गरीब रथ ट्रेन को सरकार खत्म कर रही है !!

05 सितम्बर 2018   |  अखिलेश ठाकुर   (138 बार पढ़ा जा चुका है)

गरीब रथ ट्रेन को सरकार खत्म कर रही है !!

किस्साः

मेरी पढ़ाई हुई है जामिया से. वहां की कैंटीन में एक वक्त 18 रुपए में थाली मिलती थी. कायदा था कि उसमें 2 रोटियां मिलें. लेकिन मिलती थीं 2 पूरियां. वो भी तब तक, जब तक होती थीं. एक बार खत्म तो खत्म. फिर एक दिन हम कैंटीन पहुंचे तो देखा कि थाली में रोटी भी है और सलाद भी. (मर्म ये कि सलाद का कॉन्सेप्ट सरकारी कॉलेज कैंटीन में नहीं होता है; वो एक भ्रम होता है जो रेट-कार्ड से फैलता है.) बाद में हमने रेटकार्ड देखा. थाली का दाम – 25 रुपए. मेरी कॉलेज लाइफ का ‘कैंटीन मोमेंट.’

खबरः

जो लोग भारतीय रेल के गरीब रथ से चलते हैं, उनकी ज़िंदगी में बहुत जल्द ऐसा ही ‘कैंटीन मोमेंट’ आने वाला है. वो चाहें तो उसे ‘गरीब रथ मोमेंट’ कह सकते हैं. खबर ये है कि भारतीय रेल 2005 से शुरू हुईं गरीब रथ गाड़ियां बंद करने जा रहा है. वो गरीब रथ, जिन्हें लॉन्च करते हुए कहा गया था कि इससे गरीब लोग कम दाम में लंबी दूरी का सफर एसी डब्बों में करेंगे. आराम से, ठंडी-ठंडी हवा खाते हुए. कुल 29 गरीब रथ गाड़ियां शुरू की गई थीं. लेकिन अब ये सब बंद होंगी और उनकी जगह चलेंगी हमसफर एक्सप्रेस.

गरीब रथ. हरे रंग की गाड़ी जो दूर से पहचान आ जाती थी. (फोटोःपीटीआई)
गरीब रथ. हरे रंग की गाड़ी जो दूर से पहचान आ जाती थी. (फोटोःपीटीआई)

‘किराया मॉमेंट’

‘हमसफर’ गाड़ियां नाम के हिसाब से ‘गरीब रथ’ जितनी प्रॉमिसिंग लग सकती हैं. यात्रियों का दिल बस इस बात से दुखेगा उन्हें बढ़ा हुआ किराया देना पड़ेगा. और वो भी थोड़ा-बहुत नहीं. ‘हमसफर’ भारतीय रेल की प्रीमियम सेवा है. तो इसका किराया आम एसी 3 टीयर के टिकट से 1.15 फीसद ज़्यादा होता है. माने जो टिकट आम ट्रेन में 100 का था, वो हमसफर में 115 रुपए का मिलता है. फिर हमसफर गाड़ियों में फ्लेक्सी फेयर सिस्टम होता है. माने सामान्य दाम पर हमसफर के सिर्फ 50 फीसदी सीट मिलती हैं. 50 फीसदी सीट बुक होने के बाद हर 10 फीसदी बुकिंग पर टिकट 10 फीसदी महंगा हो जाता है. गरीब रथ का टिकट आम एसी 3 टीयर किराए से कम रहता था. तो गरीब रथ की तुलना में हमसफर का टिकट बहुत महंगा होगा.

हमसफर गाड़ियों में ज़्यादा सुविधाओं वाले एलएचबी कोच लगते हैं. इन्हें बनाने का खर्च भी ज़्यादा होता है.
हमसफर गाड़ियों में ज़्यादा सुविधाओं वाले एलएचबी कोच लगते हैं. इन्हें बनाने का खर्च भी ज़्यादा होता है.

