हार्दिक अभिनन्दन !

01 मार्च 2019   |  रेणु   (64 बार पढ़ा जा चुका है)

 हार्दिक अभिनन्दन  ! - शब्द (shabd.in)

वीर अभिनन्दन ! हार्दिक अभिनन्दन !

तुम्हारे शौर्य को कोटि वन्दन !


पुलकित , गर्वित माँ भारती -

तुम्हारे निर्भीक पराक्रम से ,

मृत्यु - भय से हुए ना विचलित -

ना चूके संयम से ;

सिंह पुत्र तुम जननी के

सहमा शत्रु नराधम !!


शत्रु भूमि पर जा देखो -

मातृभूमि का मान बढ़ाया ,

अर्जित की अखंड कीर्ति -

ना पीछे कदम हटाया ;

मान मर्दन किया पापी का

रहा अडिग हिमालय सा तन !!


कोटि नैन बिछे पथ में-

स्वागत को आज तुम्हारे .

एक कुटुंब सा जुटा राष्ट्र -

अपलक तुम्हे निहारे ;

तुम्हारा यश रहे अमर जग में-

पुकार रहा यही जन - जन !!!!!!!

स्वरचित -- रेणु

चित्र --गूगल से साभार --

कृपया मेरे ब्लॉग पर पधारे ---

क्षितिज ---- renuskshitij.blospot.com

मीमांसा --- mimansarenu550.blogspot.com


अगला लेख: लौटा माटी का लाल



अलोक सिन्हा
05 मार्च 2019

अच्छी रचना है |

रेणु
09 मार्च 2019

सादर आभार आदरणीय आलोक जी

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
18 फरवरी 2019
18 फरवरी 2019
21 फरवरी 2019
कवितापहली मुलाकातविजय कुमार तिवारीयह हठ था या जीवन का कोई विराट दर्शन,या मुकुलित मन की चंचल हलचल?रवि की सुनहरी किरणें जागी,बहा मलय का मधुर मस्त सा झोंका,हुई सुवासित डाली डाली, जागी कोई मधुर कल्पना।शशि लौट चुका थानिज चन्द्रिका-पंख समेटे। उमग रहे थे भौरे फूलों कलियों में,मधुर सुनहले आलिंगन की चाह संजो
21 फरवरी 2019
15 फरवरी 2019
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को CRPF जवानों पर हुए हमले पर पूरा देश आक्रोश में है। देशभर में बदले की आग धधक रही है। हर हिंदुस्तानी की यही मांग है कि अब वक़्त है जवानों की शाहदर का बदला लेने का, नए भारत का निर्माण करने का जिसमें ये घर में घुसेगा भी और मरेगा भी। ये मांग सोशल मीडिया के के द्वारा
15 फरवरी 2019
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x