अटल जी की जयंती

24 दिसम्बर 2020   |  अभिनव मिश्र"अदम्य"   (466 बार पढ़ा जा चुका है)

अटल जी की जयंती

#मुक्तक

रत्न पुरुष बन विश्व पटल पर, नाम देश का बढा गया।

हिन्द देश का कलम सिपाही, पाठ सहिष्णुता पढ़ा गया।

आज जयंती पर उसकी आ, मिलके शीश नवाएं हम

इतिहासों के पन्नो पर जो, नाम अटल इक चढ़ा गया।


अदम्य

अगला लेख: शारदे वन्दना



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
18 दिसम्बर 2020
मं
पढ़िए मंगू की
18 दिसम्बर 2020
17 दिसम्बर 2020
कलाधर छन्दशारदे समग्र शुद्ध, भाव का विचार सार,दिव्य ज्ञान की मिठास, मातु आप दीजिये।काम क्रोध मोह लोभ, पाप को मिटाय मातु,चित्त की मलीनता को, दूर आप कीजिये।कीजिये विनाश मातु, रोग दोष का सदैव,अंधकार को मिटा, हमे उबार लीजिये।धर्म कर्म रीति नीति, सभ्यता स्वभाव शान्ति,सत्य नेह भावना, सुज्ञान मातु दीजिये।अ
17 दिसम्बर 2020
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x