"छंदमुक्त काव्य" कूप में धूप मौसम का रूप

19 दिसम्बर 2018   |  महातम मिश्रा   (53 बार पढ़ा जा चुका है)

"छंदमुक्त काव्य"


कूप में धूप

मौसम का रूप

चिलमिलाती सुबह

ठिठुरती शाम है

सिकुड़ते खेत, भटकती नौकरी

कर्ज, कुर्सी, माफ़ी एक नया सरजाम है

सिर चढ़े पानी का यह कैसा पैगाम है।।


तलाश है बाली की

झुके धान डाली की

सूखता किसान रोज

गुजरती हुई शाम है

कुर्सी के इर्द गिर्द छाया किसान है

खेत खाद बीज का भ्रामक अंजाम है

सिर चढ़े पानी का यह कैसा पैगाम है।।


महातम मिश्र, गौतम गोरखपुरी

अगला लेख: "हाइकु"



महातम मिश्रा
21 दिसम्बर 2018

मंच व मित्रों का हृदय से आभारी हूँ, इस सृजन को विशिष्ट श्रेणी का सम्मान देने के लिए व दैनिक पृष्ठ पर प्रकाशित करने के लिए, सादर नमन

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
18 दिसम्बर 2018
छन्द- सीता (मापनीयुक्त वर्णिक) वर्णिक मापनी - 2122 2122 2122 212 अथवा लगावली- गालगागा गालगागा गालगागा गालगा पारंपरिक सूत्र - राजभा ताराज मातारा यमाता राजभा (अर्थात र त म य र)"गीतिका" छा रही कैसी बलाएँ क्या बताएँ साथियोंद्वंद के बाजार मे
18 दिसम्बर 2018
21 दिसम्बर 2018
"
"मुक्तक" देखिए तो कैसे वो हालात बने हैं।क्या पटरियों पै सिर रख आघात बने हैं।रावण का जलाना भी नासूर बन गया-दृश्य आँखों में जख़्म जल प्रपात बने हैं।।-1देखन आए जो रावण सन्निपात बने हैं।कुलदीपक थे घर के अब रात बने हैं।त्योहारों में ये मातम सा क्यूँ हो गया-क्या रावण के मन के सौगात बने हैं।।-2महातम मिश्र,
21 दिसम्बर 2018
08 दिसम्बर 2018
"
विधान- 13-11 की यति, चौपाई की अर्धाली व दोहा का सम चरण, सम चरण का अंतिम शब्द विषम चरण का पहला शब्द हो, यही इस दोहा की विशेषता है"सिंहावलोकनी दोहा" परम मित्र नाराज है, कहो न मेरा दोष।दोष दाग अच्छे नही, मन में भरते रोष।।-1रोष विनाशक चीज है, भरे कलेश विशेष।विशेष मित्र
08 दिसम्बर 2018
10 दिसम्बर 2018
"
वज़्न - 1222 1222 122, अर्कान - मुफ़ाईलुन मुफ़ाईलुन फऊलुन, बह्र - बह्रे हज़ज मुसद्दस महज़ूफ़, काफ़िया -ज़माना (आना की बंदिश) रदीफ़ - छोड़ आये"ग़ज़ल" सखा साया पुराना छोड़ आयेवसूलों का ठिकाना छोड़ आयेन जाने कब मिले थे हम पलों सेनजारों को खजाना छोड़ आये।।सुना है गरजता बादल तड़ककरछतों पर धूप खाना छोड़ आये।।बहाना था
10 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
भोजपुरी गीत, मात्रा भार-24, मुखड़ा समान्त- ए चिरई, अंतरा समान्त- क्रमशः खटिया,जनाना, जवानी,"भोजपुरी गीत"साँझे कोइलरिया बिहाने बोले चिरईजाओ जनि छोड़ी के बखरिया झूले तिरई....... साँझे कोइलरिया बिहाने बोले चिरईदेख जुम्मन चाचा के अझुराइल खटियाहोत भिनसारे ऊ उठाई लिहले लठियागैया तुराइल जान हेराइ गईल बछवाखो
26 दिसम्बर 2018
29 दिसम्बर 2018
द एक्सीडेंटल प्राईम मिनिस्टर ? डॉ शोभा भारद्वाज डॉ मनमोहन सिंह जी परबनी फिल्म एक्सीडेंटल प्राईम मिनिस्टर का टेलर रिलीज किया गया है विवाद होनास्वाभाविक है डॉ मनमोहन सिंह की छवि एक ईमानदार व्यक्ति की रही रही है उनकी ईमानदारी पर किसी को शक नहीं है लेकिन आलोचक एवं विपक्ष उनकेकाल को घोटालों का काल
29 दिसम्बर 2018
06 दिसम्बर 2018
"कुंडलिया"कुल्हण की रबड़ी सखे, और महकती चाय।दूध मलाई मारि के, चखना चुस्की हाय।।चखना चुस्की हाय, बहुत रसदार कड़ाही।मुँह में मगही पान, गजब है गला सुराही।।कह गौतम कविराय, न भूले यौवन हुल्लण।सट जाते थे होठ, गर्म जब होते कुल्हण।।महातम मिश्र, गौतम गोरखपुरी
06 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
वज़्न--212 212 212 212, अर्कान-- फ़ाइलुन फ़ाइलुन फ़ाइलुन फ़ाइलुन, बह्रे- मुतदारिक मुसम्मन सालिम, क़ाफ़िया— करते, (अते की बंदिश) रदीफ़ --- रहे"गज़ल" पास आती न हसरत बिखरते रहेचाहतों के लिए शोर करते रहेकारवाँ अपनी मंजिल गया की रुकाकुछ सरकते रहे कुछ फिसलते रहे।।चंद लम्हों की खातिर मिले थे कभीकुछ भटकते रहे कु
26 दिसम्बर 2018
01 जनवरी 2019
शुक्र का वृश्चिक राशि में गोचर सर्वप्रथम सभी को नववर्ष 2019 कीहार्दिक शुभकामनाएँ | आज मंगलवार एक जनवरी को प्रातः नौ बजकर पचास मिनट पर बुध कागोचर धनु राशि में हुआ है, और आज ही रात्रि आठबजकर तैतालीस मिनट के लगभग समस्त सांसारिक सुख, समृद्धि, विवाह, परिवार सुख, कला, शिल्प, सौन्दर्य, बौद्धिकता, राजनीतितथ
01 जनवरी 2019
29 दिसम्बर 2018
बुधका धनु में गोचरनव वर्ष 2019 के प्रथम दिवस अर्थात एकजनवरी को पौष कृष्ण एकादशी को बव करण, धृति योग और विशाखा नक्षत्र में 09:50 के लगभग बुध काप्रवेश सूर्य और शनि के साथ गुरु की धनु राशि और मूल नक्षत्र में हो जाएगा |सर्वप्रथम सभी को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ… धनु राशि में बुधका गोचर सभी के लिए भाग
29 दिसम्बर 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x