अमर शहीद के नाम --

15 अगस्त 2018   |  रेणु   (56 बार पढ़ा जा चुका है)

अमर शहीद के नाम --   - शब्द (shabd.in)

जब तक हैं सूरज चाँद --

अटल नाम तुम्हारा है ,

ओ ! माँ भारत के लाल !

अमर बलिदान तुम्हारा है !!-


आनी ही थी मौत तो इक दिन --

जाने किस मोड़ पे आ जाती.-

कैसे पर गर्व से फूलती , -

मातृभूमि की छाती ;-

दिग -दिंगत में गूंज रहा आज--

यशोगान तुम्हारा है !!

ओ ! माँ भारत के लाल !

अमर बलिदान तुम्हारा है !!


धन्य हुई आज वो जननी -

तुम जिसके बेटे हो ,-

बना दिया मौत को उत्सव --

तिरंगे में लिपट घर लौटे हो ;-

कल थे एक गाँव - शहर के --

अब हिंदुस्तान तुम्हारा है !!-


ओ ! माँ भारत के लाल !-

अमर बलिदान तुम्हारा है !!


अत्याचारी कपटी दुश्मन

छिपके घात लगाता ,-

नामों निशान मिटा देते उसका --

जो आँख से आँख मिलाता ;-

पराक्रम से फिर भी सहमा --

दुश्मन हैरान तुम्हारा है -


-ओ ! माँ भारत के लाल !-

अमर बलिदान तुम्हारा है !!!!!!!!!!!


नमन ! नमन ! नमन !!!!!!!!!!!


कृपया मेरे ब्लॉग पर पधारे --

क्षितिज ---- renuskshitij.blospot.com

मीमांसा --- mimansarenu550.blogspo

-सादर

अगला लेख: सावन की सुहानी यादें -- लेख -



धन्य हुई आज वो जननी तुम जिसके बेटे हो,-बना दिया मौत को उत्सव तिरंगे में लिपट घर लौटे हो;...माँ भारती के सच्चे सपूत, जिसने सदा देश को प्रथम रखा मेरी भावभीनी अश्रुपूर्ण श्रद्धांजलि तथा ऐसे ओजस्वी व्यक्तित्व को करबद्ध शत शत नमन,...भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री माननीय श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी को यह रचना एक उत्कृष्ट भावभीनी श्रद्धांजलि है आपकी आदरणीया रेणु जी |

रेणु
27 अगस्त 2018

सस्नेह आभार प्रिय मनोज

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
14 अगस्त 2018
नई दिल्ली: 15 August, 2018: भारत में 72वें स्वतंत्रता दिवस (72nd Independence Day) का जश्न मनाया जा रहा है. स्वतंत्रता दिवस (Independence Day 2018) के मौके पर लाल किले की प्राचीर से जब प्रधानमंत्री तिरंगा लहराते हैं तो हर भारतीय का सिर गर्व से ऊंचा हो जाता है. 1947 में भा
14 अगस्त 2018
11 अगस्त 2018
शनिवार 11 अगस्त को अमित शाह की कोलकाता के मेयो रोड पर रैली होनी है लेकिन रैली से पहले कोलकाता में बीजेपी और टीएमसी के बीच पोस्टर वॉर शुरू हो गया है| सभा स्थल में अबजगह तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी की तस्वीरों वाले पोस्टरों और बैनरों को लगा दिया गया है|सभा अमित शाह की
11 अगस्त 2018
06 अगस्त 2018
ये
Ye Dharati Ye Ambar Jab Se Teraa-meraa Prem Hai Tabase Lyrics of Prem : Ye Dharati Ye Ambar Jab Se Teraa-meraa Prem Hai Tabase is a beautiful hindi song from 1995 bollywood film Prem. This song is composed by Laxmikant and Pyarelal. Alka Yagnik and Nalin Dev has sung this song. Its lyrics are writte
06 अगस्त 2018
02 अगस्त 2018
मोक्ष / नाश है अहं का...अहं क्या है ?मनुष्य के सुखी होने की अनुभूति ?या फिर दर्द का अहसास ?किसी का अपना होने की राहत ?या फिर पराया होने का दर्द ? लेकिन दुःख में भी तो है कष्ट का आनन्द...अपनेपन से ही तो उपजता है परायापन क्योंकि एक ही भाव के दो अनुभाव हैं दोनोंउसी तरह जैसे
02 अगस्त 2018
14 अगस्त 2018
*इस पृथ्वी पर जन्मा प्रत्येक जीव को स्वतंत्रता का अधिकार है एवं प्रत्येक जीव स्वतंत्र रहना भी चाहता है | पराधीनता के जीवन से मृत्यु अच्छी है | मानस में गोस्वामी तुलसीदास जी की चौपाई "पराधीन सपनेहुँ सुख नाहीं" यह प्रमाणित करती है कि पराधीनता में रहकर मोहनभोग भी खाने को मिल जाय तो वह तृप्ति नहीं मिल प
14 अगस्त 2018
01 अगस्त 2018
बहुत देख ली आडंबरी दुनिया के झरोखों से बहुत उकेर लिए मुझे कहानी क़िस्सागोई में लद गए वो दिन, कैद थी परम्पराओं के पिंजरे में भटकती थी अपने आपको तलाशने में उलझती थी, अपने सवालों के जबाव ढूँढने में तमन्ना थी बंद मुट्ठी के सपनों को पूरा करने की उतावली,आतुर हकीकत की दुनिया जीने की दासता की जंजीरों को तो
01 अगस्त 2018
29 अगस्त 2018
फि
वक़्त तूने फिर वही कहानी दोहराई फिर से दिल टुटा फिर से आँख भर आई फिर से तन्हाई फिर से रुस्वाई , फिर से बेवफाई फिर से दिल तूने प्यार में चोट खाई कहा खो गई है मंज़िल
29 अगस्त 2018
14 अगस्त 2018
बात सुनो भाई भगत सिंहगुंडे चोर इंडिया के…बात सुनो भाई भगत सिंहगुंडे चोर इंडिया के…भारत माँ को लुटते है जनता के सपने टूटते हैं,गरीब भूके मरते है अमीरों के घर भरते है….लड़किया सड़े तेजाब मैजवानी रुले शराब में…आज देश आजाद है आज देश आजाद हैआपकी क़ुरबानी पर नाज है.पर क्या करे ऐसी आजादी काहर दिन दिखती बर्बाद
14 अगस्त 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x