वंशी की वह मधुर ध्वनि

11 अगस्त 2020   |  कात्यायनी डॉ पूर्णिमा शर्मा   (446 बार पढ़ा जा चुका है)

वंशी की वह मधुर ध्वनि

वंशी की वह मधुर ध्वनि... जी हाँ, यदि हम अपने चारों ओर की ध्वनियों से – चारों ओर के कोलाहल से मुक्त करके मौन का साधन करते हुए अपने भीतर झाँकने का प्रयास करें तो कान्हा की वह लौकिक दिव्य ध्वनि हमारे मन में गूँज सकती है... ऐसी कुछ उलझी सुलझी भावनाओं के साथ आज स्मार्तों और कल वैष्णवों की श्री कृष्ण जयन्ती की सभी को अनेकशः हार्दिक शुभकामनाएँ... वो युग पुरुष भगवान श्री कृष्ण जो केवल बृज धाम या मथुरा नगरी तक ही सीमित नहीं हैं बल्कि समूचा विश्व जिनके व्यक्तित्व से प्रेरणा लेता है... रचना सुनने के लिए कृपया वीडियो देखें... कात्यायनी...

https://youtu.be/XiFGdnYquWE

अगला लेख: गीता और जैन दर्शन



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
22 अगस्त 2020
पिछले कुछ दिनोंसे बरखा रानी लगातार अपना मादक नृत्य दिखा दिखा कर रसिक जनों को लुभा रही हैं... और पर्वतीय क्षेत्रों में तो वास्तव मेंग़ज़ब का मतवाला मौसम बना हुआ है... तन और मन को अमृत रस में भिगोतीं रिमझिमफुहारें... हरित परिधान में लिपटी प्रेयसि वसुंधरा से लिपट उसका चुम्बन लेते ऊदेकारे मेघ... एक ओर अपन
22 अगस्त 2020
20 अगस्त 2020
कालिदास सदा सम सामयिकआषाढ़शुक्ल प्रतिपदा – जो की इस वर्ष 21 जून को थी – को महाकवि कालिदास के जन्मदिवस के रूप में कुछ लोग मानते हैं| अभी पिछले दिनों एक मित्र इसी विषय पर चर्चा कर रहे थे कि कोरोना संकट के कारणमहाकवि की जयन्ती नहीं मनाई जा सकी | मैं कालिदासकी अध्येता हूँ और वे हमारे प्रिय कवि हैं, सो उन
20 अगस्त 2020
10 अगस्त 2020
रात बेखबर चुपचाप सी है आओ मैं तुम्हे तुमसे रूबरू करवाउंगी मेरे डायरी में लिखे हर एक नज्म के किरदार से मिलाऊँगी मैं तुम्हे बतलाऊँगी की जब तुम नहीं थे फिर भी तुम थे जब कभी कभी दर्द आँखों से टपक जाती थी ..... कागजों पर एक बेरंग तस्वी
10 अगस्त 2020
06 अगस्त 2020
कल पाँच अगस्त को सारा विश्व के महान घटनाका साक्षी बना... और ये घटना थी श्री राम जन्म भूमि अयोध्या में राम मन्दिर भूमिपूजन... हम सभी वास्तव में बहुत सौभाग्यशाली हैं कि हमारे माननीय प्रधान मंत्री जीने सनातन महानुभावों की साक्षी में कल जो वहाँ भूमि पूजन किया हम सबको अपने अपनेनिवास से ही उस यज्ञ में सम्
06 अगस्त 2020
08 अगस्त 2020
मैंने देखा, और मैं देखती रही / मैंने सुना, और मैं सुनती रही मैंने सोचा, और मैं सोचती रही / द्वार खोलूँ या ना खोलूँ...प्रेम खटखटाता रहा मेरा द्वार / और भ्रमित मैं बनी रही जड़ खोई रही अपने ऊहापोह में...तभी कहा किसी ने / सम्भवतः मेरी अन्तरात्मा ने तुम द्वार खोलो या ना खोलो / द्वार टूटेगा, और प्रेम आएगा
08 अगस्त 2020
25 अगस्त 2020
