85 की हुई सुरों की मल्लिका आशा भोसले

09 सितम्बर 2018   |  प्रियंका   (60 बार पढ़ा जा चुका है)

85 की हुई सुरों की मल्लिका आशा भोसले

सुरों की मल्लिका, मशहूर गायिका आशा भोसले का कल जन्मदिन था , महाराष्ट्र के एक छोटे से गांव सांगली में 8 सितम्बर 1933 को जन्मी आशा भोसले को शायद कभी इस बात का अंदाजा भी नही रहा होगा कि वो इतनी बड़ी गायिका बनेगी और सारी दुनिया उनको सलाम करेगी ।


आशा नौ साल की थीं, जब परिवार पुणे से बंबई आ गया. उन्होंने अपनी बड़ी बहन लता के साथ गाना शुरू किया. फिल्मों में एक्टिंग भी की. 1943 में एक मराठी फिल्म के लिए उन्होंने पहला गाना गाया. पहली हिंदी फिल्म 1948 में आई. हंसराज बहल की इस फिल्म का नाम था चुनरिया. पहला सोलो गाना 1949 फिल्म रात की रानी के लिए था.


Image result for आशा भोसले


आशा भोसले की जिंदगी अपनी शर्तों पर जीने की जिद को लेकर एक मिसाल है. एक से ज्यादा शादियां. किसी की गुलामी नाकाबिले बर्दाश्त. जिस दौर में लोग लिव-इन जैसे शब्द को किसी पाप की तरह लेते थे, आशा जी ने उसे किसी आम प्रचलन की तरह स्वीकार किया. समाज की तमाम धारणाओं, वर्जनाओं को तोड़ने का काम आशा भोसले ने किया है. इसीलिए वो किसी भी गायिका से अलग दिखाई देती हैं ।


आशा ने 15 से भी ज्यादा भाषाओं में गाने गाए है, अब तक उन्होंने 12,000 से भी ज्यादा गीतों में अपनी आवाज दी है। बॉलीवुड सिनेमा में भी उन्होंने कुछ ऐसे गीत दिए जिन्होंने आशा को हमेशा के लिए अमर कर दिया जैसे - 'झुमका गिरा रे' , 'रात अकेली है ' , 'आजा आजा ' , 'दम मारो दम' , 'दिल चीज क्या है' आदि बहुत से सदाबहार गाने । इसके अलावा नब्बे के दशक में बाज़ीगर , रंगीला, और ताल जैसी फिल्मों में ए आर रहमान और अनु मलिक जैसे संगीतकार निर्देशको के साथ भी काम किया ।


Image result for आशा भोसले


आशा ताई को अब तक फ़िल्मफेयर अवार्ड में 7 बेस्ट फीमेल प्लेबैक पुरस्कारो से सम्मानित किया गया है ।

उन्हें 2 राष्ट्रीय फ़िल्म पुरस्कार से भी पुरस्कृत किया गया है। आशा भोसले को 2008 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा देवी सिंह पाटिल द्वारा 'पद्म विभूषण' से सम्मानित किया जा चुका है ।

अगला लेख: लिज्जत पापड़ के सफलता की कहानी : 7 औरतों ने 80 रुपये उधार लेके की थी शुरुआत



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
07 सितम्बर 2018
आज भारत की बैडमिंटन स्टार ज्वाला गुट्टा का जन्मदिन है, आज ही के दिन 7 सितम्बर 1983 को महाराष्ट्र के वर्धा में इनका जन्म हुआ था । ज्वाला अपने खेल और कैरियर के साथ साथ अपनी निजी जिंदगी के फैसलों को भी लेकर खबरों में बराबर बनी रहती है ।ज्वाला ने 4 साल की छोटी उम्र से ही बैडमिंटन खेलना शुरू कर दिया था ।
07 सितम्बर 2018
07 सितम्बर 2018
गांव का नाम जहन में आते ही सबसे पहले वहां होने वाली असुविधाओं का ख्याल आता है। लेकिन समय के साथ अब गांवों की तस्वीर बदल रही है। आज हम आपको ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे है जिसकी तरक्की की कहानी सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे। आप यकीन नहीं करेंगे। जी हां, इस गांव में गरीब नहीं बल्कि सभी बेहद अमीर लोग
07 सितम्बर 2018
09 सितम्बर 2018
दिल्ली-एनसीआर में आज भूकंप के हलके झटके महसूस किए गए हैं। यह भूकंप 4 बजकर 37 मिनट पर आया जिसकी गहराई 10 किलोमीटर थी। रेक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.8 दर्ज की गई | भूकंप का केंद्र हरियाणा के झज्जर जिले में था | भूकंप के झटकों से अभी तक किसी के जान माल के नुकसान की कोई ख़बर नहीं आई है | भूकंप के झ
09 सितम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x