कौन सा पतझड़ मिले

02 दिसम्बर 2018   |  विजय कुमार तिवारी   (31 बार पढ़ा जा चुका है)

गीत
कौन सा पतझड़ मिले?
विजय कुमार तिवारी

और गा लूँ जिन्दगी की धून पर,
कल न जाने प्रीति को मंजिल मिले?

दर्द में उत्साह लेकर बढ़ रहा था रात-दिन,
आह में संगीत संचय कर रहा था रात-दिन।
आज सावन कह रहा है बार-बार,
क्यों लिया बंधन स्व-मन से रात-दिन?

सोचता हूँ चुम लूँ वह पंखुड़ी,
कल न जाने कौन सी बेकल खिले?

आपदाओं में पला तनहाईयों का शबाब है,
बीच कांटों में खिला कोई नया गुलाब है।
ईश्क में डुबी हुई यह जिन्दगी,
प्रेम-परिणत की व्यथा की खुली हुई किताब है।

देख लूँ मैं पल्ल्वों की लालिमा
कल न जाने कौन सा पतझड़ मिले?

अगला लेख: माँ-बेटी



रेणु
15 दिसम्बर 2018

अच्छी रचनाहै आदरनीय विजय जी | जीवन में पतझड़ ना जाने कब अ जाए सो जो ख़ुशी के पल मिलते हैं वही जी लेने चाहिए | साभार --

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
23 नवम्बर 2018
Ramdhari Singh Dinkar - Hindi poem कलम, आज उनकी जय बोल – रामधारी सिंह “दिनकर”जला अस्थियाँ बारी-बारीचिटकाई जिनमें चिंगारी,जो चढ़ गये पुण्यवेदी परलिए बिना गर्दन का मोलकलम, आज उनकी जय बोल।जो अगणित लघु दीप हमारेतूफानों में एक किनारे,जल-जलाकर बुझ गए किसी दिनमाँगा नहीं स्नेह मुँह खोलकलम, आज उनकी जय बोल।पी
23 नवम्बर 2018
20 नवम्बर 2018
Hindi poem - koshish karne walon ki लहरों से डर कर नौका पार नहीं होतीकोशिश करने वालों की हार नहीं होतीनन्हीं चींटी जब दाना लेकर चलती हैचढ़ती दीवारों पर, सौ बार फिसलती हैमन का विश्वास रगों में साहस भरता हैचढ़कर गिरना, गिरकर चढ़ना न अखरता हैआख़िर उसकी मेहनत बेकार नहीं होतीकोशिश करने वालों की हार नहीं
20 नवम्बर 2018
19 नवम्बर 2018
हर एक काम निपुणता से करता हूँ,फिर क्यूं सबकी आँखों को खलता हूँ,गाँव -गाँव शिक्षा की अलख जगाता हूँ,नित प्रति बच्चों को सबक सिखाता हूँ गर्व मुझे कि मैं प्राइमरी का मास्टर कहलाता हूँ।।सबको स्वाभिमान से रहना सिखलाता हूँ,सबको हर एक अच्छी बात बताता हूँ प्रतिदिन मेन्यू से एम.डी.एम बनवाता हूँ,खुद चखकर तब बच
19 नवम्बर 2018
19 नवम्बर 2018
ऐतराज़...एक दौर है ये जहाँ तन्हां रात में वक़्त कट्टा नही... वो भी एक दौर था जहाँ वक़्त की सुईयों को पकड़ू तो वक़्त ठहरता नही... एक दौर है ये जहाँ नजर अंदाज शौक से कर दिए जाते है... वो भी एक दौर था... जहाँ चुपके चुपके आँखों मैं मीचे जाते थे
19 नवम्बर 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x