जिससे यह तन मन रंग जाए

31 मार्च 2021   |  कात्यायनी डॉ पूर्णिमा शर्मा   (410 बार पढ़ा जा चुका है)

जिससे यह तन मन रंग जाए

22 मार्च को WOW India की ओर से डिज़िटल प्लेटफ़ॉर्म ज़ूम पर रंगोत्सव मनाने के लिए एक काव्य सन्ध्या का आयोजन किया गया... जिसमें बड़े उत्साह से सदस्यों ने भाग लिया... कार्यक्रम की अध्यक्षता की वरिष्ठ साहित्यकार डॉ रमा सिंह ने और संचालन किया WOW India की Cultural Secretary लीना जैन ने... सभी कवयित्रियों के काव्य पाठ को आज से हम एक एक करके अपने चैनल पर अपलोड कर रहे हैं... कार्यक्रम में होलाष्टक के विषय में बताते हुए संचालिका महोदया के अनुरोध पर होली के सम्बन्ध में हमने भी एक रचना प्रस्तुत की थी...”जिससे यह तन मन रंग जाए”... देखने के लिए कृपया वीडियो पर जाएँ... कात्यायनी डॉ पूर्णिमा शर्मा...

https://youtu.be/BKDlDAS4-rs

अगला लेख: होली है हुडदंग मचा लो



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
10 अप्रैल 2021
नमस्कारमित्रों, स्वागत है आज फिर से आप सबका हमारेकार्यक्रम “कुछ दिल से - मेरी बातें” में... अभी तेरह अप्रैल से माँ भगवती कीउपासना का पर्व नवरात्र आरम्भ होने जा रहे हैं... नवरात्र... जिसमें पूजा अर्चनाकी जाती है शक्ति की... इस अवसर प्रायः प्रत्येक घर में बहुत ही श्रद्धाभाव सेदेवी के नौ रूपों की उपासन
10 अप्रैल 2021
11 अप्रैल 2021
व्रतऔर उपवासव्रत शब्द का प्रचलित अर्थ है एकप्रकार का धार्मिक उपवास – Fasting – जो निश्चितरूप से किसी कामना की पूर्ति के लिए किया जाता है | यह कामनाभौतिक भी हो सकती है, धार्मिक भी और आध्यात्मिक भी | कुछ लोग अपने मार्ग में आ रही बाधाओं को दूर करने के लिए व्रत रखते हैं, कुछ रोग से मुक्ति के लिए, कुछ लक
11 अप्रैल 2021
17 मार्च 2021
एक हाथ की मुट्ठी खुली हुई है दूसरी मुट्ठी बंद है जो मुट्ठी खुली हुई है , वह खाली है इसने संजोकर कुछ भी नहीं रखा न आँसू न गम न एहसास न जज्बात जो भी मिला थोड़ा थोड़ा सब में बाँट दिया और जो खुद से भी लिखा पढ़ा नहीं गया वह दिल में दफ़न
17 मार्च 2021
12 अप्रैल 2021
सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तुनिरामयाःसर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चितदुःखभाग्भवेत।।भारतीय वांगमय में सदा सबके कल्याणकी कामना की गई है | उसे ही सार्वभौम मानव धर्म माना गया है | प्रार्थना की गई हैकि सभी प्रसन्न रहे, सभी नीरोगी रहें, सभी के समस्त कर्म सिद्ध हों, किसी को भीकिसी प्रकार का कष्ट न मिले..
12 अप्रैल 2021
31 मार्च 2021
22 मार्च को WOW India की ओर से डिज़िटल प्लेटफ़ॉर्म ज़ूम पररंगोत्सव मनाने के लिए एक काव्य सन्ध्या का आयोजन किया गया... जिसमें बड़े उत्साहसे सदस्यों ने भाग लिया... कार्यक्रम की अध्यक्षता की वरिष्ठ साहित्यकार डॉ रमासिंह ने और संचालन किया WOW India की Cultural Secretary लीना जैन ने... सभी कवयित्रियों के काव
31 मार्च 2021
31 मार्च 2021
22 मार्च को WOW India की ओर से डिज़िटल प्लेटफ़ॉर्म ज़ूम पररंगोत्सव मनाने के लिए एक काव्य सन्ध्या का आयोजन किया गया... जिसमें बड़े उत्साहसे सदस्यों ने भाग लिया... कार्यक्रम की अध्यक्षता की वरिष्ठ साहित्यकार डॉ रमासिंह ने और संचालन किया WOW India की Cultural Secretary लीना जैन ने... सभी कवयित्रियों के काव
31 मार्च 2021
29 मार्च 2021
आज सभी रंगों से होली खेल रहे हैं... होली... जो पर्व हैरंगों का... रूठे हुओं को मनाने का... मन की सारी नकारात्मकता होलिका के साथ दहनकरके सकारात्मकता के रंगों से होली खेलने का... मेल मिलाप का... हमारे अपनेकार्यक्रम “मेरी बातें” में आप सभी का स्वागत है... होली के हुडदंग के साथ... प्रस्तुतहैं कुछ पंक्ति
29 मार्च 2021
14 अप्रैल 2021
माँ दुर्गा की उपासना के लिए पूजन सामग्रीसाम्वत्सरिकनवरात्र आरम्भ हो चुके हैं | इस अवसर पर नौ दिनों तक माँ भगवती के नौ रूपों कीपूजा अर्चना की जाती है | कुछ मित्रों ने आग्रह किया था कि माँ दुर्गा की उपासनामें जिन वस्तुओं का मुख्य रूप से प्रयोग होता है उनके विषय में कुछ लिखें | तो, सबसे पहले तो बतानाचा
14 अप्रैल 2021
30 मार्च 2021
शा
शाख से है रंग उड़ा मन है बेरंग सा होंठ पर है धूप खिला दर्द ने है आह भरा रंग पर जब रंग चढ़ा रूह से आवाज़ आई ये ज़िन्दगी है आयशा ये भी ज़िन्दगी है क्या
30 मार्च 2021
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x