जीवन दायिनी बारिश

15 अगस्त 2020   |  Arun choudhary(sir)   (436 बार पढ़ा जा चुका है)

खुशियों की बौछार,आनंद की फुहार लाती है ये बारिश;

इंसान हो या पशु पक्षी, सभी में उत्साह का संचार करती ;

पेड़ पौधों की मुस्कराहट,पर्वतों के झरने आबाद करती;

पर्वतों पर फैली हरितिमा ,सब कुछ लाती है ये बारिश।

चातक की लंबे समय से सूखे ,कंठ की प्यास बुझाती;

मोर के नृत्य और कोयल के कूकने का कारण बनती;

खेतों में फसलों को जीवनदान,देती है ये मनोहारी बारिश।


मेंढक को नवीन जीवन प्रक्रिया,हिरण को फुदकने को मनाती;

निर्जीव नदियों और पहाड़ी नालों में,नया जीवन संचार करती;

नदियों और जलाशयों में जान फूंक ,उन्हें सजीव बनाती;


मन को रिमझिम फुहारों से, सारोबार करती है ये बारिश;

सभी के लिए जीवन दायिनी होती है, ये सुहानी बारिश।


कभी कभी अपने रौद्र रूप से ,तेज बरस साफ करती है ये धरती;

गर्मी से तपती इस धरा को,शीतलता की चादर ओढ़ा देती;

हमारी इस वसुंधरा के लिए, प्रकृति को नवीन श्रृंगार देती ;


निराशा के बीच आशा की किरण बनती है,ये जीवन दायिनी बारिश।

अगला लेख: ज़िन्दगी के पल



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
23 अगस्त 2020
रे
रेत पर उकेरी गई आकृति,मेरा वजूद इतना सा ही कुछ समय का; कलाकार ने उकेरा बड़ी शिद्दत से,चित्रण कर दिया अपनी भावनाओं का।मैं बनी इतनी सुन्दर कि, मुझे मिटाने के लिए खड़े तैयार है दुश्मन;चलती हवा और लहरें पानी की,कर
23 अगस्त 2020
27 अगस्त 2020
कब तक तुम मुंह मोडोगे, आखिर सच्चाई से ; कब तक मुंह छुपाओगे ,सच्चाई जानने वालों से।झूठे ख्वाबों के ढेर पर बैठ,कब तक खुशफहमी पालेंगे;नकली खुशियों के ये ढेर,यूं ही जल्दी से बिखर जाएंगे।वास्तविकता आधार पर टिकी है,गलतफहमी ना पालों;बनावटी बातों का आधार नहीं, कोई खुशफहमी ना पालों
27 अगस्त 2020
12 अगस्त 2020
मैं एक आम आदमी ,मेरी औकात है बस इतनी सी; ठिठक जाते है पैर मेरे,देख सामने वी आई पी एंट्री;चक्के जाम हो जाते वाहन के मेरे, वी आई पी रोड पे;किसी सरकारी ऑफिस में ,झिझक जाता है वजूद मेरा;किसी मंदिर की वी आई पी लाइन से,हट जाता साया भी मेरा;मैं एक
12 अगस्त 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x