क़िस्सा गिलहरी और कोरोना का - दिनेश डाक्टर

29 जून 2020   |  दिनेश डॉक्टर   (6316 बार पढ़ा जा चुका है)

क़िस्सा गिलहरी और कोरोना का - दिनेश डाक्टर

फुदकती फुदकती

मेरी खिड़की पर

फिर आ बैठी गिलहरी

छोटी सी लीची को

कुतर कुतर छीला

फिर मुझसे पूछा

क्या हुआ

सब खैरियत तो है

देखती हूँ कई महीनों से

कैद हो महज घर में

न बाहर जाते हो

न किसी को बुलाते हो

बस उलझे उलझे

उदास नज़र आते हो ?

मैंने देखा उसकी

चौकन्नी आंखों को

सफेद भूरी

चमकती धारियों को

छोटे छोटे सुंदर पंजो को

पल पल लहराती झबरी दुम को

वो तो वैसी ही थी

पेड़ की कोटर में रहती थी

अभी भी फुदक फुदक

पेड़ों पर चढ़ती थी

सूरज देख मुस्कराती थी

बारिश में नहाती थी

हवा में झुरझुराती थी



मैंने कहा

प्यारी गिलहरी

दुनिया को हुआ है कोरोना

हर तरफ मचा है रोना धोना

ज़िन्दगी सिहर सी गयी है

एक दम ठहर सी गयी है

सबको जान के लाले है

मुंह पर मास्कों के ताले है


मुझे टुकर टुकर ताकती बोली

तुम्हारी बातें समझ नही आती

पता नही कौन सी दुनियां की खबर हो सुनाते

झूठे किस्सों से मुझे भी डराते

बच्चे हैं भूखे मुझे है जाना

ये मनगढ़ंत बातें किसी और को बताना

मैं कुछ कहता वो लीची लिए सुर्र हो गयी

पेड़ो पर बैठी चिड़िया भी

थी इन बातों को सुनती

वो मुझ पर जोर जोर हंसी

और फुर्र हो गयी ।


अगला लेख: ये दिन भी देर सबेर गुज़र ही जायेंगे



बहुत सुन्दर अभिव्यक्ति

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
26 जून 2020
को
कोरोना का काबू।कोरोना --- कोई रोजगार नही।कोरोना --- कोई रोकथाम नही।कोरोना --- कोई रोए ना।कोरोना --- कोई रोकड़ा नही।कोरोना --- कोई रोल नही।कोरोना --- कोई रोको ना।
26 जून 2020
03 जुलाई 2020
एक जुलाई ' डाक्टर्स डे ,प्रमुख कोरोना योद्धा' डॉ शोभा भारद्वाजएक जुलाई 1991 , भारत में डाक्टर्स डे की शुरुआत देश के महान चकित्सक भारत रत्न से सम्मानित पश्चिमी बंगाल के दूसरे मुख्यमंत्री डा०बी .सीे राय को उनके जन्म दिवस के अवसर पर सम्मानं एवं श्रद्धांजली देने केलिए डाक्टर्स डे मनाया जाता है इनके
03 जुलाई 2020
11 जुलाई 2020
भारत में बढ़ती आबादी चिंता का विषय है डॉ शोभा भारद्वाजकोरोना महामारी ने विश्व के देशों की अर्थव्यवस्था की ग्रहण लग गया महामारी से बचाने के लिए लाक डाउन मजबूरी थी लेकिन बेरोजगारी बढ़ती जा रही था | भारत सरकार कोरोना से पीड़ित भारतीयों की स्वदेश वापसी करवाई क्या वह वापिस जा सकेंगे यदि नहीं उनके रोजगा
11 जुलाई 2020
14 जुलाई 2020
को
भारत में इतना करोना का जोर नहीं था।लेकिन कुनिका कपूर के टी वी पे आने के बाद यह अचानक से पूरे देश में फेल गया।रही सही कसर तबलिक जमात के टी वी पे आने से पूरी हो गई।फिर तो कोरोना ने जो रफ्तार पकड़ी कि उसे थामना मुश्किल हो गया। जगह जगह धर पकड़चल गई।लोग भ्रम में पड़ गए , स
14 जुलाई 2020
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x