जिसके नाम पर मारे गए, उस पाकिस्तान में गांधी की क्या जगह है?

02 अक्तूबर 2018   |  प्राची सिंह   (99 बार पढ़ा जा चुका है)

जिसके नाम पर मारे गए, उस पाकिस्तान में गांधी की क्या जगह है?

भारत और पाकिस्तान, दोनों मेरे मुल्क हैं. मैं पाकिस्तान जाने के लिए कोई पासपोर्ट नहीं लूंगा.

– महात्मा गांधी

गांधी को भावनात्मक दृष्टिदोष था. साफ देख पाएं, इसलिए चश्मा पहनते थे. मुल्क के बंटवारे के बाद बॉर्डर नहीं देख पा रहे थे मगर. जनवरी 1948 आ गई थी. विभाजन को पांच महीने बीत गए थे. गांधी की रट थी, पाकिस्तान जाऊंगा. उनको कुछ काम निपटाने थे भारत में. हिंदू-मुस्लिम हिंसा खत्म करानी थी. इरादा किया था कि इसके बाद पाकिस्तान जाएंगे. बिना वीजा और पासपोर्ट के. कहते थे, मेरा ही देश है. अपने देश जाने के लिए पासपोर्ट क्यों लूंगा? गांधी का क्या हश्र हुआ, ये सब इतिहास है. सत्यापित. सिद्ध. आज उनके जन्मदिन पर पड़ोसी के यहां झांकने का दिल किया. उसने कैसे याद रखा है गांधी को? याद करता है कभी कि नहीं? सन 1947 के बाद पैदा होने वाली नस्लें गांधी को जानती हैं? उनका कोई नामलेवा है या नहीं वहां? कुछ वाकयों में देखिए, पाकिस्तान ने गांधी के साथ क्या सलूक किया है:

इस तस्वीर में गांधी जेल की अपनी कोठरी के अंदर सो रहे हैं.
इस तस्वीर में गांधी जेल की अपनी कोठरी के अंदर सो रहे हैं. ये कौन सी जेल है, ये नहीं मालूम.

पाकिस्तान के इतिहास की किताबों में ‘हिंदू विलेन’ हैं गांधी
पाकिस्तान ने अपनी इतिहास की किताबों में गांधी को जगह दी है. हिंदुओं के नेता के तौर पर. हिंदुत्व में गहरी आस्था रखने वाला. हिंदुओं का समर्थक. बंटवारे के लिए जिम्मेदार. अल्लाह के कानून की जगह हिंदुओं के कानून वाला देश बनाने का पक्षधर. ऐसा देश, जहां मुसलमानों को अछूत समझा जाता. जहां अंग्रेजों की गुलामी खत्म होने के बाद मुसलमानों को हिंदुओं का गुलाम बनना पड़ता. मुसलमानों की सच्ची आजादी का विरोधी. ऐसी आजादी का विरोधी, जहां मुसलमानों पर केवल मुसलमान ही राज करते. पाकिस्तानी इतिहास में गांधी को ऐसे ही ‘खलनायक’ की जगह दी गई है. जिन्होंने इतिहास के नाम पर केवल ऐसी ही कोर्स की किताबें पढ़ी हैं वहां, वो गांधी को ऐसे ही जानते हैं.

ये तस्वीर 23 अप्रैल, 1930 की है. गांधी अपने आश्रम के लोगों को 'द टाइम्स' अखबार पढ़कर देश-दुनिया की खबरें सुना रहे हैं.
ये तस्वीर 23 अप्रैल, 1930 की है. गांधी अपने आश्रम के लोगों को ‘द टाइम्स’ अखबार पढ़कर देश-दुनिया की खबरें सुना रहे हैं.

