आगमन मंत्री जी का

21 जुलाई 2020   |  Arun choudhary(sir)   (323 बार पढ़ा जा चुका है)

हमारे शहर में हुआ मंत्री जी का आगमन,

सबके मन को टटोलना चाहा कर भ्रमण,

मुझे नगर दिखाओ,करीब से मिलाओ लोगों को;

कलेक्टर था बहुत चतुर , तैयार किया चुनिंदा लोगों को।

तैयार किए कुछ रास्ते, जो ना थे गड्ढों से भरे,

तुरत फुरत कराया डामरीकरण,पेड़ लगाए हरे भरे।

खंभों पे चालू किया बल्बों को,सजाए फुटपाथ सुन्दर,

जिस सड़क से मंत्रीजी जाने वाले थे,बदल गया था मंज़र।

ये वही सड़क थी ,जो कल तक रो रही थी अपनी बदहाली पे,

आज इठला रही थी ,जैसे नयी नवेली दुल्हन

अपनेश्रृंगार पे।

कल तक इस सड़क पे ,कितने ही लोग टूटे फूटे पड़े हैअस्पताल में,

आज नगर की सारी सड़कें ,कर रही है ईश्या उससे;

कल तक हमसे थी गई गुजरी,आज वो सुन्दर है सबसे।

क्या कहना है मंत्री जी से,उधर चुनिंदा लोगों

की जारी थी रिहर्सल;

बसों में भर के लायी गई जनता,स्वागत में मंत्री जी के करने हलचल।

जय हो जय हो जय हो ,मंत्रीजी जी जिंदाबाद के लगाते नारे ;

धूप में खड़े थे भूखे बेचारे,मेकअप द्वारा तैयार सड़क के दोनों किनारे।

चेहरे पे बेबसी की नकली मुस्कान उभारे,

केवल तीन सौ रुपए के मारे,

पेट की सिकुड़ी आंतें दिखी नहीं मंत्री जी को, केवल सुनायी दे रहे थे स्वागत नारे;

नकली प्रयत्नों को देख, मंत्री जी की नजर में अफसरों के हो रहे थे वारे न्यारे।



अगला लेख: विश्वास की चादर



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
19 जुलाई 2020
इं
बदल गयी है ,इंसान की अब अपनी फितरत; बदल रहा है,इंसान अब पैमाने ए कुदरत।जीने की परिभाषा,विकास की अभिलाषा;सब कुछ बदल रहा,पूरी करने अपनी लालसा। प्रकृति को छेड़ , छीन पशु पक्षियों का आसरा;स्वार्थ के अतिरेक,जंगल पे
19 जुलाई 2020
17 जुलाई 2020
को
नियति ने रचा यह चक्र है,प्रकृति से छेड़छाड़ करने पर,उसकी दृष्टि हम पे वक्र है ,नियति का रचा यह चक्र है।उसको करने चले थे खामोश, परिणाम उसी का है ये किआज हम भी है खामोश।
17 जुलाई 2020
17 जुलाई 2020
खु
खुशियां खरीदना चाहता है पैसों से ,लेकिन जानता नहीं किखुशियां टिकती नहीं,जो खरीदी जाए पैसों से।खुशियां वफ़ा नहीं होती है,पैसों की ।वह तो मुराद होती है,प्रेम की।गर खुशियों की दुकान जो होती,तो शायद खुशियां उधार न मिलती।फिर खुशियां हर किसी
17 जुलाई 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x