लॉजिक के मामले में ‘हमसफर’, ‘गरीब रथ’ से ठीक उलट हैं. हां, ये ज़रूर है कि सुविधाएं भी ज़्यादा मिलेंगी. हमसफर के हर डब्बे में कॉफी और सूप वेंडिंग मशीन होती हैं. खाना गर्म-ठंडा रखने के लिए भी सुविधा होत है. एलईडी डिस्पले और पब्लिक अनाउंसमेंट का सिस्टम भी होता है.

कितना बढ़ेगा किराया?

सबसे पहले चेन्नई-हज़रत निज़ामुद्दीन गरीब रथ बंद की जाएगी. 29 सितंबर, 2018 से. इस रूट पर आम गाड़ियों में पूरे सफर का एसी 3 टीयर किराया 2050 रुपए से शुरू होता है. गरीब रथ का टिकट महज़ 1380 रुपए का होता था. तब भी ये ट्रेन इस रूट पर राजधानी के बाद सबसे तेज़ गाड़ी थी. गरीब रथ की जगह आने वाली चेन्नई-हज़रत निज़ामुद्दीन हमसफर का किराया गरीब रथ की तुलना में 1000 से 2000 तक ज़्यादा होगा.

गरीब रथ गाड़ियों में साइड लोअर बर्थ भी होती थी. इस तरह के डिब्बे प्रयोग के तौर पर कई गाड़ियों में लगाए गए थे. फिर सिर्फ गरीब रथ तक सीमित कर दिए गए. (फोटोः कोरा)
गरीब रथ गाड़ियों में साइड मिडल बर्थ भी होती थी. इस तरह के डिब्बे प्रयोग के तौर पर कई गाड़ियों में लगाए गए थे. फिर सिर्फ गरीब रथ तक सीमित कर दिए गए. (फोटोः कोरा)

जिन्होंने पहले से गरीब रथ का टिकट लिया है, उनका क्या होगा?

भारतीय रेल में 120 दिन बाद तक के टिकट बुक होते हैं. तो ऐसे कई लोग हो सकते हैं, जिन्होंने दिसंबर तक की बुकिंग गरीब रथ के किराए पर की हो. इन लोगों का ध्यान रखते हुए रेलवे ने फैसला किया है कि 29 सिंतबर से हमसफर शुरू ज़रूर हो जाएगी, लेकिन 29 दिसंबर तक किराया गरीब रथ वाला ही लगेगा. 29 दिसंबर के बाद से हमसफर कैटेगरी का किराया लगेगा.

उलटे लॉजिक वाली ट्रेन चलाने पर रेलवे का क्या कहना है?

रेलवे के अफसर कह रहे हैं गरीब रथ गाड़ियों के कोच पुराने हो चुके हैं. इसलिए इन्हें बदलना ज़रूरी है. इसीलिए हमसफर गाड़ियां लाई जा रही हैं जिनमें नए और आधुनिक कोच लगे होते हैं.


Indian Railways to replace all Garib Rath trains with Hamsafar Express services starting with Chennai H Nizamuddin route

https://www.thelallantop.com/news/indian-railways-to-replace-all-garib-rath-trains-with-hamsafar-express-services-starting-with-chennai-h-nizamuddin-route/

