लौटा माटी का लाल

16 फरवरी 2019   |  रेणु   (88 बार पढ़ा जा चुका है)

लौटा माटी का लाल

गूंजी मातमी धुन
लुटा यौवन
तन सजा तिरंगा
लौटा माटी का लाल
माटी में मिल जाने को !


इतराया था एक दिन
तन पहन के खाकी
चला वतन की राह
ना कोई चाह थी बाकी
चुकाने दूध का कर्ज़
पिताका मान बढाने को !
लौटा माटी का लाल
माटी में मिल जाने को !!

रचा चक्रव्यूह
शिखंडी शत्रु ने
छुपके घात लगाई
कुटिल चली चाल
मांद जा जान छिपाई
पल में देता चीर
ना आया आँख मिलाने को !
लौटा माटी का लाल
माटी में मिल जाने को !!

उमड़ा जन सैलाब -
विदा की आई बेला ,
हिया विदीर्ण महतारी आज

आंगन ये कैसा मेला ?
सुत सोया आँखें मूंद
जगा ना धीर बंधाने को;

लौटा माटी का लाल -
माटी में मिल जाने को !!!!!!!



पुलवामा के वीर शहीदों को अश्रुपूरित कोटि नमन !!!!!!!!!
स्वरचित -- रेणु--
------------------------------------------------

अगला लेख: हार्दिक अभिनन्दन !



अलोक सिन्हा
25 फरवरी 2019

अच्छी रचना है |

रेणु
02 मार्च 2019

सादर आभार आदरणीय आलोक जी

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
01 मार्च 2019
वीर अभिनन्दन ! हार्दिक अभिनन्दन ! तुम्हारे शौर्य को कोटि वन्दन ! पुलकित , गर्वित माँ भारती - तुम्हारे निर्भीक पराक्रम से , मृत्यु - भय से हुए ना विचलित - ना चूके संयम से ;सिंह पुत्र तुम जननी के सहमा शत्रु नराधम !! श
01 मार्च 2019
15 फरवरी 2019
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को CRPF जवानों पर हुए हमले पर पूरा देश आक्रोश में है। देशभर में बदले की आग धधक रही है। हर हिंदुस्तानी की यही मांग है कि अब वक़्त है जवानों की शाहदर का बदला लेने का, नए भारत का निर्माण करने का जिसमें ये घर में घुसेगा भी और मरेगा भी। ये मांग सोशल मीडिया के के द्वारा
15 फरवरी 2019
24 फरवरी 2019
मैं ना तो हिन्दू हूँ ना ही हिंदुत्व में विश्वास रखता हूँ. मैं सनातनी हूँ और सनातन धर्म का पालन करता हूँ. सनातन धर्म जो सृष्टि के आरम्भ से हैं और सृष्टि के अंत तक रहेगा. गर्व से कहो कि मैं सनातनी हूँ. सनातन में सब कुछ समा जात
24 फरवरी 2019
28 फरवरी 2019
विटामिन ए की मनुष्य के शरीर को बहुत आवश्यकता होती है । विटामिन ए को ही कैरोटीन कहा जाता है । शरीर में विटामिन ए की कमी होने से काफी हानि भी हो सकती है । अगर इसकी कमी हो ही जाये तो इसे पूरा करने के दो तरीके है एक खाने पीने की कुछ चीजे और दूसरा विटामिन ए की गोलियां और सप्लीमेंट आदि । शरीर को विटामिन ए
28 फरवरी 2019
06 फरवरी 2019
तेरी आवाज़ को सुनना सुकूँ एक रूह को देता हैशिकायत है मगर मुझको ख़बर तू क्यों ना लेता हैप्यार बरसेगा जो तेरा चैन कुछ आ ही जाएगामेरे जीवन के आँगन में बिछा बस सूखा रेता हैसमय के साथ मेरी नाव तो बस बह रही है अबलाख कोशिश करी मांझी मगर ना इसको खेता हैप्यार को बाँटता है जो वही तो प्यार पाएगाबिना कारण ही तू
06 फरवरी 2019
19 फरवरी 2019
सामान्यता गिलोय का क्वाथ बुखार एवं अनेक रोगों मे किया जाता है। गिलोय को अमृता, अर्थात कभी ना सूखने वाली बेल कहते है । अंग्रेजी मे इसे tinospora कहते है। गिलोय को अलग अलग भाषा मे गडूची, अमृवल्ली, गूलवेल, मधुपर्णी, कुन्डलिनी आदि नमो से जाना जाता है। गिलोय की बेल जिस पेड़ पर चढ़ती है उस पेड़ के गुण अपन
19 फरवरी 2019
06 फरवरी 2019
त्याग, संघर्षपूर्ण जीवन, नि: स्वार्थ सेवा और निष्काम भक्तिरामायण और रामचरित मानस में भगवान श्रीराम की वनयात्रा में माता शबरी का प्रसंग सर्वाधिक भावपूर्ण है। भक्त और भगवान के मिलन की इस कथा को गाते सुनाते बड़े-बड़े पंडित और विद्वान भाव विभोर हो जाते हैं। माता शबरी का त्याग और संघर्षपूर्ण जीवन, नि: स्व
06 फरवरी 2019
04 फरवरी 2019
अब तुझको मेरे साथ की कोई ना आस हैतेरा काम तो निकल गया शक्ति भी पास हैतेरे आँसुओं के फेर में मैं फिर से लुट गया इक ये अदा तो हुस्न की सदियों से खास है उल्फ़त की राह में मिला मुझको फ़कत फरेबइसकी डगर न जाने क्यों आती ना रास हैमुझको सफ़र में ना
04 फरवरी 2019
13 फरवरी 2019
भारत में एक दो साल के बच्चे ने वो कर दिखाया जिसे करने में बड़े बड़े लोग सोचते हैं। बता दें कि देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में दो साल के बच्चे ने 6 ज़िंदगिया बचाई हैं, इसके साथ ये बच्चा सबसे कम उम्र का अंगदाता भी बन गया है. इस दो साल के बच्चे के ब्रेन डेड होने के बाद उसके परिवार ने उसके अंगों को दान करन
13 फरवरी 2019
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x