महाभारत की ये 10 भविष्यवाणी हो रहीं है सच, लिव-इन में रहेंगे लोग और.. यहां पढ़ें पूरी खबर

21 सितम्बर 2018   |  अभय शंकर   (715 बार पढ़ा जा चुका है)

महाभारत की ये 10 भविष्यवाणी हो रहीं है सच, लिव-इन में रहेंगे लोग और.. यहां पढ़ें पूरी खबर

दाम्पत्येभिरुचिहेतमायैव व्यावहारके। स्त्रीत्वे पुंस्तवे च हि रितर्विप्रत्वे सूत्रमेव हि।।

अर्थात-कलियुग में पुरूष और स्त्री बिना विवाह के ही केवल एक-दूसरे में रुचि के अनुसार साथ-साथ रहेंगे। यानी कि लिव इन में रहेंगे। मनमुताबिक महिला के संपर्क में रहेंगे जब मनभर जाएगा तो दूसरे को अपना लेंगे। और कई ऐसी विसंगतियां कलयुक में देखने को मिल सकती है।


बता दें कि, श्रीमद्भागवत महापुराण हिंदू धर्म के सबसे महत्वपूर्ण ग्रंथों में से एक है। इस ग्रंथ की रचना आज से लगभग 5000 वर्ष से 1000 साल पहले मानी गई है। आपको ये जानकर आश्चर्य होगा कि कलियुग में क्या-क्या होगा, इसकी भविष्यवाणी इस पुराण में पहले कर दी गई थी।


mahabharat astrology news in hindi

ये हैं श्रीमद्भागवत पुराण में 10 भविष्यवाणियां

mahabharat astrology news in hindi

1. दाम्पत्येभिरुचिहेतमायैव व्यावहारके। स्त्रीत्वे पुंस्तवे च हि रितर्विप्रत्वे सूत्रमेव हि।।

अर्थ: कलियुग में पुरुष और स्त्री बिना विवाह के ही केवल एक-दूसरे में रुचि के अनुसार साथ-साथ रहेंगे। व्यापार की सफलता छल पर निर्भर करेगी। पहले के समय में जो ब्राह्मण रहते थे। वो अपने शरीर पर बहुत कुछ धारण करते थे पर कलयुग में वे लोग सिर्फ एक धागा पहनकर ब्राह्मण होने का दावा करेंगे।


2. दाक्ष्यम कुटुम्बभरणं यशाड्थे धर्मसेवनम्। एवं प्रजाभिर्दुभिराकीर्णो क्षितिमंडले।।

अर्थ: धर्म-कर्म के काम केवल लोगों के सामने अच्छा दिखने और दिखावे के लिए किए जाएगे। पृथ्वी भ्रष्ट लोगों से भर जाएगी और लोग सत्ता हासिल करने के लिए एक दूसरे को मारेंगे।


3. क्षित्तृड्भ्या व्याधिभिश्चैव संतप्स्यन्ते च चिन्चया। त्रिंशद्विंशतिवर्षाणि परमायु: कलौ नृणाम।।

अर्थ: लोग भूख-प्यार और कई तरह की चिंताओं के दुखी रहेंगे। कई तरह की बीमारियां उन्हें हर समय घेरे रहेंगे। कलियुग में मनुष्यों की उम्र केवल बीस या तीस वर्ष की होगी।


mahabharat astrology news in hindi

4. ततश्चनुदिनं धर्म: सत्यं शौचं क्षमा दया। कालेन बलिना राजन् नड्क्षय्ययुर्बलं स्मृति:।।

अर्थ: धर्म, सत्यवादिता, स्वच्छता, सहिष्णुता, दया, जीवन की अवधि, शारीरिक शक्ति और स्मृति सभी दिन-ब-दिन घटती जाएगी।