पाकिस्तान दुनिया की इकलौती जगह है, जहां गांधी को संत नहीं माना जाता. सबसे ऊंचे सरकारी महकमों से लेकर किसी छोटे-मोटे पत्रकार तक, सब गांधी को पाखंडी मानते हैं. ऐसा शख्स, जो कि भारत की आजादी के बाद वहां रहने वाले मुसलमानों के ऊपर हिंदुओं का राज कायम करना चाहता था.
: गांधी, द व्यू फ्रॉम पाकिस्तान (वॉशिंगटन पोस्ट में छपे एक लेख की पंक्तियां)

भारत छोड़ो आंदोलन के दौरान समर्थकों के साथ महात्मा गांधी.
भारत छोड़ो आंदोलन के दौरान समर्थकों के साथ महात्मा गांधी.

‘गांधी’ को पाकिस्तान ने बैन कर दिया
सर रिचर्ड ऐटनबरो की मशहूर ऑस्कर-विजेता फिल्म ‘गांधी’ पाकिस्तान में बैन कर दी गई थी. वहां उसे रिलीज करने की इजाजत नहीं दी गई.

ये ऐतिहासिक डांडी मार्च के समय की तस्वीर है, जब गांधी अपने समर्थकों के साथ नमक कानून तोड़ने जा रहे थे.
ये ऐतिहासिक डांडी मार्च के समय की तस्वीर है, जब गांधी अपने समर्थकों के साथ नमक कानून तोड़ने जा रहे थे.

गांधी की हत्या पर जिन्ना ने क्या कहा?
आपको पाकिस्तान के कायदे आजम जिन्ना का वो बयान पढ़ना चाहिए. जो उन्होंने गांधी की हत्या के बाद दिया था. उनके बयान से ऐसा लगा कि जैसे गांधी ने बस हिंदुओं की आजादी के लिए आंदोलन किए. बस हिंदुओं की आजादी के लिए अपना हाड़-मांस जलाया. वो भी तब, जब हत्या से ठीक पहले गांधी ने मुसलमानों की हिफाजत के सवाल पर ही अन्न-जल त्यागा था. जब दोनों देशों की सरकारें आजादी का जश्न मना रही थीं, तब गांधी नोआखाली में हिंदू-मुस्लिम नफरत खत्म करने के लिए गलियां नाप रहे थे. 1947 में शुरुआत से लेकर अब तक पाकिस्तान में गांधी की आधिकारिक पहचान ऐसी ही बनी हुई है.

गांधी के ऊपर हुए बेहद कायराना हमले के बारे में जानकर मैं हैरान हूं. इस हमले में उनकी मौत हो गई. हमारे राजनैतिक विचारों में चाहे जितना विरोध रहा हो, लेकिन ये सच है कि वो हिंदू समुदाय में पैदा होने वाले महानतम शख्सियतों में से एक थे. मैं काफी दुखी हूं और अपनी हिंदू समुदाय के प्रति अपनी संवेदना प्रकट करता हूं. गांधी की हत्या से भारत को जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई नहीं की जा सकती.

: मुहम्मद अली जिन्ना, 30 जनवरी, 1948. (महात्मा गांधी की मौत पर बोलते हुए)

गांधी और जिन्ना एकसाथ.
मुहम्मद अली जिन्ना के साथ महात्मा गांधी.

दंगाइयों ने गांधी की प्रतिमा पर उतारा गुस्सा
साल 1931. कराची, पाकिस्तान. यहां एक महात्मा गांधी की एक मूर्ति लगाई गई. कांसे की. ये प्रतिमा मौजूदा कोर्ट रोड पर थी. पहले इस सड़क का नाम किंग्स वे हुआ करता था. यहीं, सिंध हाई कोर्ट की इमारत के उल्टी तरफ थी गांधी की मूर्ति. इंडियन मर्चेंट्स असोसिएशन ने लगवाई थी. प्रतिमा के नीचे, पैरों के पास लिखा था- महात्मा गांधी, स्वतंत्रता, सत्य और अहिंसा की नामी शख्सियत. 14 अगस्त, 1947. पाकिस्तान आजाद मुल्क बना. 1950 आते-आते गांधी की मूर्ति तोड़ दी गई. दंगा हुआ था. दंगाइयों ने गांधी की निर्जीव मूर्ति पर गुस्सा उतारा. उसे क्षत-विक्षत किया. 1981 में ये टूटी मूर्ति कराची स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास को सौंप दी गई. इस्लामाबाद स्थित भारतीय दूतावास ने मूर्ति की मरम्मत कराई. इसे अपने परिसर में लगाया. आज भी ये मूर्ति वहीं मौजूद है. पाकिस्तान में है, लेकिन फिर भी पाकिस्तान में नहीं.

