पाकिस्तानी सेना की प्रेस कॉन्फ्रेंस, दी धमकी कहा “24 घंटे में ऐसा जवाब देंगे कि भारत देखता रह जायेगा”

27 फरवरी 2019   |  अंकिशा मिश्रा   (142 बार पढ़ा जा चुका है)

पाकिस्तानी सेना की प्रेस कॉन्फ्रेंस, दी धमकी कहा “24 घंटे में ऐसा जवाब देंगे कि भारत देखता रह जायेगा”

पुलवामा हमले के बाद पूरे भारत के खिलाफ आक्रोश भरा हुआ था जिसके चलते वो सरकार से जल्द से जल्द कड़ा जवाब देने की गुज़ारिश कर रहे थे। आखिरकार सरकार ने देशवासियों की सुनी और पाकिस्तान को जवाब दिया। जवाब में इंडियन एयर फोर्स ने 26 फरवरी को पाकिस्तान में हमला कर तीन आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया। अनौपचारिक तौर पर इसे नाम दिया गया सर्जिकल स्ट्राइक 2.O। जैसे ही इस हमले की बात सामने आयी वैसे ही पूरे पाकिस्तान में बौखलाहट शुरू हो गई। फिर क्या मीडिया, क्या सोशल मीडिया और क्या वहां के नेता, सब के सब भारत के खिलाफ बयानबाजी करने लगे। लेकिन हमला इंडियन एयरफोर्स ने किया था, जो सबसे पहले जवाबदेही प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री की थी। दोनों ने अपने-अपने हिसाब से इस हमले के बारे में बात की। लेकिन इस हमले पर सबसे बड़ी जवाबदेही पाकिस्तानी सेना की थी। तो पाकिस्तान की सेना की तरफ़ से डीजी आईएसपीआर मेजर जनरल आसिफ गफूर मीडिया के सामने आए और इस हमले के बारे में तफ्सील से बताया।


Gafoor2

गफूर ने कहा कि पाकिस्तान ऐसा जवाब देगा कि भारत देखता रह जाएगा।

डीजी आईएसपीआर मेजर जनरल आसिफ गफूर ने भारत की मीडिया के स्क्रीन शॉट्स दिखाते हुए बताया कि भारत का दावा है कि उनकी एयरफोर्स ने 21 मिनट तक पाकिस्तान में बन गिराए और 350 आतंकी मार दिए। लेकिन भारत के दावे को खारिज करते हुए गफूर ने कहा कि इंडियन एयरफोर्स की हिम्मत नहीं है कि वो 21 मिनट तक पाकिस्तान में रह सकें। गफूर का दावा है कि 14 फरवरी के बाद दोनों देशों की एयरफोर्स तैयार थी। इंडियन एयरफोर्स का पहला फाइटर प्लेन 26 फरवरी की सुबह लाहौर सियालकोट बॉर्डर के पास देखा गया और हमारे राडार ने इसे पकड़ा। इसके बाद दूसरा फाइटर प्लेन भी दिखा तो पाकिस्तान एयरफोर्स की टीम ने उसे जवाब दिया। पता चला कि इंडियन एयरफोर्स की तीसरी टीम मुजफ्फराबाद सेक्टर में किरन वैली की तरफ से आ रही है और ये बड़ी टीम है। इसके बाद पाकिस्तान एयरफोर्स ने इसे चैलेंज किया तो इंडियन एयरफोर्स एलओसी पार कर गई। गफूर का दावा है कि इंडियन एयरफोर्स के आने-जाने का कुल टाइम सिर्फ 4 मिनट रहा है और जब पाकिस्तान ने जवाब दिया तो वो भाग गए। भागते हुए उन्होंने खाली जगह पर चार बम गिराए और इन्होंने किसी को भी टारगेट नहीं किया। गफूर के मुताबिक इंडियन एयरफोर्स का मकसद किसी ऐसी जगह पर हमला करना था, जो सेना का न हो और जिससे दावा किया जा सके कि ये आतंकी थे, जो मारे गए। उनका मकसद सिर्फ सियासी फायदा लेना था। गफूर ने कहा कि अगर इंडियन एयर फोर्स ने पाकिस्तान की एयरफोर्स या मिलिट्री पर हमला किया होता, तो उसे जवाब मिला होता।


