कोई उसकी फिक्र क्यों नहीं करता ?

05 मार्च 2019   |  आयेशा मेहता   (51 बार पढ़ा जा चुका है)

कोई उसकी फिक्र क्यों नहीं करता ?

आजकल वो लड़की बड़ी गुमसुम सी रहती है ,

हमेशा बेफिक्र रहने वाली ,

आजकल कुछ तो फिक्र में रहती है ा

अल्हड़ सी वो लड़की ,

हर बात पर बेबाक हंसने वाली ,

आजकल चुप-चुप सी रहती है ा

आँखों में मस्ती , चेहरे पर नादानी ,

खुद में ही अलमस्त रहने वाली ,

हमेशा आसमान में उड़ने की बात करती थी ,

आज वो जमीन से लिपट कर रो रही थी ा

कुछ तो हुआ होगा उस रात ,

शायद कुछ भयावह घटित हुआ होगा उसके साथ ,

जो उसकी आवाज़ ही निगल गया है ,

जीने की चाहत ही छीन लिया है ,

लेकिन कोई उसकी खबर क्यों नहीं लेता ,

कोई उसकी तबियत क्यों नहीं पूछता ,

मुझे बहुत फिक्र हो रही थी की ,

कोई उसकी फिक्र क्यों नहीं करता ा

अगला लेख: शायरी



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
16 मार्च 2019
आज फिर मैं बोझ सी लगी हूँ , यूँ तो मैं बाबा की गुड़िया रानी हूँ ,पर सच कहाँ बदलता है झूठे दिल्लासों से ,सच कहूँ तो आज बाबा की मजबूरी सी हूँ ा उनके माथे की सिलवटें बता रही है ,कितने चिंतित है मगर जताते नहीं है वो ,अपनी गुड़िया को ए
16 मार्च 2019
28 फरवरी 2019
मन की हर बात करने का मेरा मन तुझसे करता हैतेरे हर लफ्ज का मरहम मेरी पीड़ा को हरता हैमेरी झोली किसी के प्यार से महरूम थी अब तकतू दोनों हाथों से इसको सदा हँस हँस के भरता हैतू मेरे साथ है जब से मुझ को चिंता नहीं रहतीतन्हा इंसान ही बस हर समय गैरों से डरता हैअलग इंसान होते हैं फ़कत कातिल ज़माने मेंये जज्बा
28 फरवरी 2019
10 मार्च 2019
जो बात छिपाए हो तुम होठों में कहीं , आज नैनों को सब कहने दो न , कई जन्मों से प्यासी है ये निगाहें , आज मेरी जुल्फों में ही रह लो न ा एक लम्हा जो नहीं कटता तेरे बिन ,उम्र कैसा कटेगा तुम बिन वो साथिया ,छ
10 मार्च 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x