ये गांधी की वही कांस्य प्रतिमा है, जो कराची स्थित सिंध हाई कोर्ट के बाहर स्थापित थी.
ये गांधी की वही कांस्य प्रतिमा है, जो कराची स्थित सिंध हाई कोर्ट के बाहर स्थापित थी (फोटो: तनवीर शहजाद)

गांधी के नाम पर एक बाग था, उसका भी नाम बदल दिया
कराची शहर में एक बाग था. ठीक उस जगह जहां 1799 में ईस्ट इंडिया कंपनी ने अपना पहला कारखाना खोला था. विक्टोरिया गार्डन. 1934 के पहले तक इसी नाम से जाना जाता रहा. 1934 में गांधी कराची गए. इसी विक्टोरिया गार्डन में उनका भव्य स्वागत हुआ. उनके प्रति सम्मान दिखाते हुए इस जगह का नाम बदलकर महात्मा गांधी गार्डन रख दिया. बंटवारे के बाद पाकिस्तान में जगहों और चीजों के नाम बदलने की रवायत शुरू हुई. ये शुरुआत तो भारत में भी हुई, हो रही है. पाकिस्तान में ये रोग पहले आया. इतिहास बदलना उसके हाथ में नहीं. सो वर्तमान बदलकर खुश हो रहा था. इसी कड़ी में गांधी गार्डन का नाम बदलकर कराची जुलॉजिकल गार्डन्स कर दिया गया.

कराची स्थित महात्मा गांधी गार्डन, जिसका कि अब नाम बदल दिया गया है, की एक पुरानी तस्वीर (फोटो: www.historickarachi.weebly.com)
कराची स्थित महात्मा गांधी गार्डन, जिसका कि अब नाम बदल दिया गया है, की एक पुरानी तस्वीर (फोटो: www.historickarachi.weebly.com)

एक जगह फिर भी मौजूद है गांधी की मूर्ति
साल 2010. पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद. यहां एक संग्रहालय खुला. नैशनल मोन्युमेंट म्यूजियम. यहां एक जगह जिन्ना और गांधी आमने-सामने खड़े हैं. मूर्तियों की शक्ल में. ऐसा लग रहा है मानो दोनों बहस कर रहे हों. गांधी का वहां जैसा चरित्र चित्रण किया जाता है, उस हिसाब से शायद इस मूर्ति का संदेश हम समझ सकते हैं. ‘हिंदुओं के नायक’ गांधी ‘मुस्लिमों के नायक’ जिन्ना से बहस करते हुए. बंटवारे के विरोध में. पक्का तो नहीं पता, लेकिन शायद इस दृश्य में जिन्ना की भूमिका मुख्य अभिनेता और गांधी की मौजूदगी किसी ‘सहयोगी कलाकार’ की तरह रची गई है.

म्यूजियम एक तरह से चेतना का प्रबंधन करते हैं. वे हमारे सामने इतिहास की व्याख्या करते हैं. बताते हैं कि दुनिया को किस नजर से देखा जाए. दुनिया में खुद को कैसे तलाशा जाए. सकारात्मक नजरिये से किया जाए, तो म्यूजियम बेहद शानदार शैक्षणिक संस्थान हैं. अगर नकारात्मक तरीके से किया जाए, तो वो दुष्प्रचार करने का तंत्र हैं.

