जमशेदपुर : द स्टील सिटी

23 अगस्त 2018   |  Pratibha Bissht   (97 बार पढ़ा जा चुका है)

 जमशेदपुर : द स्टील सिटी

भारत के मुख्य औद्योगिक शहरों में से एक जमशेदपुर समुद्र तल से 159 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। जमशेदपुर को मूल रूप से साकी कहा जाता था, वर्ष 1919 में शहर का नाम जमशेदजी नुसरवानजी टाटा के नाम पर बदल दिया गया था। जमशेदजी नुसरवानजी टाटा Jamshedpur शहर के संस्थापक थे इनका जन्म 3 मार्च 1839 को हुआ था। इन्होंने जमशेदपुर में लौह और इस्पात कार्यों की नींव रखी। वह टाटा स्टील के संस्थापक थे और उन्होंने शहर के विकास में बहुत योगदान दिया। जमशेदपुर रेलवे स्टेशन को टाटा नगर के रूप में जाना जाता है। जमशेदपुर टाटा समूह का आधार रहा है। यही वह जगह है जहां भारत का पहला इस्पात संयंत्र स्थित है। जमशेदपुर खरकई और सुबरनरेखा नदियों के संगम पर स्थित है। सुबरनेखा पश्चिम से दक्षिण पूर्वी हिस्से में बहती है।


जमशेदपुर की खासियत

Jamshedpur



जुबली पार्क: जुबली पार्क स्टील शहर, जमशेदपुर में स्थित है। यह एक विशाल पार्क है, जो शहर के केंद्र में लगभग 225 एकड़ भूमि फैला हुआ है। इसके अंदर एक झील, मनोरंजन पार्क, फव्वारे और एक चिड़ियाघर है। पार्क के केंद्र में एक संगीत फव्वारा पार्क की सुंदरता को और भी बढ़ा देता है। इस पार्क को टाटा स्टील कंपनी से 1958 में अपने स्वर्णिम जयंती वर्ष पर जमशेदपुर के नागरिकों को एक उपहार के रूप में दिया था। इस पार्क को बनाते समय मैसूर के वृंदावन बागानों को प्रेरणा के रूप में इस्तेमाल किया गया था। इस पार्क में श्री टाटा की मूर्ति भी है और इसे "जमशेदपुर के मुगल गार्डन" के नाम से भी जाना जाता है।

डिमना झील : डिमना झील जमशेदपुर में एक कृत्रिम झील, यह डालमा पर्वत श्रृंखला की तलहटी में स्थित है और यह झील अपनी शांति और सुखद हरियाली के लिए प्रसिद्ध है। यह झील अपने साफ पानी और सुंदर परिवेश के साथ साथ एक पिकनिक स्पॉट के रूप में भी जानी जाती है और यह नौकायन, रोइंग और जेट स्कीइंग जैसी जल गतिविधियो की सुविधा उपब्लध है। झील पे आयोजित होने वाले साहसिक खेल अधिकांश पर्यटकों के लिए आकर्षण का एक केंद्रीय बिंदु है। टाटा स्टील एडवेंचर फाउंडेशन का एक उपखंड, कई पर्यटकों को ट्रेक, नौकायन और जेट स्कीइंग जैसे ट्रेक और पानी के खेल के लिए पैकेज प्रदान करता है।

टाटा स्टील जूलॉजिकल पार्क (टाटा स्टील प्राणि उद्यान): जुबली पार्क के अंदर स्थित, टाटा स्टील जूलॉजिकल पार्क एक अव्यवस्थित चिड़ियाघर है जिसमें वन्यजीवन का प्राकृतिक आवास है। इस जूलॉजिकल पार्क में एक सफारी पार्क है, जिसमें पर्यटक सवारी के माध्यम से जंगली जानवरों को उनके प्राकृतिक आवास में देख सकते हैं।

जयंती सरोवर टाटा स्टील जूलॉजिकल पार्क पास में स्थित है, जो पर्यटकों को विभिन्न नौकायन और जल-खेल गतिविधियों प्रदान करता है।

भुवनेश्वरी मंदिर: भुवनेश्वरी मंदिर जमशेदपुर के खारंगजहर बाजार के पास 500 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है और इसे लोकप्रिय रूप से टेल्को भुवनेश्वर मंदिर के नाम से जाना जाता है। मां भुवनेश्वरी द्वारा स्थापित, मंदिर में शिव, कृष्ण इत्यादि सहित अन्य देवताओं की मूर्तियां भी हैं।

डालमा वन्यजीव अभयारण्य: डालमा वन्यजीव अभयारण्य अपने वन पर्यटन के लिए प्रसिद्ध है, लेकिन यह के निवासियों के लिए, यह जंगली हाथियों की वजह से अधिक परिचित है।

1975 में स्थापित इस वन्यजीव अभयारण्य का उद्घाटन संजय गांधी द्वारा किया गया था , यह वन्यजीव अभयारण्य डालमा वन जानवरों, पक्षियों और वृक्ष प्रजातियों का घर है।

जेआरडी टाटा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स: Jamshedpur में उत्तरी टाउन में स्थित, जेआरडी टाटा स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स शहर में सबसे बड़ा खेल परिसर है जिसमें क्षमता लगभग 24000 दर्शक की हैं। परिसर की हाल को फुटबॉल और एथलेटिक्स के लिए उपयोग किया जाता है, इसके अलावा, इसमें तीरंदाजी, हैंडबॉल, मार्शल आर्ट्स, मुक्केबाजी, शूटिंग, शतरंज, योग के लिए सुविधाएं उपलबध हैं।

