जरूरी खबर: बैंक ग्राहकों को अब बैंक खुलने का नहीं करना होगा 10 बजने का इंतजार ! बदल गए नियम..

13 अगस्त 2019   |  स्नेहा दुबे   (489 बार पढ़ा जा चुका है)

जरूरी खबर: बैंक ग्राहकों को अब बैंक खुलने का नहीं करना होगा 10 बजने का इंतजार ! बदल गए नियम..

आज के समय में युवाओं को किसी भी सरकारी विभाग में कोई भी पद पर नौकरी मिल जाए तो ये उनके लिए सौभाग्य की बात हो जाती है। अगर ये नौकरी बैंक की हो जाए तो पांचों उंगलियां घी में और सिर कढ़ाई में वाली कहावत लागू हो जाती है। बैंक की नौकरी का समय सबसे सूटेबल और आरामदायक होता है तभी लोग दिन रात पढ़कर बैंक की नौकरी को क्लियर करते हैं। सभी को पता है कि बैंक की नौकरी 10 से 5 होती है लेकिन अब इसका समय बदल गया है। ये बदलाव सिर्फ सरकारी बैंकों में हुआ है और प्राइवेट बैंक इस खबर का हिस्सा नहीं है। डिजिटल ट्रांजेक्शन के तेजी से बढ़ावे में भले ही बैंक की शाखाओं पर यूजर्स कम निर्भर होते हैं लेकिन अभी भी तमाम ऐसी भीड़ है जिनका काम बैंकों के ब्रांच में जाकर पूरा होता है। अगर आप भी आमतौर पर अपने बैंक की ब्रांच में जाते रहते हैं तो ये खबर आपको पूरी पढ़नी चाहिए।


बदल गया सरकारी बैंकों का समय


सरकारी बैंक

आज के दौर में बहुत से लोग नेट बैंकिग के तेजी से बढ़ते रूझानों के कारण बैंकों में ज्यादा भीड़ नहीं होती है लेकिन ग्रामिण बैंकों में आज भी अच्छी भीड़ होती है। अगर आप भी अपने तमाम कामों के लिए बैंक ब्रांच पर निर्भर हैं तो आपको बता दें कि अब सरकारी बैंक 10 बजे की जगह 9 बजे खुलेंगे और काम भी 9 बजे से ही शुरु हो जाएगा। फाइनेंस मिनिस्ट्री की बैंकिंग डिवीजन ने सरकारी बैंकों का टाइम बदलने का फैसला लिया है। अमूमन सरकारी बैंकों में 10 बजे से काम शुरु होता है लेकिन वित्त मंत्रालय की बैंकिंग डिविजन ने सभी सरारी और क्षेत्रीय ग्रामिण बैंकों के सुबह 9 बजे खुलने का फैलसा बताया है। जून में बैंकों के खुलने के समय को लेकर वित्त मंत्रालय के बैंकिंग डिविजन ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से एक मीटिंग रखी थीं। इस मीटिंग में तय किया गया था कि बैंकों के कामकाज ग्राहकों की सुविधा के हिसाब से होने चाहिए और इसके लिए बैंकों के खुनले के समय को मंजूरी दी गई। इंडियन बैंक एसोसिएशन (IBA) ने 24 जून को ग्राहकों की सुविधा पर गठित उपसमिति की बैठक में बैंक शाखा खुलने के तीन विकल्प पेश किए थे।


पहले दी जाएगी यहां सूचना


सरकारी बैंक

IBA द्वारा मीटिंग में इन तीन विकल्पों का जिक्र हुआ था। पहले विकल्प में सुबह 9 से 3 बैंक खुलने का समय सामने आया, दूसरे में 10 से 4 बजे का और तीसरे ऑप्शन में 11 से 5 बजे तक का समय दिया गया था। आईबीए ने बैकों से कहा कि 31 अगस्त तक जिला स्तरीय ग्राहक समन्वय समिति की बैठक करके बैंकिंग टाइम के बारे में निर्णय ले सकें और इस बारे में स्थानीय समाचार पत्र में भी जानकारी दे दें। इसके साथ ही ये बात भी रखी गई कि कीहं पर ग्राहक देर से बैंक की सर्विस चाहते हैं तो वहां पर सुबह 10 से 11 बजे बैंक खोलने का ऑप्शन रखा जाए। बैंकिंग डिविजन की तरफ से किया गया ये फैसला सभी सरकारी और क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों पर लागू होगा।

अगला लेख: राहुल गांधी को अपने नाम की वजह से ना सिम मिला ना लोन !



