गांधीनगर

30 अगस्त 2018   |  Pratibha Bissht   (350 बार पढ़ा जा चुका है)

 गांधीनगर

गुजरात की राजधानी गांधीनगर अपने समृद्ध सांस्कृतिक विरासत, सुंदर मंदिरों और शांत वातावरणके लिए जाना जाता है। गांधीनगर साबरमती नदी के पश्चिमी तट पर स्थित है। देश के सबसे खूबसूरत मंदिर में से एक अक्षरधाम मंदिर यहाँ पे है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नाम पर इस शहर का नाम गांधीनगर रखा गया है, यह चंडीगढ़ के बाद भारत का दूसरा नियोजित शहर है। यह शहर तीस सेक्टर्स में बंटा है। गांधीनगर में इंद्रोडा डायनासोर और फॉसिल पार्क को भारत का जुर्रासिक पार्क माना जाता है। गांधीनगर का इतिहास बताता है कि यह शहर 1960 के आसपास स्थापित हुआ था। मुंबई राज्य को गुजरात और महाराष्ट्र के दो अलग-अलग राज्यों में बांटा गया था, तब से मुंबई महाराष्ट्र का हिस्सा बन गया और गांधीनगर एक राज्य के रूप में गुजरात का हिस्सा बन गया। शहर में ऐतिहासिक प्रासंगिकता है क्योंकि यह कई राष्ट्रीय स्वतंत्रता आंदोलनों का केंद्र था। गांधीनगर को मुख्य वास्तुकार एचके मेवाड़ा और उनके सहायक प्रकाश एम आपटे, द्वारा डिजाइन किया गया था। गांधीनगर उसी भूमि पर बनाया गया था जो 13 वीं शताब्दी में एक बार पेतापुर राज्य का हिस्सा था।


गांधीनगर की खासियत


Gandhinagar


गांधीनगर में गुजरात और महाराष्ट्र की मिश्रित संस्कृति है। हिंदू धर्म यहां का मुख्य धर्म है और गुजराती और हिंदी यहां की प्रमुख भाषाएं हैं। होली, दिवाली और दशहरा के अलावा, गुजरात स्थापना दिवस (1 मई) और नवरात्रों यहां मनाए जाने वाले सबसे लोकप्रिय त्यौहार हैं। गांधीनगर के मुँह में पानी ला देने वाला व्यंजन है- खखरा, बाजरा, पराठा, ढोकला, थेप्ला, खांडवी इत्यादि।

अक्षरधाम मंदिर:

गांधीनगर शहर में अक्षरधाम मंदिर भारत के सबसे बड़े मंदिरों में से एक है, और यह एक प्रमुख तीर्थ स्थल हैं। यह मंदिर स्वामीनारायण को समर्पित है और समकालीन वास्तुकला और शैली का सबसे अच्छा उदाहरण है। हर साल 20 लाख से अधिक लोग इस मंदिर में आते है। मंदिर के प्रमुख आकर्षण स्वामीनारायण की 10 मंजिल लंबी सुनहरी मूर्ति है। इस मंदिर का उद्घाटन 30 अक्टूबर 1992 किया गया था। अक्षरधाम मंदिर 23 एकड़ परिसर के केंद्र में स्थित है, जो राजस्थान से 6,000 मीट्रिक टन गुलाबी बलुआ पत्थर से बनाया गया है। अक्षरधाम मंदिर का मुख्य परिसर 108 फीट ऊंचा है, 131 फीट चौड़ा और 240 फीट लंबा है। अक्षरधाम मंदिर वैदिक वास्तुशिल्प सिद्धांतों के अनुसार बनाया गया है, इसलिए मंदिर में कहीं भी स्टील या लोहे का उपयोग नहीं किया गया है। मंदिर में सबसे लोकप्रिय आकर्षणों में से एक सत-चित-आनंद जल शो है, जो कथोपनिषद में बताए गए नाचिकेता की कहानी का एक चित्रकारी वर्णन है। अक्षरधाम मंदिर नियमित रूप से एक प्रदर्शनी आयोजित करता है जो कला, विज्ञान, संस्कृति और आध्यात्मिकता का प्रचार करता है। अक्षरधाम मंदिर एक विशाल 15 एकड़ उद्यान के बीच स्थित है जो सहजानंद वन के नाम से जाना जाता है। फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी मंदिर परिसर के अंदर प्रतिबंधित हैं, आगंतुकों को परिसर के अंदर भोजन ले जाने की अनुमति नहीं है, मंदिर के अंदर बैग, सामान, मोबाइल फोन, रेडियो और अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान ले जाना भी मना हैं।