5. वित्तमेव कलौ नृणां जन्माचारगुणोदय:। धर्मन्यायव्यवस्थायां कारणं बलमेव हि।।

अर्थ: कलियुग में जिस व्यक्ति के पास जितना धन होगा वो उतना ही गुणी माना जाएगा और कानून, न्याय केवल एक शक्ति के आधार पर लागू किया जाएगा।


6. लिड्गमेवाक्षमख्यातावनेयोन्यापत्तिकारणम। अवृत्ताया न्यायदौर्बल्यं पाडिण्त्ये चापलं वच:।।

अर्थ: जो मनुष्य घूस देने या धन खर्च करने में असमर्थ होगा, उसे अदालतों से ठीक-ठीक न्याय न मिल सकेगा। जो व्यक्ति बहुत चालाक और स्वाथीज़् होगा वो इस युग में बहुत विद्वान माना जाएगा ।


mahabharat astrology news in hindi

7. अनाढयतैवासाधुत्वे साधुत्वे दम्भ एव तु। स्वीकार एव चोद्वाहे स्नामेव प्रसाधन्म।।

अर्थ: इस युग में जिस व्यक्ति के पास धन नहीं होगा वो अधमीज़्, अपवित्र और बेकार माना जाएगा। विवाह दो लोगों के बीच बस एक समझौता बनकर रह जाएगा और लोग बस स्नान करके समझेंगे की वो अंतरआत्मा से भी साफ सुथरे हो गए है ।


8. दरे वार्ययनं तीर्थ लावण्यं केशधारणम। उदरंभरता स्वार्थ सत्य्त्वे धाष्टर्यमेव हि।।

अर्थ: लोग दूर के नदी-तालाबों को तो तीथज़् मानेंगे, लेकिन अपने पास रह रहे माता-पिता की निंदा करेंगे। सिर पर बड़े-बड़े बाल रखना ही सुंदरता मानी जाएगी और केवल पेट भरना ही लोगों का लक्ष्य हो जाएगा।


9. अनावृष्टया व्याधिभिश्चैव संतप्स्यन्ते च चिन्या। शीतवीतीवपप्रावृड्हिमैरन्योन्यत: प्रजा:।।

अर्थ: कभी बारिश न होगी, सूखा पड़ जाएगा। कभी कड़ाके की सदीज़् पड़ेगी तो कभी भीषण गमीज़् हो जाएगी। कभी आंधी आएगी तो कभी बाढ़ आ जाएगी। इन परिस्थितियों से लोग परेशान होंगे और नष्ट होते जाएंगे।


10. आत्छित्रदारद्रविणा याय्स्त्र्ति गिरिकाननम। छााकमूलामिषाक्षौद्रफलपुष्पाष्टिभोजना:।।

अर्थ: अकाल और अत्याधिक करों के कारण परेशान होकर लोग घर छोड़-कर सड़कों और पहाड़ों पर रहने को मजबूर हो जाएंगे, साथ ही पत्ते, जड़, मांस, जंगली शहद, फल, फूल और बीज खाने को मजबूर हो जाएंगे।


https://www.patrika.com/satna-news/mahabharat-astrology-news-in-hindi-1-2481028/?utm_source=FacebookMP&utm_medium=Social