Capture1

तस्वीर गफूर के दावे को झुठलाने के लिए काफी है. सच तो ये है कि इंडियन एयर फोर्स के इस हमले से पाकिस्तान बौखला गया है। डीजी आईएसपीआर मेजर जनरल आसिफ गफूर ने अपनी मीडिया से कहा कि वो चाहते थे कि पत्रकार उस जगह पर जाएं, जहां भारत ने बम गिराए हैं। लेकिन मौसम खराब होने की वजह से वो प्लेन से मीडिया को वहां नहीं ले जा सकते। रोड से जाने की बात पर गफूर ने कहा कि जब तक रोड से मीडिया वहां पहुंचेगा, अंधेरा हो जाएगा। इसके बाद गफूर ने धमकी देते हुए कहा कि मैंने पहले भी कहा था कि हम ऐसा कदम उठाएंगे कि आपको आश्चर्य होगा तो आप इसका इंतजार करिए। मैंने कहा था कि जवाब मिलेगा, तो जवाब मिलेगा और अलग तरीके से मिलेगा, इसका इंतजार करिए। गफूर ने कहा कि भारत ने लड़ाई का रास्ता चुना है तो हम पीछे नहीं हटेंगे।27 फरवरी को संसद का जॉइंट सेशन है। इसके बाद फैसला लिया जाएगा। अवाम तैयार है, पाकिस्तान के लोग तैयार हैं और एक जुट हैं। अब भारत को पाकिस्तान के जवाब का इंतजार करना है। जवाब मिलेगा और तब मिलेगा जब हम चाहेंगे. इसके लिए अगले 24 घंटे का इंतजार करिए।


जब पाकिस्तानी मीडिया ने सवाल किया तो गफूर ने जवाब देते हुए कहा कि हम इन बंदरों को शांत कर देंगे, लेकिन उस तरह से नहीं, जैसा वो चाहते हैं. हम हमला उस तरह से करेंगे, जैसा हम चाहते हैं। हम ये ज़रूर करेंगे और पूरी दुनिया इसे देखेगी। हम दुनिया को दिखाएंगे कि भारत क्या चाहता है। पलटकर हमला न करने पर गफूर ने कहा कि अगर इंडियन एयरफोर्स के फाइटर प्लेन पाकिस्तान में कुछ वक्त तक रहते तो हम उन्हें मार गिराते। लेकिन वो तो आए और चले गए। हम भी चाहते तो बॉर्डर पार करते और भारत पर हमला कर देते, लेकिन हमने ऐसा नहीं किया, क्योंकि हमने पहले भी कहा था कि हमारा जवाब अलग तरीके का होगा। इसलिए आप इंतजार करिए. पाकिस्तान भारत को हर तरीके से जवाब देगा।




लेकिन अपनी मीडिया से बात करते हुए गफूर ये भूल गए कि इंडियन एयरफोर्स पाकिस्तान में घुसी थी और पाकिस्तानी एयरफोर्स उसे छू भी नहीं सकी। गफूर को इतना ही पता होना चाहिए था कि जो पाकिस्तानी सेना खराब मौसम में अपने हेलिकॉप्टर नहीं उड़ा सकती, वो भारत पर हमला क्या करेगी और रही बात बंदरों को शांत करने की, तो शायद गफूर ने रामायण भी नहीं पढ़ी होगी, जिसमें एक बंदर ने सोने की लंका को राख में मिला दिया था। उस लंका को, जिसके राजा के झूठे अभिमान का सिक्का उस वक्त पूरी दुनिया में चलता था। आज पूरे हिंदुस्तान में उस बंदर की पूजा होती है और लोग उन्हें महावीर, हनुमान जैसे कई और नाम से जानते हैं। अगर गफूर ने या फिर पाकिस्तानी मीडिया ने उस भारतीय बंदर की कहानी पढ़ी होती, तो वो इंडियन एयरफोर्स को बंदर कहने की हिम्मत नहीं जुटा पाते।

अगला लेख: Red Fort: जानिए दिल्ली के लाल क़िले का इतिहास और अन्य रोचक तथ्य...