अदलज कुएं:

अदलज कुएं एक शानदार संरचना है जो अदलज गांव के आसपास और आसपास पानी के संकट को रोकने के लिए शानदार ढंग से बनाई गई संरचना है।

कुएं गांधीनगर शहर के दक्षिण-पश्चिम में 3 से 4 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। अदलज कुएं 1498 में बनाया गए थे तथा इनका निर्माण राणा वीर सिंह ने शुरू किया था।

राणा वीर सिंह की मौत के बाद, सुल्तान महमूद बेगड़ा की मुलाकात उनकी विधवा रानी रुदाबाई से हुई। उसे रानी रुदाबाई से प्यार हो गया और उनसे शादी करने की कामना की तो रानी रुदाबाई के पास उनके प्रस्ताव को स्वीकार करने के अलावा कोई विकल्प नहीं था। हालांकि, उन्होंने महमूद बेगड़ा के सामने शर्त रखी कि उसे उनके स्वर्गीय पति द्वारा शुरू किए गए कुएं के काम पूरा किया जाना चाहिए। सुल्तान ने उनकी शर्त स्वीकार कर ली।

गांधी आश्रम:

गांधी आश्रम स्वतंत्रता के लिए देश के संघर्ष और औपनिवेशिक युग के दौरान हुई विभिन्न राष्ट्रीय आंदोलनों के प्रतीक है। यह मोहनदास करमचंद गांधी के निवास स्थानों में से एक था, यह वो अपनी पत्नी कस्तूरबा गांधी के साथ बारह साल तक रहे थे।

सरिता उद्यान:

गांधीनगर को अक्सर हरे शहर के रूप में भी जाना जाता है। शहर में कई पार्क और बगीचे शहर को और अधिक सुंदर बनाते हैं। इन में से एक है सरिता उद्यान जो एक पिकनिक स्थान है जो स्थानीय लोगों के बीच काफी लोकप्रिय है, और यह एक हिरण पार्क के नजदीक स्थित है। सरिता उद्यान गांधीनगर सेक्टर नंबर 9 में स्थित है।


Gandhinagar

त्रिमंदिर:

40175 वर्ग फीट से अधिक फैले हुए, जबकि मंदिर पोडियम 20895 वर्ग फीट है।गांधीनगर में त्रिमंदिर जैन धर्म, शैववाद और वैष्णववाद को एक छत के नीचे मनाते हैं। पूरा मंदिर एक सुन्दर हरे बगीचे, लकड़ी के बेंच और एक खूबसूरत विशाल फव्वारे से घिरा हुआ है। मंदिर के परिसर में एक सूचनात्मक संग्रहालय और मिनी-थिएटर भी शामिल है जो इन संस्कृतियों के इतिहास के बारे में दिखाता है।

हनुमानजी मंदिर:

बहादुरी और वफादारी के प्रतीक भगवान हनुमान का सम्मान करने के लिए बनाया गया, गांधीनगर में हनुमान मंदिर स्थानीय लोगों के दिल में जबरदस्त धार्मिक महत्व रखता है। हनुमानजी मंदिर हर रोज हजारों भक्त आते है।

इंद्रोडा डायनासोर पार्क:

इंद्रोदा डायनासोर और जीवाश्म पार्क गुजरात की राजधानी गांधीनगर में साबरमती नदी के किनारे लगभग 400 हेक्टेयर क्षेत्र में फैला है।

इसे दुनिया में डायनासोर अंडे का दूसरा सबसे बड़ा हैचर माना जाता है। भारत के जुर्रासिक पार्क के रूप में सम्मानित, यह गुजरात पारिस्थितिक शिक्षा और अनुसंधान फाउंडेशन (जीईईआर) द्वारा चलाया जाता है, और यह देश में एकमात्र डायनासोर संग्रहालय है। इसमें एक जंगल पार्क भी है जो अपने विशाल जंगल में पक्षियों, सरीसृपों, सैकड़ों नीलगाइयों, लंगूर और मटरों की असंख्य प्रजातियों का घर है।