: हान्स हाक, मशहूर जर्मन कलाकार

इस्लामाबाद स्थित मॉन्युमेंट्स म्यूजियम में गांधी और जिन्ना की प्रतिमाएं.
इस्लामाबाद स्थित म्यूजियम में गांधी और जिन्ना की प्रतिमाएं (फोटो: नैशनल मोन्युमेंट म्यूजियम, पाकिस्तान)

नुकसान तो ले-देकर पाकिस्तान का ही है
जिन्ना और गांधी के बीच बहसें तो खूब होती थीं. मुलाकातों में भी. चिट्ठियों में भी. मगर गांधी के विरोध का जो तर्क था, वो इतिहास पाकिस्तान ने छुपा लिया. सही कहते हैं. सत्ता को जब अजेंडा पूरा करना होता है, तो इतिहास के साथ खिलवाड़ करना बड़ा कारगर साबित होता है. पाकिस्तान में गांधी इसी अजेंडे के शिकार हैं. इसमें नुकसान किसी और का नहीं, पाकिस्तान का ही है.

ये तस्वीर 2 मार्च, 1938 की है. हरिपुरा में आयोजित कांग्रेस बैठक के दौरान पशु फॉर्म खोले जाने के मौके पर मौजूद महात्मा गांधी.
ये तस्वीर 2 मार्च, 1938 की है. हरिपुरा में आयोजित कांग्रेस बैठक के दौरान पशु फॉर्म खोले जाने के मौके पर मौजूद महात्मा गांधी.



https://www.thelallantop.com/tehkhana/mahatma-gandhi-how-pakistan-behave-with-his-memories/

अगला लेख: क्या ऑटो चलाकर परिवार का पेट पालते हैं ‘PM मोदी के भाई’.. जानिए सच..



शोभा भारद्वाज
07 अक्तूबर 2018

प्रिय प्राची बहुत अच्छा लेख एक अनुभव लिख रही हूँ हम विदेश में रहते थे वहां कई पाकिस्तानी हमारे जानकार थे वह कहते थे आपके यहाँ एक ही लीडर हुआ था वह गांधी उसे भी तुम लोगों ने मार दिया मेरा उत्तर था वह तुम्हारा इतना फेवर लेते थे दर्द करते थे आप लोग उनको सम्मान जनक शब्दों में भी संबोधित नहीं कर सकते उनकी मृत्यू पर शोक संदेश में पाकिस्तानी कायदे आजम जिनना ने उन्हें हिन्दुओं का लीडर लिखा था| हाँ पाकिस्तान गये मुहाजरों ने उस दिन खाना नहीं खाया था