सर दोराबजी टाटा पार्क: सर दोराबजी टाटा पार्क टाटा स्टील द्वारा बनाया गया था और रसीमोदी को समर्पित किया गया था। बाद में इस पार्क नाम जमशेदजी टाटा के पुत्र सर दोराबजी टाटा के नाम पर रखा गया और सर दोराबजी टाटा की विशाल मूर्ति पार्क में स्थापित की गई।

कीनन स्टेडियम: कीनन स्टेडियम जमशेदपुर के उत्तरी टाउन में स्थित एक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम है। इस स्टेडियम ने 1939 में अपनी स्थापना के बाद से कई अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की मेजबानी की है।

जनजातीय संस्कृति केंद्र: जनजातीय संस्कृति केंद्र जमशेदपुर का एक लोकप्रिय पर्यटक आकर्षण स्थल है जो संथाल, हो, ओरायन, मुंडा और अन्य जनजातियों की समृद्ध संस्कृति को संरक्षित करता है। इस केंद्र में बाबा तिलका माजी, बिरसा मुंडा और सिद्धो-कानू जैसे स्वतंत्रता आंदोलन के नेताओं की विशाल मूर्तियां हैं।

साकची मस्जिद: जमशेदपुर में साची मस्जिद मुगल वास्तुकला का एक शानदार नमूना है। सफेद संगमरमर में निर्मित, मस्जिद में बहु-गुंबद और मीनार हैं। माना जाता है कि यह जमशेदपुर की सबसे बड़ी मस्जिद है और सालाना कई तीर्थयात्रियों यह आते है।


Jamshedpur

रंकिनी मंदिर: रंकिनी मंदिर जमशेदपुर के पास जादुगोडा में स्थित है। काली माता को समर्पित एक पहाड़ी पर स्थित है।

इन प्रमुख पर्यटन स्थलों के अलावा हुडको झील, सेंट मैरीस चर्च, पी एंड एम हाई-टेक सिटी सेंटर मॉल, गोलपहाड़ी मंदिर, भाटिया पार्क आदि घूमने योग्य स्थल है।


जमशेदपुर के बारे में कुछ रोचक तथ्य:


1. यह भारत का पहला नियोजित औद्योगिक शहर है।

2. जमशेदपुर झारखंड राज्य का सबसे बड़ा शहर।

3. जमशेदपुर में टाटा स्टील की दुनिया की दसवीं सबसे बड़ी स्टील निर्माण कंपनी है।

4. जमशेदपुर को 2006-2020 के लिए 2.59 % की औसत वार्षिक वृद्धि के साथ दुनिया के 84 वें सबसे तेजी से बढ़ते शहर के रूप में बताया गया है।

5. मिस इंडिया वर्ल्ड 2000, मिस वर्ल्ड 2000 और बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा का जन्म जमशेदपुर में ही हुआ था।

6. लोकप्रिय भारतीय अभिनेता आर माधवन, फिल्म निर्देशक इम्तियाज अली का जन्म जमशेदपुर में हुआ था।

7.यहाँ कुछ प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थान हैं जैसे एनआईटी जमशेदपुर और एक्सएलआरआई जमशेदपुर।

8. जमशेदपुर भारत में दस लाख जनसंख्या शहर वाला एकलौता शहर है जहा एक नगरपालिका निगम नहीं है। शुरुआत से, टाटा स्टील ने जमशेदपुर की सार्वजनिक उपयोगिता की देखभाल की और कुशलता से सड़क रखरखाव, पानी और बिजली की आपूर्ति, स्ट्रीटलाइट्स, हेल्थकेयर, स्वच्छता आदि किया है।

9. जमशेदपुर में टाटा स्टील ने खेल गतिविधियों को काफी बढ़ावा दिया है इसे झारखंड की खेल राजधानी के रूप में भी जाना जाता है। जमशेदपुर के निजी क्लब गोल्फ, टेनिस, स्क्वैश, बिलियर्ड्स, घुड़सवारी और पानी स्कूटरिंग जैसी गतिविधियों के अवसर प्रदान करते हैं।

 जमशेदपुर : द स्टील सिटी

अगला लेख: मुंबई : सपनो का शहर



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
09 अगस्त 2018
केंद्रीय कैबिनेट ने तीन तलाक विधेयक 2017 में कुछ संशोधन को मंजूरी दे दी है| जिसमें तीन तलाक यानि तलाक-ए-बिद्दत को गैर जमानती अपराध तो माना गया है लेकिन संशोधन के हिसाब से अब मजिस्ट्रेट को बेल देने का अधिकार होगा|इस विधेयक के अनुसार ,
09 अगस्त 2018
09 अगस्त 2018
एक तीन साल के बच्चे के रोने से परेशान होकर एक भारतीय परिवार को लंदन में विमान से नीचे उतार दिया| यह घटना 23 जुलाई को लंदन-बर्लिन फ्लाइट पर हुई |बच्चे के पिता ने नस्लभेदी व्यवहार का आरोप लगाते हुए उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु इस बारे में पत्र लिखा है| रिपोर्ट के मुता
09 अगस्त 2018
10 अगस्त 2018
केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि कैबिनेट ने ट्रिपल तलाक़ बिल में संशोधन को मंजूरी दे दी है। उन्होंने कहा की 2017 में 389 ट्रिपल तलाक के मामले दर्ज हुए हैं और 2017 से 2018 के बीच 229 केस सुप्रीम कोर्
10 अगस्त 2018
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x