दीपावली आप आएं!

27 अक्तूबर 2019   |  स्वाति मेघा   (429 बार पढ़ा जा चुका है)

मन में जो द्वेष भरे हैं,

दीपों की टीम टीम में सब जल जाएं।

अगंध से जो दिल हैं हमारे,

गेंदों की सुगंध से महक जाएं भर जाएं

मुहब्बत जो अनकहे रह गए हैं,

रंगोली के रंगों से खिल जाएं निखर जाएं।

इरादे जो डगमग से हैं,

गणपति सब पूरा पक्का कर जाएं।

जो मुश्किल है जीने में,

लक्ष्मी अपने साथ झोली भर कर ले जाएं।

जीवन में जो अंधेरे हैं,

दीपावली आप आएं और साथ सब हर ले जाएं।


अगला लेख: आओ बैठे आज फिर साथ



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
24 अक्तूबर 2019
कार्तिक मास का महत्त्वकार्तिक मास चल रहा है और कल से पञ्चपर्वों की श्रृंखला दीपावली कामहान पर्व आरम्भ हो जाएगा | वास्तव में हिन्दू मान्यता में कार्तिक मास का विशेषमहत्त्व माना गया है | इसे भगवान विष्णु का महीना कहा जाता है तथा विष्णु पूजा काइस माह में विशेष महत्त्व माना जाता है | साथ ही ऐसी भी मान्य
24 अक्तूबर 2019
15 अक्तूबर 2019
आवारा मन की आवाज़....!_______________________________मैं आवारा हूँ, ये आवारा मन की आवाज़ हैकालकोठरी से भागा, जैसे ये सोया साज़ हैदिशाहीन कोरे पन्नों सा, आसमान का बिखरा तारातपोभ्रष्ट का हूँ मैं मनीषी, घूमूँ बनके बंजाराडूबा खारे सागर में, तट की रेतों से डरा-डराजुड़-जुड़ के भी टूट रहा, लहरों से मैं घिर
15 अक्तूबर 2019
23 अक्तूबर 2019
आज भले ही दीपावली में चारों ओर कृत्रिम रोशनी से पूरा शहर जगमगा उठता है, लेकिन मिट्टी के दीए बिना दिवाली अधूरी है। मिट्टी के दीए बनने की यात्रा बड़ी लम्बी होती है। इसकी निर्माण प्रक्रिया उसी मिट्टी से शुरू होती है, जिससे यह सारा संसार बना है। यह मिट्टी रूप में भूमि पर विद्यमान रहती है, लेकिन एक दिन ऐस
23 अक्तूबर 2019
18 अक्तूबर 2019
तु
यह कविता मेरी दूसरी पुस्तक " क़यामत की रात " से है . इसमें प्रेम औ रदाम्पत्य जीवन के उतार-चढ़ाव पर जीवनसाथी द्वारा साथ छोड़ देने पर उत्पन्न हुए दुःख का वर्णन है .तुमने ऐसा क्यों किया जीवन की इस फुलवारी में, इस उम्र की चारदीवारी में।आकर वसंत भी चले गये, पतझड़ भी आकर चले गय
18 अक्तूबर 2019
12 अक्तूबर 2019
आओ बैठे आज फिर साथज़िंदगी की किताब के कुछ पन्ने फिर पलटेंकुछ अफ़साने तुम कहोकुछ क़िस्से हम सुनायेंकुछ लम्हे तुम जियो कुछ पल हम दोहराएँकुछ भूली हुई यादें,तुम ताज़ा करो कुछ स्मृतियाँ हम संजोयें कुछ क़समें तुम तोड़ो कुछ वादों से हम मुकरेंकुछ दूरियाँ तुम मिटाओकुछ फ़ासले हम तय करेंकुछ नज़दीक तुम आओ कुछ क
12 अक्तूबर 2019
13 अक्तूबर 2019
मि
कोई तकदीर से मिलते हैं तो कोई दुआ से कोई चाहत से मिलते हैं तो कोई तकरार से कोई कोशिश से मिलते हैं तो कोई मजबूरी से ज़िन्दगी की राहों में मिलना तो तै हैं चाहे वो कैसे भी हो. ...
13 अक्तूबर 2019
16 अक्तूबर 2019
प्यार भरे कुछ दीप जलाओदीपमालिका काप्रकाशमय पर्व बस आने ही वाला है... कल करवाचौथ के साथ उसका आरम्भ तो हो हीजाएगा... यों तो श्रद्धापर्व का श्राद्ध पक्ष बीतते ही नवरात्रों के साथ त्यौहारोंकी मस्ती और भागमभाग शुरू हो जाती है... तो आइये हम सभी स्नेहपगी बाती के प्रकाशसे युक्त मन के दीप प्रज्वलित करते हुए
16 अक्तूबर 2019
26 अक्तूबर 2019
आज छोटी दीवाली है, कल दीपमालिका के साथधन की दात्री माँ लक्ष्मी का आह्वाहन किया जाएगा | धन, जो हैउत्तम स्वास्थ्य का उल्लास... धन, जो है ज्ञान विज्ञान काआलोक... धन, जो है स्नेह-प्रेम-दया आदि सद्भावों काप्रकाश... सभी का जीवन इस समस्त प्रकार के वैभव से समृद्ध रहे इसी कामना के साथ सभीको दीपावली के प्रकाश
26 अक्तूबर 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x