मंज़िल

25 अगस्त 2019   |  tejaswi यदलपति   (3494 बार पढ़ा जा चुका है)

ख्वाहिशों की मंज़िल

बहुत मुश्किल हैं

हिम्मत के रास्ते

से चलना हैं

रहे कुले हैं

बस आज़माने की देरी हैं

अगला लेख: दिल की बात



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
19 अगस्त 2019
निर्माण नशेमन का नित करती, वह नन्हीं चिड़िया ज़िद करती। तिनके अब बहुत दूर-दूर मिलते, मोहब्बत के नक़्श-ए-क़दम नहीं मिलते।ख़ामोशियों में डूबी चिड़िया उदास नहीं, दरिया-ए-ग़म का किनारा भी पास नहीं। दिल में ख़लिश ता-उम्र सब्र का साथ लिये, गुज़रना है ख़ामोशी से हाथ में हाथ लिये। शजर
19 अगस्त 2019
25 अगस्त 2019
दि
जो लफ़्ज़ों से होती नहीं बयान उन्हें आँखे जाती हैं आंखो से नहीं पद्सकें तो मेरी खामोशी को पहचान लो दिल से दिल तक बात पहुंचाने के बहुत रास्ते हैं बस सुनने और समझने की ही देरी हैं
25 अगस्त 2019
27 अगस्त 2019
Baharen Aayengi - Gopal Singh Nepali Poems In Hindiबहारें आएँगी, होंठों पे फूल खिलेंगेसितारों को मालूम था, हम दोनों मिलेंगे!सितारों को मालूम था छिटकेगी चाँदनीसजेगा साज प्यार का बजेगी पैंजनी;बसोगे मन में तुम तो मन के तार बजेंगेसितारों को मालूम था, हम दोनों मिलेंगे!मिला
27 अगस्त 2019
25 अगस्त 2019
दि
जो लफ़्ज़ों से होती नहीं बयान उन्हें आँखे जाती हैं आंखो से नहीं पद्सकें तो मेरी खामोशी को पहचान लो दिल से दिल तक बात पहुंचाने के बहुत रास्ते हैं बस सुनने और समझने की ही देरी हैं
25 अगस्त 2019
20 अगस्त 2019
चलो यूं निभाते हैं रस्म ए उल्फ़त हम दोनोंमैं हर दुआ में तुम्हारा नाम लूँहर बार तुम आमीन कह देनामेरा हर सजदा हो आगे तुम्हारेतुम हर बार मेरा काबा बन जानामेरी उँगलियों पे तुम तस्बीह की तरहइश्क़ की आयत लिख जानादोहराती रहूँ बार बार तुम्हें हीमेरे लबों का तुम कलमा बन जानाअश्मीरा 19/8/19 05:10 PM
20 अगस्त 2019
02 सितम्बर 2019
वही अक्सर ठहरे पानी में डूब जाया करते हैं,जो शनावर दरिया में बेबाक तैरा करते हैं !https://ghazalsofghalib.comhttps://sahityasangeet.comhttps://spirituality.ghazalsofghalib.com
02 सितम्बर 2019
31 अगस्त 2019
जवाँ आँखों का मंज़र खो गया हैहर एक अहसास खंज़र हो गया है...तमन्ना थी खिले बाग़-ए-चमन कीमग़र दिल एक बंज़र हो गया है...तृप्ति की इक बूँद पाने की ललक मेंसमूचा मन समन्दर हो गया है...न जाने कौन सा मोती लुटा है बड़ा सुनसान अन्दर हो गया है....!..............✍💔✍..…..........
31 अगस्त 2019
19 अगस्त 2019
शि
शिक्षा आज शिक्षा एक व्यवसाय बन चुकी हैं क्यों न इस व्यवसाय को नि:स्वार्थ समुदाय बनाया जाये
19 अगस्त 2019
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x