हमारे दिलों में जयजयकार बनके

16 अगस्त 2018   |  आयेशा मेहता   (65 बार पढ़ा जा चुका है)

हमारे दिलों में जयजयकार बनके  - शब्द (shabd.in)

क्या लिखूँ उनके लिए ?

जो करोड़ो दिलों पर राज किए ा

कौन नहीं है आपके कायल ?

सम्पूर्ण राष्ट्र को आप गौरवान्वित किये ा

मिट गया है शरीर आपका ,

पर हमेशा जीवित रहेंगे ,

हमारे दिलों में जयजयकार बनके ा

अगला लेख: सूरज की अपार ज्योति हूँ !



रेणु
17 अगस्त 2018

प्रिय आयशा-- आपने थोड़े शब्दों में बहुत ही भावभीनी श्रद्धांजलि दी है सर्वप्रिय दिवंगत अटल जी को ------------

मंजु तंवर
17 अगस्त 2018

बहुत अच्छा लिखा हैं

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
29 अगस्त 2018
दि
मुझे अपनी मोहबत दे दो इतनी सी मुझ पे इनायत कर दो बरस रहा है सावन लेकिन दिल तो मेरा प्यासा है अपने प्यार कि मुझ पे बरसात कर दो खुद को भूल
29 अगस्त 2018
29 अगस्त 2018
फि
वक़्त तूने फिर वही कहानी दोहराई फिर से दिल टुटा फिर से आँख भर आई फिर से तन्हाई फिर से रुस्वाई , फिर से बेवफाई फिर से दिल तूने प्यार में चोट खाई कहा खो गई है मंज़िल
29 अगस्त 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x