों का कहना है कि छात्र का करियर सह



यालाच देशप्रेम म्हणतात का?

आज अभिव्यक्ती स्वातंत्र्याच्या नावावर धर्मनिरपेक्ष देशात आपण स्वतःची दयनीय अवस्था करून घेत आहोत व देशाचीही. उच्चशिक्षित तथाकथित भारतीय तरुण( तथाकथित यासाठी म्हणत आहे की त्याच्या कृतीतून विचारातून राष्ट्रभक्ती मुळीच दिसत नाही)कदाचित प्रसिद्धीसाठी काहीही विचार न करता सोशल मीडियावर ट्विट करतो. आपले मत



गुरुर

गुरूर जिश्म ओ' हुनर का बेकार हो जाएगा।झुर्रियों से टपकता इश्क हीं---- रंग लाएगा।।निर्मल



सज चुका है रणक्षेत्र

सज चुका है रणक्षेत्र ,बज रहा है रणनाद ,आंखें खोलो चेत धरो ,सुनो ये पृथ्वीराज चौहान ,कहीं पछताना न पड़े ,समय चुक जाने के बाद ,बहुत दिखाईं तुने दया ,करुणा संस्कार धर सहिष्णुता ,क्या मिला ?प्रश्न यक्ष है करना विचार ,सज चुका है रणक्षेत्र ,बज रहा है रणनाद ,भूल होना ,माना चूक है जीवन का ,पर ये होता नहीं स


आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x