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
19 सितम्बर 2018
एशिया कप के चौथे मैच में भारत ने हांगकांग को हराकर सुपर-4 में अपनी जगह बना ली है इस टूर्नामेंट का सबसे रोमांचक मुकाबला आज भारत और पाकिस्तान के बीच दुबई में खेला जायेगा|Third party image referenceभारत और पाकिस्तान के बीच खेले जाने वाले इस मैच के लिए भारतीय टीम में कई बड़े बदलाव किये जा सकते है भारतीय
19 सितम्बर 2018
19 सितम्बर 2018
अब मिसाइल के मामले में रूस और अमेरिका भी भारत से पीछे हो गए हैं। कलाम साहब का सपना पूरा करते हुए भारत ने हाइपरसोनिक मिसाइल बना ली है। 3457 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हमला बोलने वाली ये मिसाइल अब तक भारत की सबसे एडवांस्ड मिसाइल है।करीब 300 किलोमीटर दूर लक्ष्य को भेद पाने
19 सितम्बर 2018
21 सितम्बर 2018
सोशल मीडिया पर कई दिनों से एक ऑटो ड्राइवर की तस्वीर वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंझले भाई हैं और वह ऑटो चलाकर अपने परिवार का पालन-पोषण करते हैं। इसके जरिये यह बताने की कोशिश की जा रही है कि मोदी इतने ईमानदार हैं कि वह अपने परिवार तक को अपने पद का फायदा नही
21 सितम्बर 2018
20 सितम्बर 2018
अनंत चतुर्दशी भगवान विष्णु का त्योहार है. जो कि इस बार 23 सितंबर को है. इसी दिन गणपति बप्पा के विसर्जन का दिन है. लेकिन क्या आप जानते हैं अनंत चतुर्दशी में भगवान विष्णु के अनंत रुपों की पूजा की जाती है. फोटोः गूगल फ्री इमेजअनंत चतुर्दशी के दिन सूर्योदय के समय से अगले दिन
20 सितम्बर 2018
24 सितम्बर 2018
टीम इंडिया के ओपनर शिखर धवन (114) और रोहित शर्मा (111*) की सलामी जोड़ी ने रविवार को पाकिस्तान के खिलाफ दुबई अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए एशिया कप सुपर-4 के तीसरे मुकाबले में 20 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ दिया। दरअसल, पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए एशिया कप सुपर-4 के तीसरे मुकाबले में रोहित शर्मा औ
24 सितम्बर 2018
24 सितम्बर 2018
देश को अपने पैरों पर खड़े हुए 70 साल से ज़्यादा हो गए हैं. इस दौरान हमने बहुत से उतार-चढ़ाव देखे. इतने सालों में हमने इमरजेंसी और ब्लू स्टार ऑपरेशन जैसे दंशों को झेला, वहीं न्यूक्लीयर पावर और मंगलयान जैसे असाध्य लक्ष्यों को पा कर दुनिया के सामने नज़ीर पेश की. बनते-बिगड़ते
24 सितम्बर 2018
17 सितम्बर 2018
16 सितंबर यानि रविवार को Bigg Boss 12 की शुरूआत हो गई। इसी के साथ देशभर के करोड़ों ऑफिसों में हर रात के ऐपिसोड के बाद अगले दिन होने वाली गॉसिप्स भी शुरू हो गईं। आज जब लोग अपने-अपने ऑफिस पहुंचे तो बिग बॉस को लेकर गॉसिप करना शुरू कर दिया। आज की गॉसिप्स में एक जोड़ी ऐसी थी,
17 सितम्बर 2018
18 सितम्बर 2018
देश के सबसे प्रभावी प्रधानमंत्रियों में से एक नरेंद्र मोदी हमेशा ही विपक्षी पार्टियों के निशाने पर रहते हैं। साल 2011 में मुस्लिम टोपी (Taqiyah) पहनने से इंकार कर दिया था। उस दौरान नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे और अहमदाबाद में आयोजित सद्भावना उपवास में शिरकत करने
18 सितम्बर 2018
17 सितम्बर 2018
OPPO India is looking for Media Specialist( Junior Level, 0 to 1 year experience)Requirement: MBA, Marketing Relevant MajorLocation: GurgaonCVs please send to wenjie.tang@oppo.com
17 सितम्बर 2018
20 सितम्बर 2018
नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के मैच यूं तो हमेशा ही हाईवोल्टेज होते हैं. एशिया कप 2018 में बुधवार (19 सितंबर) खेला गया भारत-पाकिस्तान का मैच भी काफी सुर्खियों में रहा. भारत की शानादार गेंदबाजी के सामने पाकिस्तानी बल्लेबाज नहीं टिक पाए और 8 विकेट से मैच हार गए. पाकिस्तान क
20 सितम्बर 2018
20 सितम्बर 2018
पाकिस्तान का घिनौना और बर्बर चेहरा एक बार फिर सामने आया है. पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू के समीप अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक जवान का गला रेत दिया. इस घटना से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ सकता है. यह बर्बर घटना मंगलवार को रामगढ़ सेक्टर में हुई. घटना के बाद सुरक्षा बलों ने पूरी
20 सितम्बर 2018
20 सितम्बर 2018
पाकिस्तान का घिनौना और बर्बर चेहरा एक बार फिर सामने आया है. पाकिस्तानी सैनिकों ने जम्मू के समीप अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के एक जवान का गला रेत दिया. इस घटना से दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ सकता है. यह बर्बर घटना मंगलवार को रामगढ़ सेक्टर में हुई. घटना के बाद सुरक्षा बलों ने पूरी
20 सितम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x