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
19 फरवरी 2019
Love Shayari in hindi for Boyfriend : प्यार इस दुनिया मे भगवान द्वारा बनाई गयी सबसे खूबसूरत चीज़ है। प्यार का रिश्ता हर रिश्ते से बढ़कर होता है। यह सिर्फ़ एक एहसास और महसूस किया जाने वाला रिश्ता है।आज हम आपके लिए कुछ ऐसी दिल छूने वाली लव शायरी हिन्दी में गर्लफ्रेंड और बॉ
19 फरवरी 2019
18 फरवरी 2019
Sugar me kya khana chahiye: शुगर एक ऐसी बीमारी है जो या तो अनुवांशिक होती है यह फिर आपके लाइफ स्टाइल के कारण अर्थात आज कल के आरामतलब जीवनशैली ने मनुष्य को शारीरिक तौर पर बहुत हद तक निष्क्रिय कर दिया है और वर्तमान खाने पिने के तरीकों से मनुष्य में मोटापा आम तौर पर देखा जा सकता है और यही सबसे बड़ा कारण
18 फरवरी 2019
13 फरवरी 2019
संगीत हर किसी की ज़िंदगी में बहुत ही महत्वपूर्ण जगह रखता है क्योंकि संगीत ही है जिससे हमें हर मूड में आराम महसूस होता है और ये हमारा मस्तिष्क को भी शांत रखने में मदद करता है। संगीत जीवन में कई कारणों से महत्वपूर्ण होता है साथ ही ज़िंदगी में बहुत ही अहम भूमिका निभाता है। संगीत के ज़रिये हम अपनी भावनाओ
13 फरवरी 2019
12 फरवरी 2019
आज कल हम देखते हैं की कुछ योग्यतापूर्ण छात्रों के बड़े बड़े सपने होते हैं| वे अपने और अपने परिवार के हर सपने को पूरा करना चाहते हैं| उनके अंदर योग्यता भी भरपूर रहती है लेकिन उनकी कमजोर आर्थिक स्थिति उन्हें उनकी जिंदगी से काफी पीछे छोड़ देती है| आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण वे अपनी शिक्षा पूरी नहीं
12 फरवरी 2019
14 फरवरी 2019
मधुबाला (Madhubala) की आज 86th जयंती है. मधुबाला का जन्म 14 फरवरी 1933 को दिल्ली में हुआ था। जब पूरी दुनिया वैलेनटाइन (Valentine's Day) मना रही है, तो गूगल (Google) ने इस वैलेनटाइन (Valentine's Day) को और भी खास कर दिया है। वजह है बॉलीव
14 फरवरी 2019
01 मार्च 2019
इमरजेंसी की हालत में इंडियन एयर फोर्स के पायलट अभिनंदन को विमान से इजेक्ट करना पड़ा. जिसके चलते वह गलती से दुश्मन देश पाकिस्तान के इलाके में पहुंच गए. इसके बाद पाक सेना ने उन्हें पकड़ लिया.हालांकि अभिनंदन के मामले में अच्छी बात ये है कि समय से पाकिस्तान ने मान लिया कि अभिनंदन उनके कब्जे में हैं. लेक
01 मार्च 2019
12 फरवरी 2019
Red Fort (लाल किला) भारत में दिल्ली शहर का एक ऐतिहासिक किला है। यह 1856 तक, लगभग 200 वर्षों तक मुगल वंश के सम्राटों का मुख्य निवास रहा है। यह दिल्ली के केंद्र में स्थित है और जहां कई संग्रहालय हैं। बादशाहों और उनके घरों को समायोजित करने के अलावा, यह मुगल राज्य का औपचारिक और राजनीतिक केंद्र था और इस
12 फरवरी 2019
20 फरवरी 2019
ज़िंदगी से ज्यादा वो मौत का सच जानना चाहता था. मौत के बाद की सच्चाई पता लगाना चाहता था. मुर्दों को ढूंढना उसका शौक़ था. मुर्दों से बात करना उसका शग़ल. अनजान और अदृश्य लोगों की पहेली बुझाना उसका पेशा. लेकिन अब खुद उसी की मौत एक पहेली बन गई थी.ये कहानी है गौरव तिवारी की। अपनी महारत, खास मशीन और कैमरे
20 फरवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x