अगला लेख: महिला ने दिन दहाड़े बस में लगा दी आग, वजह जानकर सन्न रह जाएगा दिमाग



basant singh
22 सितम्बर 2018

bilkul shi kuch horaha hai kuch hone wala hai|

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
20 सितम्बर 2018
हिंदू धर्म में राम नाम का बड़ा महत्‍व है। तीन बार इस नाम का जप भगवान के नाम का 1000 हजार जप करने के बराबर होता है। यहां जब किसी को अंतिम संस्‍कार के लिए ले जाया जाता है तब लोग 'राम नाम सत्य है' कहते जाते हैं। जब कि कभी किसी खुशी के महौल में इस चार शब्‍दों का एक साथ उच्‍चारण नहीं किया जाता है। जिससे
20 सितम्बर 2018
10 सितम्बर 2018
पटना: सोमवार को पेट्रोल-डीजल की कीमतों में वृद्धि को लेकर कांग्रेस सहित कई विपक्षी दलों द्वारा भारत बंद किया जा रहा है। जहां एक तरफ पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी को लेकर विपक्ष सड़क पर हंगामा कर रही है ,वही दूसरी तरफ सोशल मीडिया परभारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान व ब
10 सितम्बर 2018
17 सितम्बर 2018
दुनिया में ऐसी-ऐसी विचित्र बातें होती रहती हैं जिनसे इंसान को हंसी भी आती है और अजीब भी लगती है. जैसे भारतीय फिल्मों में दिखाया जाता है कि अदलात में गवाही देने से पहले गीता की कसम खाते दिखाया जाता है लेकिन असल में ऐसा कुछ भी नहीं होता ह
17 सितम्बर 2018
08 सितम्बर 2018
*सम्पूर्ण सृष्टि नारी एवं पुरुष के संयोग से उत्पन्न हुई है | पुरुष में भी जिसका आचरण अतुलनीय हो जाता है उसे "पुरुषोत्तम" की संज्ञा दी जाती है | सनातन साहित्यों में वैसे तो पुरुषोत्तम शब्द का प्रयोग कई स्थानों पर भिन्न भिन्न चरित्रों के लिए किया गया है , परंतु चर्चा मात्र दो की ही प्राय: होती है | जि
08 सितम्बर 2018
18 सितम्बर 2018
सोशल मीडिया पर आए दिन नए-नए पोस्ट वायरल होते रहते हैं. कभी किसी नरेंद्र मोदी के बारे में तो कभी राहुल गांधी के बारे में. अब पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के बारे में एक पोस्ट वायरल हो रहा है. एक फोटो है जिसमें मनमोहन सिंह एक टैक्सी से उतरते दिख रहे हैं. एक आदमी उस टैक्सी
18 सितम्बर 2018
10 सितम्बर 2018
रांची। झारखंड की राजधानी रांची से करीब 80 किलोमीटर दूर रजरप्पा स्थित छिन्नमस्तिके मंदिर शक्तिपीठ के रूप में काफी विख्यात है। यहां भक्त बिना सिर वाली देवी मां की पूजा करते हैं और मानते हैं कि मां उन भक्तों की सारी मनोकामनाएं पूरी करती हैं। मान्यता है कि असम स्थित मां कामाख
10 सितम्बर 2018
07 सितम्बर 2018
नई दिल्ली: कहावत है कि कुछ भी असंभव नहीं, ये कहावत क्रिकेट में तब फ़िट बैठती दिखाई दी जब एक ही गेंद पर बल्लेबाज़ ने 3 छक्के जड़ दिए? क्या आपने कभी ऐसा होते देखा या सुना है?ये करिश्मा हुआ था 9 जनवरी 2012 के एक मैच में... और ये था ऑस्ट्रेलिया का बिग बैश टूर्नामेंट और ये कमाल क
07 सितम्बर 2018
17 सितम्बर 2018
आजकल चुनावी माहौल है और हर तरफ बीजेपी को हराने की कोशिशें की जा रही हैं. इस बार कांग्रेस पार्टी से इस पार्टी के अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनने के लिए मैदान में उतरेंगे. ऐसे में हर कोई उनके चुनाव के बाद जीतने के वायदे जानना चाहता है और जब राहुल गांधी कोई बयान या
17 सितम्बर 2018
18 सितम्बर 2018
हम 21वीं सदी में आ गए है लेकिन आज भी हमारे समाज में कुछ ऐसी कुरीतियां हैं, जिनका लोग पालन कर रहे हैं. समय बदल गया है लेकिन महिलाओं के साथ अब भी अत्याचार हो रहा है. आज हम आपको ऐसी ही एक जगह के बारे में बताने जा रहे हैं, जहां शादी की अलग तरह की परंपरा है और साथ ही साथ शादी
18 सितम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x