रश्मि

05 जनवरी 2020   |  Rathod mukesh   (447 बार पढ़ा जा चुका है)


नैराश्य को भेदती..

नवप्रभाती रश्मि..

विराम देती..

चिर चिंतन को..

खिलाती सरोज आशा के

मन सरोवर में..

बन उत्साह..

करती नव संचार..

निराश मन में..

करती शांत..

उद्वेलित मन को..

नवप्रभाती रश्मि..

रत्नमणि सी दमकती..

बूंद भी शबनमी..

पाकर सँग..

नवप्रभाती रश्मि का..

क्षण भर ही सही..

जी लेती हसीं जिंदगी..

कली-कली मुस्काती..

खिलखिलाकर..

सँग पाकर..

नवप्रभाती रश्मि का..

प्रकृति करती सहर्ष..

अभिनंदन..

नवप्रभाती रश्मि का..


स्वरचित :- राठौड़ मुकेश


अगला लेख: अर्थ.....



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
10 जनवरी 2020
10 जनवरी 2020
08 जनवरी 2020
जी
ललचाती,सकुचाती,सीखाती,भरमाती,इठलाती,अंततः,सुस्ताती चीर निंद्रा!!जीवन यात्रा।अंदाज अलग,भागमभाग,चैन औ सुकूं की,अंततः,नींद उड़ाती!!जीवन यात्रा।अनुभव बांटे,भविष्य को बांचती,वर्तमान भुलाती,अंततः,मन भटकाती!!जीवन यात्रा।कहकहे लगाती कभी,मन कचोटती कभी,हंसाती कभी, रुलाती,अंततः,मिट्टी मिश्रित होती!!जीवन यात्रा।
08 जनवरी 2020
31 दिसम्बर 2019
अंतिम संध्या, अंतिम बेला,अंतिम किरणों का अन्त्य गीत,अंतिम पल का यह अंतर्मनअंतिम पुकार देता, हे मीत !अंतिम धारा, अंतिम प्रवाहअंतिम कलरव, अंतिम है कूकअंतिम बंधन में बाँध रखोधडकन की अंतिम ह्रदय-हूक.अंतिम है दृश्य-पटल, यह नाट्यअंतिम दर्शक, अंतिम समूह,अंतिम का अंत न कर देनाअंकित कर लो यह छवि दुरूह.अंतिम
31 दिसम्बर 2019
18 जनवरी 2020
🐚🐚🐚🐚🐚🐚🐚बाल रूप में तुम प्रभु,एक जैसे हीं लगते हो।गुरुकुल में तुम अलग-अलग से हीं दिखते हो।।कभी "बरसाने" में रास रचातेकभी लंका दहन करवाते हो।कभी सुदामा के कच्चे चावल खाते,कभी भीलनी के जूठे बैर खाते हो।।शांत समाधि में कभी दिखते,कभी ''त्रिनेत्रधारी'' बनते हो।कभी दानव का वध तुम करते,कभी भस्मास
18 जनवरी 2020
07 जनवरी 2020
मृ
वज्रपात सी घात लगी है..साँसों के इस बंधन को..मृत्यु खड़ी बाँट जोह रही...बेबस तन आलिंगन को..खिले नयन यम दर्श को..अधरों पर बिखरी मुस्कान..लेकर गठरी कर्मों की..तन छोड़ रहा ये पहचान..कुंठित,कुत्सित तन ये..हो जाएगा पल में खाक..गंगा दर्शन को तरसेगा..बंद मटकी में बन राख..हृदय विदिर्ण हो उठेगा..देखकर सब ये हा
07 जनवरी 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
14 जनवरी 2020
25 दिसम्बर 2019
28 दिसम्बर 2019
19 जनवरी 2020
19 जनवरी 2020
05 जनवरी 2020
रा
10 जनवरी 2020
03 जनवरी 2020
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x