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
12 अगस्त 2019
साल 2014 में भाजपा की प्रचंड जीत के बाद देश के लोगों ने इसके नेतृत्व करने वाले नरेंद्र मोदी को मान लिया था। इसके 5 सालों के बाद लोकसभा चुनाव-2019 में भी उससे ज्यादा वोट्स से जीत हासिल करने के बाद लोगों को लग गया कि अब कुछ भी हो जाए लेकिन नरेंद्र मोदी में कुछ बात तो है जिससे जनता इनसे आसानी से कनेक्ट
12 अगस्त 2019
07 अगस्त 2019
आज देश अपनी दमदार लीडर को खोने का गम मना रहा है और उनका नाम सुषमा स्वराज है जिनका निधन 7 अगस्त की शाम को दिल्ली के AIIMS अस्पताल में हो गया था। सुषमा स्वराज का नाम राजनीति में स्वर्णिम अक्षरों से लिखा जाएगा और भारतीय राजनीति के इतिहास में उनका योगदार अहम रहा है। सुषमा स्वराज हमेशा लोगों की मदद के लि
07 अगस्त 2019
02 अगस्त 2019
बॉलीवुड में पार्टी, शराब और शबाब का दौर पुराने समय से ही चलता आ रहा है। यहां पर फिल्मों में आप अपने सितारों को जितना अच्छा मानते हैं लेकिन हर सितारा असल जिंदगी में अच्छा हो ये जरूरी नहीं होता। आज की युवा अपने फेवरेट स्टार को देखकर ही सीख रही है और अगर वे अपने फेवरेट स
02 अगस्त 2019
01 अगस्त 2019
जब कोई नई सरकार आती है तो जनता को उम्मीद हो जाती है कि ये सरकार उनकी उम्मीदों पर खरा उतरेगी। उनके लिए सबसे भारी महंगाई को कुछ तो कम करेगी लेकिन जब ऐसा नहीं होता है तब जनता भड़क जाती है और यही सरकार को गिराने का असरदार काम करती है। अब मे
01 अगस्त 2019
31 जुलाई 2019
Pratlipi एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जहां खुले विचारों से आप कुछ भी लिख सकते हैं। ये एक ऑनलाइन वेबसाइट है जहां पर आप किसी भी विषय पर लिखकर खुद पब्लिश कर सकते हैं। इसका मुख्यालय बैंगलुरू में है और इस वेबसाइट पर आ
31 जुलाई 2019
05 अगस्त 2019
बहुत दिनों से जम्मू कश्मीर में हलचल थी और 10 हजार से ज्यादा लोगों को वहां पर तैनात कर दिया गया था क्योंकि हालात कभी भी बिगड़ सकते थे। कुछ भी हो सकता था और लोगों में एक डर का माहौल था लेकिन अब वो बातें खत्म हो चुकी हैं। केंद्र सरकार ने 5 अगस्त को एक एतिहासिक फैसला लिया है और जिसमें जम्मू एंड कश्मीर स
05 अगस्त 2019
08 अगस्त 2019
भारत में हर तरह की बातें होती हैं लेकिन महिलाओं को लेकर सुरक्षा का मामला बिल्कुल सीरियसली नहीं लिया जाता। यहां पर मां-बहन की गालियां देकर लोग इसमें अपनी वाहवाही समझते हैं जबकि वो लोग नहीं जानते हैं वे अपने ही घरवालों का समाज में मजाक बनवा रहे हैं। भारत की महिलाएं सुरक
08 अगस्त 2019
31 जुलाई 2019
दुनिया में बहुत सी चीजें अजीबों गरीब हैं और लोगों को ऐसी ही चीजें पसंद होती है। अगर किसी इंसान का नाम किसी सेलिब्रिटीज से मिलता जुलता है तो लोग उनका मजाक बनाने लगते हैं। कुछ ऐसा ही हाल मध्य प्रदेश के इस युवक के साथ हुआ जब अपने नाम के कारण कुछ परेशानियों का सामना करना
31 जुलाई 2019
12 अगस्त 2019
आजादी कौन नहीं चाहता....एक पक्षी भी पिंजड़े में फड़फड़ाता है क्योंकि उसे आजादी चाहिए होती है। जब बकरे को काटने के लिए ले जाते हैं तब भी आजादी की चाहत लिए बकरा चिल्लाता रहता है क्योंकि हम सभी जानते हैं कि आजादी है तो जीवन है वरना इंसान घुटने लगता है। मगर आज से करीब 73 साल पहले भारत देश गुलाम था अंग्र
12 अगस्त 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
गा
23 अगस्त 2019
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x