ये हैं दक्षिण के ‘योगी आदित्यनाथ’, बीजेपी दे सकती है आंध्र प्रदेश को एक नया योगी आदित्यनाथ ।

10 सितम्बर 2018   |  प्रियंका   (47 बार पढ़ा जा चुका है)

ये हैं दक्षिण के ‘योगी आदित्यनाथ’, बीजेपी दे सकती है आंध्र प्रदेश को एक नया योगी आदित्यनाथ ।

रिपोर्ट्स की माने तो स्वामी परिपूर्णानंद आंध्र प्रदेश के काकीनाडा स्थित श्रीपीठम मठ के महंत हैं, उनके भाषण भी गोरक्षनाथ पीठ के महंत और तत्कालीन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की ही तरह तेज-तर्रार और काफी हद तक भड़काउ भी होते हैं, अपनी हिंदूवादी छवि की लोकप्रियता के चलते वो तेजी से अपनी पहचान कट्टर हिंदू समुदाय में पैठ बना रहे हैं।

दक्षिण भारत के राज्य आंध्रप्रदेश और तेलंगाना में भारतीय जनता पार्टी के लिए स्वामी परिपूर्णानंद संत-राजनेता उम्मीद की किरण बनकर उभर रहे हैं,जिन्हें बीजेपी दक्षिण के योगी आदित्यनाथ बनाने में लगी हुई है।


स्वामी परिपूर्णानंद की लोकप्रियता का अंदाजा इस बात से भी लगया जा सकता है कि तेलंगाना पुलिस ने इनके हैदराबाद घुसने पर प्रतिबंध लगाने के बाद भी, इसी मंगलवार 4 सितम्बर को स्वामी परिपूर्णानंद ढोल बाजो के साथ हैदराबाद पहुंचे थे, उनके साथ हजारों लोगों की भीड़ चल रही थी। आरएसएस, वीएचपी और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने हैदराबाद में परिपूर्णानंद के इस कार्यक्रम की अगवानी करते हुए स्वागत किया, हालांकि जुलाई 2018 में तेलंगाना पुलिस ने इनके हैदराबाद घुसने पर प्रतिबंध लगा दिया था, लेकिन फिलहाल आंध्र-तेलंगाना हाईकोर्ट ने पुलिस के इस आदेश को रद्द कर दिया, जिसकी वजह कही न कही परिपूर्णानंद की लोकप्रियता भी है। आपको बता दे कि बीजेपी कार्यकर्ताओं ने भी इस आयोजन के इंतजाम में काफी सहयोग किया।

जिससे कयास लगाये जा रहे हैं, कि स्वामी परिपूर्णानंद राजनीति में प्रवेश कर सकते हैं।


Image result for ये हैं दक्षिण के ‘योगी आदित्यनाथ’, बीजेपी दे सकती है आंध्र प्रदेश को एक नया योगी आदित्यनाथ ।


धाराप्रवाह तेलुगु के साथ हिंदी बोलने वाले परिपूर्णानंद की आंध्र और तेलंगाना के अनुसूचित जनजाति समुदाय में अच्छी पकड़ है, साथ ही हिंदू समुदाय भी उनके प्रति अच्छी श्रद्धा रखती है।

शायद यही वजह है कि उनकी लोकप्रियता और अनसूचित जनजाति में अच्छी पकड़ के चलते

अगर बीजेपी उन्हें उम्मीदवार बनाती है, तो वो 2019 के चुनाव में जीत भी सकते हैं और पार्टी को वहां मजबूती से खड़ा भी कर सकते हैं।



वैसे तो आंध्र प्रदेश और तेलंगाना की राजनीति में बीजेपी की कुछ बहुत मजबूत पकड़ नहीं है, ऐसे में बीजेपी नेताओं का मानना है कि तेलंगाना में खासकर ज्यादा जनसांख्यिक घनत्व (करीब 20 फीसदी मुस्लिम आबादी) को देखते हुए हिंदूओं को गोलबंद करना बेहद जरुरी है, ऐसे में स्वामी परिपूर्णानंद बेहद उपयोगी साबित हो सकते हैं, सूत्रों का दावा है कि बीजेपी उन्हें हैदराबाद से लगी कारवां या चंद्रायनगुट्टा विधानसभी सीट से टिकट दे सकती है, इसके साथ ही अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव में उन्हें सिकंदराबाद या मलकाजगिरि से चुनाव लड़ाया जा सकता है।

