महात्मा गाँधी

10 अगस्त 2019   |  गिरीश   (408 बार पढ़ा जा चुका है)

महात्मा गाँधी

कुछ लोग कभी मरते नहीं

ऐसा कोई दिल नहीं जिसमे गाँधी जी धड़कते नहीं


वो एक पवित्र आत्मा थे

जो डंडे खाने पर भी थकते नहीं थे


अहिंसा का पाठ उन्होंने पढ़ाया और अपनाया

और अंग्रेजो को दुम दबाकर भगाया


अंग्रेजो की वस्तुओं को ठुकराया

और स्वदेशी अपनाकर चरखा चलाया


साउथ अफ्रीका में भी अपना परचम फहराया

और अपने व्यक्तितत्व से सारी दुनिया को लुभाया


लाठी सिर्फ चलने के लिये रखी

कभी उसका एंगल नहीं घुमाया


जब अनशन किया

तो हर अंग्रेज घबराया


गंगा पवित्र हुई जब मिली उसमे इनकी अस्थियाँ

आज उन्ही की बदौलत हैं रौशन हमारी बस्तियाँ


15 अगस्त के मौके पर उनको शत शत नमन

भूल न जाना उनको आपको इस देश की कसम



धन्यवाद

अगला लेख: शिक्षा



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x