प्रश्न - संतान कहां से आती है ? ( कुछ अंश ) : ( प्रश्न - उत्तर, चिंतन 2 )

21 दिसम्बर 2018   |  उदय पूना   (50 बार पढ़ा जा चुका है)

- प्रश्न - संतान कहां से आती है ? ( कुछ अंश ) : ( प्रश्न - उत्तर, चिंतन 2 )


संतान कहां से आती है ?
संतान माता पिता से नहीं आती;
संतान पति पत्नी के रिश्ते से आती है।


समाज के नये सदस्य कहां से आते हैं ?
समाज के नये सदस्य माता पिता से नहीं आते;
समाज के नये सदस्य पति पत्नी के रिश्ते से आते हैं।


हम इस बात को जितना अच्छे से समझते हैं;

पति पत्नी के रिश्ते को जितना महत्व देते हैं; पति पत्नी के रिश्ते को जितना सम्मान देते हैं।

उतना ही स्वस्थ समाज हो पाता है;
उतना ही स्वस्थ नया समाज बन पाता है; उतना ही स्वास्थ समाज के नये सदस्यों को मिल पाता है।
अतः पति पत्नी के रिश्ते को महत्व देना, उसे सम्मान देना अनिवार्य है।



हम इस बात को जितना अच्छे से समझते हैं;

पति पत्नी के रिश्ते को जितना महत्व देते हैं; पति पत्नी के रिश्ते को जितना सम्मान देते हैं।

उतना ही सम्मान माता पिता पाते हैं; उतना ही महत्व माता पिता पाते हैं;
उतनी ही सेवा पाते हैं।

अतः पति पत्नी के रिश्ते को महत्व देना, उसे सम्मान देना अनिवार्य है।


पति पत्नी का रिश्ता हमारे सामाजिक जीवन का स्रोत है, आधार है;
पति पत्नी के रिश्ते से ही संतान आती है; समाज का नया सदस्य आता है।


जैसा स्रोत होगा, जैसा स्रोत का सम्मान होगा;
स्रोत को
जैसा संभाला जाएगा।


वैसी ही माता पिता की सेवा होगी; वैसा ही माता पिता का सम्मान होगा;
वैसा ही समाज होगा, संतान होगी, वैसा ही नया समाज होगा।


अतः पति पत्नी के रिश्ते को महत्व देना, उसे सम्मान देना अनिवार्य है।।


उदय पूना,

92847 37432,

Virus-free.www.avg.com

अगला लेख: मां पहले पत्नी थी; पत्नी रूप में कितना था सम्मान ??



रेणु
24 दिसम्बर 2018

आदरणीय सर, सादर प्रणाम।। आप का लेख बहुत ही सारगर्भित है। सही कहा आपने पति पत्नी के रिश्ते का सम्मान हमारी सनातन संस्कृति का आधार है। सादर आभार और नमन।

रेणु
24 दिसम्बर 2018

आदरणीय सर, सादर प्रणाम।। आप का लेख बहुत ही सारगर्भित है। सही कहा आपने पति पत्नी के रिश्ते का सम्मान हमारी सनातन संस्कृति का आधार है। सादर आभार और नमन।

रेणु
24 दिसम्बर 2018

आदरणीय सर, सादर प्रणाम।। आप का लेख बहुत ही सारगर्भित है। सही कहा आपने पति पत्नी के रिश्ते का सम्मान हमारी सनातन संस्कृति का आधार है। सादर आभार और नमन।

उदय पूना
25 दिसम्बर 2018

प्रिय रेणु, आपकी टिप्पणी से आपसे जुड़ने का भाव मिला, प्रणाम, आभार; " पति पत्नी के रिश्ते का सम्मान हमारी सनातन संस्कृति का आधार है।" इस बात का प्रचार और प्रसार होना चाहिए;

उदय पूना
24 दिसम्बर 2018

इस रचना (प्रश्न - संतान कहां से आती है ? ( कुछ अंश ) : ( प्रश्न - उत्तर, चिंतन 2 ) को आज के विशिष्ट लेखों में चयनित किया है, शब्दनगरी संगठन ने| आभार, समाज पर चर्चा होते रहना चाहिए, प्रणाम,

उदय पूना
21 दिसम्बर 2018

" प्रश्न - उत्तर, चिंतन " धारा में यह दूसरी रचना है, कृपया दोनों रचनाओं को एक साथ लेकर अर्थ करें; प्रणाम,

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
17 दिसम्बर 2018
" आगे क्या होगा " -- हम क्यों मानकर चलें कि आगे बुरा ही होगा : प्रस्तावना, भूमिका क्या हमें पता होता है कि भविष्य में क्या क्या होने वाला है ??पर दिन-प्रतिदिन के जीवन में हमें यदा-कदा अनुभव होता है कि हम मानकर चलने लगतें हैं "आगे बुर
17 दिसम्बर 2018
07 दिसम्बर 2018
मे
मेरे लिए पर्याप्त है ( लघु ) पूरा रास्ता,नहीं मालूम;वांछनीय गंतव्य, जहां जाना है, नहीं मालूम; एक बार में,
07 दिसम्बर 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x