पुनीत वन:

पुनीत वन का शाब्दिक रूप से गुजराती में अनुवाद होता है पवित्र वन , और इस वनस्पति उद्यान का नाम बड़े ध्यानपूर्वक रखा गया है। इस बगीचे की विशिष्टता यह है कि इसमें 3500 से अधिक पेड़ और पौधे हैं और यह सभी हिंदू पौराणिक कथाओं और ज्योतिषीय महत्व के अनुसार व्यवस्थित हैं। बगीचे को 4 ज्योतिषीय विभाजन में बांटा गया है और पौधों का नाम ग्रहों, सितारों और राशि चक्रों के नाम पर रखा गया है।

चिल्ड्रेन्स पार्क, आलोआ हिल्स रिज़ॉर्ट गोल्फ कोर्स, विठ्ठलभाई पटेल भवन, फन वर्ल्ड, संत सरोवर बांध, शिल्पकारों का गांव, महुदी जैन मंदिर आदि देखने लायक स्थल है।

 गांधीनगर

अगला लेख: एशियाई खेल 2018: राही सरनोबत ने रचा इतिहास



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
21 अगस्त 2018
बेहद आकर्षक, पर्वत और बादलों में घिरा में घिरा शहर गंगटोक सिक्किम की राजधानी है। यहां तक कि जब देश स्वतंत्र
21 अगस्त 2018
31 अगस्त 2018
गुजरात में सौराष्ट्र प्रायद्वीप की पश्चिमी सिरे पर स्थित, द्वारका को "भगवान कृष्ण के घर" के रूप में जाना जाता है। माना जाता है कि द्वारका गुजरात की पहली राजधानी थी। यह प्राचीन काल में कुशस्थली के नाम से ज
31 अगस्त 2018
22 अगस्त 2018
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बुधवार सुबह आतंकवादियों ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के सक्रिय नेता शबीर अहमद भट को गोली मार दी | समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, भट्ट को आतंकवादियों ने उनके निवास पर गोली मारी । बीजेपी सहयोगी जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले के राखी-ए-कूड़े गांव का निवासी था। शबीर अहमद भाट
22 अगस्त 2018
22 अगस्त 2018
बुधवार सुबह पहरगंजइलाके में एकघर में आगलग गई। शहर की पुलिस तुरंतफंसे लोगों कोबचाने के लिए मौके पर पहुंची । यह घटना लगभग 6 बजे हुई थी।समाचार एजेंसी एएनआई नेबताया, "दिल्ली पुलिस टीमतुरंत जगह परपहुंची और अंदरफंस गए लोगोंको बचाया।"रिपोर्ट के अनुसार नीचेके दो फ्लोरमें गोदाम था,जबकि ऊपरी मंजिलपर लोग रहते
22 अगस्त 2018
22 अगस्त 2018
बुधवार को दोपहर दिल्ली में राष्ट्रीय प्रसारक दूरदर्शन के कार्यालय में आग लग गई। दमकलकर्मियों ने मात्र 10 मिनट में ही आग पर नियंत्रण पा लिया | किसी के भी घायल होने की कोई खबर नहीं है। दिल्ली फायर सर्विस को करीब12:50 बजे कॉल आया और पांच फायर इंजनों को मौके पर भेजा गया | मध्य दिल्ली केमंडी हाउस क्षेत
22 अगस्त 2018
21 अगस्त 2018
मध्यप्रदेश के मंदसौरमें आठ वर्षीय लड़की से गैंगेरप करने के दो महीने से भी कम समय बाद, एक विशेष अदालतद्वारा दोषी पाए जाने के बाद दो लोगों को मौत की सजा सुनाई गई। 26 जून को जबवह छुट्टी के बाद अपनेस्कूल के बाहर खड़ी थी और अपने पिता का इंतजार कर रही थी तब दो युवकों ने उस
21 अगस्त 2018
23 अगस्त 2018
प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी वलसाड और जूनागढ़ जिलों में राज्य और केंद्र सरकारों की कई परियोजनाओं को लॉन्च करने के लिए गुरुवार को गुजरात की एक दिवसीय यात्रा पर होंगे, और गांधीनगर में गुजरात फोरेंसिक साइंसेज यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह क
23 अगस्त 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x