अगला लेख: लिज्जत पापड़ के सफलता की कहानी : 7 औरतों ने 80 रुपये उधार लेके की थी शुरुआत



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
06 सितम्बर 2018
भारत के सुप्रीम कोर्ट ने आज देश मे समलैंगिक संबंधों पर ऐतिहासिक फैसला दिया है। मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अगुवाई वाली सुप्रीम कोर्ट की संविधान पीठ ने दो व्यस्को के बीच सहमति से बनाये गए समलैंगिक संबंधों को अपराध मनाने वाली धारा 377 से बाहर कर दिया है। सुप्रीम ने अपने फैसले में कहा कि बहुमत से सभ
06 सितम्बर 2018
08 सितम्बर 2018
गोरखपुर, भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश के उत्तर-पूर्वी हिस्से में राप्ती नदी के किनारे स्थित एक शहर है | गोरखपुर को पूर्वांचल की राजधानी कहा जाता है। यह नेपाल सीमा के पास स्थित है, राज्य की राजधानी लखनऊ के 273 किलोमीटर पूर्व में। 2011 की जनगणना के अनुसार गोरखपुर की कुल आबादी ६,७३,४४६ है |न्त गोरखनाथ जो
08 सितम्बर 2018
07 सितम्बर 2018
भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण(यूआईडीएआई) पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए बाल आधार जारी कारता है, यह आधार कार्ड नीले रंग का होता है और बच्चे की उम्र पांच वर्ष पूरी हो जाने पर यह आधार कार्ड अमान्य हो जाता है । इसे निकटतम स्थायी नामांकन केंद्र जाकर इसी आधार संख्या से अपनी जनसंखियक़ी और बॉयोमेट्रि
07 सितम्बर 2018
08 सितम्बर 2018
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार लखनऊ में निषाद सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री और सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर तंज़ कसा | योगी ने अपने बयान में अखिलेश को मुग़ल शासक औरंगजेब के सामान बताया | निषाद सम्मलेन में योगी ने कहा कि “जो अपने पिता और चाचा का नहीं हुआ, आप सबको खु
08 सितम्बर 2018
08 सितम्बर 2018
गोरखपुर, भारतीय राज्य उत्तर प्रदेश के उत्तर-पूर्वी हिस्से में राप्ती नदी के किनारे स्थित एक शहर है | गोरखपुर को पूर्वांचल की राजधानी कहा जाता है। यह नेपाल सीमा के पास स्थित है, राज्य की राजधानी लखनऊ के 273 किलोमीटर पूर्व में। 2011 की जनगणना के अनुसार गोरखपुर की कुल आबादी ६,७३,४४६ है |न्त गोरखनाथ जो
08 सितम्बर 2018
09 सितम्बर 2018
दिल्ली-एनसीआर में आज भूकंप के हलके झटके महसूस किए गए हैं। यह भूकंप 4 बजकर 37 मिनट पर आया जिसकी गहराई 10 किलोमीटर थी। रेक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.8 दर्ज की गई | भूकंप का केंद्र हरियाणा के झज्जर जिले में था | भूकंप के झटकों से अभी तक किसी के जान माल के नुकसान की कोई ख़बर नहीं आई है | भूकंप के झ
09 सितम्बर 2018
08 सितम्बर 2018
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार लखनऊ में निषाद सम्मेलन को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री और सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर तंज़ कसा | योगी ने अपने बयान में अखिलेश को मुग़ल शासक औरंगजेब के सामान बताया | निषाद सम्मलेन में योगी ने कहा कि “जो अपने पिता और चाचा का नहीं हुआ, आप सबको खु
08 सितम्बर 2018
03 सितम्बर 2018
नई दिल्ली/लखनऊ। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ इन दिनों दो दिवसीय वाराणसी दौरे पर हैं। वाराणसी पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र होने के कारण वीआईपी इलाकों में गिना जाता है। रविवार (2 अगस्त) की सुबह मुख्यमंत्री पीएम मोदी के गोद लिए गांव डोमरी में गए
03 सितम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x