अगला लेख: KBC 10: ठेला चलाकर बेटी को बनाया टीचर, अमिताभ ने पिता को किया सलाम



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
22 अगस्त 2018
देशभर में बकरीद का जश्‍न मनाया जा रहा है. सोशल मीडिया पर भी लोग बकरीद और ईद-उल-अजहा से जुड़े बधाई संदेश शेयर कर रहे हैं. वहीं कई लोग कुबार्नी को लेकर फनी मीम भी शेयर कर रहे हैं.इन मीम में बकरों से जुड़े ज्‍यादातर फोटोज शेयर हो रहे हैं.
22 अगस्त 2018
04 सितम्बर 2018
देश में हाल ही में अभी गुजरात विधानसभा चुनाव हुए। यहां पूरे देश ने इस बार बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर देखी। हालांकि कांग्रेस चुनाव नहीं जीत पाई लेकिन पार्टी ने इस बार यहां जबरदस्त प्रदर्शन किया। अब सभी पार्टियां 2018 में कई राज्यों में होने वाले विधानसभा और 2
04 सितम्बर 2018
01 सितम्बर 2018
इंटरनेट सेंसेशन प्रिया प्रकाश वारियर अक्सर अपनी अदाओं की वजह से सुर्खियां बटौरती रहती हैं। हाल ही में प्रिया ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर कुछ तस्वीरें शेयर की है। इसमें वह व्हाइट और रेड कलर की साड़ी में बेहद खूबसूरत लग रही है। पहली बार प्रिया का ऐसा देसी अंदाज सामने आया है। प्रिया का ये लुक फैंस क
01 सितम्बर 2018
18 सितम्बर 2018
नई दिल्ली। देश में पिछले काफी समय से बढ़ते जा रहे पेट्रोल-डीजल के दाम ने हाहाकार मचा रखा है, तो वहीं तेल को लेकर योग गुरू बाबा रामदेव ने दावा किया है कि अगर सरकार उन्हें इजाजत दे तो वह देश में 35-40 रुपये लीटर पेट्रोल और डीजल बेच सकते हैं। बता दें कि देश में कुछ जगह पर पे
18 सितम्बर 2018
10 सितम्बर 2018
मोदी सरकार द्वारा किये गए एससी-एसटी संशोधन कानून को अब सुप्रीमकोर्ट में चुनौती दी गई है. सुप्रीमकोर्ट ने इस कानून को अंसवैधानिक करार देने से पहले सरकार से इसका पक्ष जानना चाहा है. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार को नोटिस जारी कर 6 हफ्ते जवाब मांगा है. जस्टिस एके सिकरी और जस
10 सितम्बर 2018
14 सितम्बर 2018
बहुत सी बोलियों और भाषाओं वाले हमारे देश में आजादी के बाद भाषा को लेकर एक बड़ा सवाल आ खड़ा हुआ. आखिरकार 14 सितंबर 1949 को हिंदी को राजभाषा का दर्जा दिया गया. हालांकि शुरू में हिंदी और अंग्रेजी दोनो को को नए राष्ट्र की भाषा चुना गया और संविधान सभा ने देवनागरी लिपि वाली हिं
14 सितम्बर 2018
06 सितम्बर 2018
यूं तो हमें आज़ाद हुए 71 साल हो चुके हैं, लेकिन आज भी हमारी एक चीज़ अंग्रेजों के कब्ज़े में है. शायद ही आप में से कुछ लोगों को ये बात पता होगी कि महाराष्ट्र में एक ऐसी रेलवे लाइन है, जिस पर आधिकारिक तौर से इंडियन रेलवे का हक़ नहीं है और इसके संचालन का ज़िम्मा ब्रिटेन की एक
06 सितम्बर 2018
06 सितम्बर 2018
26 अप्रैल, 2018 को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी हवाई जहाज से कर्नाटक के हुबली में चुनाव प्रचार के लिए जा रहे थे. अचानक उनके प्लेन में खराबी आई और वो एक तरफ झुकने लगा और अचानक करीब 8,000 फीट नीचे आ गया. पायलट ने जैसे-तैसे विमान पर काबू पाया. डीजीसीए ने बताया कि अगर 20 सेकंड में राहुल के प्लेन पर काबू
06 सितम्बर 2018
04 सितम्बर 2018
पूरी दुनिया में रेलवे का ट्रैक बिछा हुआ है और हम सब ने ये भ देखा होगा कि रेलवे ट्रैक पर पत्थर के छोटे-छोटे टुकड़े या फिर गिट्टियां बिछी होती हैं। क्या कभी सोचा है कि ये गिट्टियां क्यूं बिछाई जाती है, ये शायद ही आप जानते होंगे। आज हम आपको विस्तार से बता रहे हैं कि रेलवे ट्र
04 सितम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x