बिना पतवार ओ माँझीउम्र की नैया चलती जाए... भव सागर की लहरों में हिचकोले खाती उम्र की नैया निरन्तरआगे बढ़ती जाती है... अपना गन्तव्य पर पहुँच कर ही रहती है... कितनी तूफ़ान आएँ...पर ये बढ़ती ही जाती है... कुछ इसी तरह के उलझे सुलझे से विचार आज की इस रचना मेंहैं... सुनने के लिए कृपया वीडियो देखें... कात्याय
25 अगस्त 2020
09 अगस्त 2020
हम ईश्वर को यहाँ वहाँ जहाँ तहाँ ढूँढ़ते फिरते हैं, लेकिन अपने भीतरझाँककर नहीं देखते... हमारा ईश्वर तो हमारे भीतर ही हमारी आत्मा के रूप मेंविराजमान है... प्रकृति के हर कण में... हर चराचर में ईश्वर विद्यमान है... जिसदिन उस ईश्वर के दर्शन कर लिए उस दिन से उसे कहीं ढूँढने की आवश्यकता नहीं रहजाएगी... कुछ
09 अगस्त 2020
10 अगस्त 2020
को
कोविड की तानाशाहीहम कहते हैं बुरा न मानोमुँह को छिपाना जरूरी हैअपनेपन में गले न लगाओदूरियाँ बनाना जरूरी हैकोरोना महामारी तोएक भयंकर बीमारी हैकहने को तो वायरस हैपर छुआछूत बीमारी हैहट्टे कट्टे इंसानों पर भी एक अकेला भारी हैआँख मुँह और नाक कान सेकरता छापेमारी हैएक पखवाड़े के भीतर हीअपना जादू चलाता हैकोर
10 अगस्त 2020
22 अगस्त 2020
पिछले कुछ दिनोंसे बरखा रानी लगातार अपना मादक नृत्य दिखा दिखा कर रसिक जनों को लुभा रही हैं... और पर्वतीय क्षेत्रों में तो वास्तव मेंग़ज़ब का मतवाला मौसम बना हुआ है... तन और मन को अमृत रस में भिगोतीं रिमझिमफुहारें... हरित परिधान में लिपटी प्रेयसि वसुंधरा से लिपट उसका चुम्बन लेते ऊदेकारे मेघ... एक ओर अपन
22 अगस्त 2020
22 अगस्त 2020
💮💮 हरिकृपाहि केवलम् 💮💮मुझे तुम्हारे अलावा कभी किसी और से कोई दरकार नही हुईमुझे तुम्हारे सामिप्य औरकृपा के अलावाकभी कोई चाहत नहीं हुईजब भी कुछ चाहा,तुमसे मन की बातआँखों के इशारे से,पूरी हुईहर जरुरत, शिशु मानिंद ममत्व लूटा-अबोध समझा, और पूरी हुई हर कदम पर साथ रह, बता करमुझे चला, हर सफर पूरी भी ह
22 अगस्त 2020
08 अगस्त 2020
श्री कृष्ण जन्म महोत्सवमंगलवार 11 अगस्त को प्रातः नौ बजकर सात मिनट के लगभग बालव करण और वृद्धि योग मेंभाद्रपद कृष्ण अष्टमी तिथि का आरम्भ हो रहा है जो बारह अगस्त को प्रातः ग्यारहबजकर सोलह मिनट तक रहेगी | इस प्रकार ग्यारह अगस्त को स्मार्तों की श्री कृष्णजन्माष्टमी है और बारह अगस्त को वैष्णवों की श्री क
08 अगस्त 2020
13 अगस्त 2020
परसों यानीपन्द्रह अगस्त को पूरा देश स्वतन्त्रता दिवस की वर्षगाँठ पूर्णहर्षोल्लास के साथ मनाएगा... अपने सहित सभी को स्वतन्त्रता दिवस की हार्दिक बधाईऔर शुभकामनाएँ... स्वतन्त्रता –आज़ादी – व्यक्ति को जब उसके अपने ढंग से जीवंन जीने का अवसर प्राप्त होता है तोनिश्चित रूप से उसका आत्मविश्वास बढ़ने के साथ ही
13 अगस्त 2020
19 अगस्त 2020
चीनी मिटटी के पुतले, चमगादड़, कुत्ते, बिल्ली और कीट पतंगे खाने वाले,दुनिया पर राज करने का सपना देखने वाले,नींद कभी न खुलेगी, थक जायेंगे जगाने वाले। www.sahityasangeet.com
19 अगस्त 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x