महत्वपूर्ण बातें जो मैंने नौकरी छोड़ने के बाद सीखी

08 अक्तूबर 2018   |  जोगिंदर पोसवाल   (64 बार पढ़ा जा चुका है)

महत्वपूर्ण बातें जो मैंने नौकरी छोड़ने के बाद सीखी - शब्द (shabd.in)

जिस पेशे को आप कर रहे है उसमें आपको सफलता ही मिलेगी इस बात क़ी कोई गारंटी नहीं है। दुसरे शब्दों में कहें तो सफल करियर के लिए कोई फार्मूला नहीं है। हो सकता है आपकी सबसे सुरक्षित और एक अच्छी कंपनी की नौकरी आर्थिक संकट या बाजार में मंदी होने के दौरान छूट जाए। ग़ैर-सरकारी कंपनी में नौकरी का सुरक्षित होना एक भ्रम है। जिस कंपनी से मैंने नौकरी छोड़ी थी उसमें से एक नयी कंपनी बनी थी और कुछ स्टाफ को नयी कंपनी में लिया गया था। दो-तीन साल तक कर्मचारियों की अच्छी सैलरी बढ़ी तथा कंपनी को अच्छा पूंजी निवेश भी मिला था। लेकिन बिज़नेस में बहुत लाभ न मिलने के कारण अब वो कंपनी बंद हो रही है और उसमें काम करने वाले कर्मचारियों को जाने के लिए बोल दिया गया है।

नौकरी का सुरक्षित होना कंपनी में आपके अच्छे प्रदर्शन, आपकी रेटिंग या आपकी कंपनी कितनी बड़ी है, इन सब पर निर्भर नहीं है ये आपके अपने कौशल (skills) पर निर्भर है। आप उस व्यवसाय में ज़रूरत के अनुसार अपने कौशल को अपडेट करते रहेंगे तो आप सुरक्षित नौकरी कर सकते है क्योकि अब आप कंपनी पर निर्भर नहीं है आप के पास वो कौशल है कि आप कभी भी किसी भी कंपनी से नौकरी छोड़कर दूसरी कंपनी में जा सकते है।

11 साल नौकरी करने के बाद साल 2014 दिसंबर में मैंने अपनी नौकरी छोड़कर व्यापार(Business) में आने का निर्णय किया तब से आप तक (साल 2018) मैंने अलग-अलग तरह के व्यवसाय में अपने को आजमाया। मैंने विफलता भी देखी और सफलता का स्वाद भी चखा और अभी भी में एक स्थायी व्यापार को स्थापित करने के संघर्ष में लगा हूँ।

इस संघर्ष के समय में मैंने बहुत कुछ सीखा जो नौकरी के 11 सालों में नहीं सीखा था। उनमें से कुछ महत्वपूर्ण अनुभव आपके साथ शेयर कर रहा हूँ। अगर आप जॉब छोड़ कर बिज़नेस में आने का सोच रहे है तो हो सकता है इनसे आपको कुछ मदद मिल सकें।

  • नौकरी करते हुए पैसे जरूर बचायें- जब आप नौकरी कर रहें होते है तो आपके बैंक खाते में हर महीने एक तय मात्रा में पैसे आते है तो आपके लिए बचत करना आसान हो जाता है। ये बचाये हुए पैसे नौकरी छोड़ने के बाद बहुत काम आते है। जब तक आपके पास एक साल या कम से कम 6 महीने तक अपने खर्चे चलने के लिए बचाये हुए पैसे ना हो नौकरी छोड़कर बिज़नेस में ना आये।
  • आप कम पैसे खर्च किये भी आसानी से रह सकते हैं – नौकरी करने वाले के साथ एक बहुत बड़ी समस्या जुडी होती है। इनकी जैसे-जैसे आमदनी बढ़ती है वैसे-वैसे ये अपने खर्चे भी बढ़ा लेते है। परन्तु बिज़नेस में आने के बाद जब पैसे लगाने पड़ते है तो समझ आता है आपके बहुत खर्चे फ़िज़ूल के है और आप पहले से कम पैसो में भी रह सकते हो जिंदगी जी सकते हो।
  • सफलता के कई रूप होते है- सफलता की बहुत सी परिभाषाएँ है। सिर्फ बहुत सारे पैसे कमा लेना ही सफलता नहीं है। मेरे बहुत दोस्त अभी भी नौकरी में है और मुझसे ज्यादा पैसे कमा रहें है फिर भी वे ख़ुश नहीं है। उनकी जिंदगी एक पैसे बनाने वाली मशीन बन कर रह गयी है एक ही दिनचर्या, एक ही तरह का काम, कुछ अलग करने का समय नहीं बस नौकरी और कुछ नहीं। मेरे पास उनके बराबर पैसे नहीं पर मेरे पास आजादी है। काम करने या न करने की आजादी, कही भी जाने की आजादी, अपने अनुसार अपनी दिनचर्या बनाने की आजादी, अलग-अलग व्यवसाय को समझने की आजादी, अलग-अलग तरह के लोगो को मिलने और जानने की आजादी। ये मेरी सफलता नहीं है तो और क्या है ?
  • आप घबराएंगे आप को परेशानी होगी- जब आप नौकरी कर रहे होते है तो आपके पास हर महीने एक तय मात्रा में पैसे आते है जो आने ही है जबकि बिज़नेस में ये नहीं होता। हो सकता है किसी महीने आपको बिलकुल फायदा न हो या हो सकता है आपका पहला बिज़नेस सही से ना चले। मेरा पहला बिज़नेस पूरी तरह से फेल हो गया मैंने बहुत सी राते बिना सोये गुजार दी। मैं दिन-रात सोचता था कि नौकरी छोड़कर क्या मैंने गलती कर दी? क्या मुझे वापिस नौकरी पर चला जाना चाहिए ? जितना मैं नौकरी में कमा रहा था उतने पैसे भी बिज़नेस में कमा पाउँगा? इन सब परेशानियों के लिए अपने को तैयार रखें। ये सब ख़याल आपको भी आएंगे। मैडिटेशन करें आपने दिमाग को शांत रखें। बिज़नेस समय मांगता है धैर्य मांगता है। नौकरी की तरह नहीं आज नौकरी लगी महीने बाद आपके बैंक में पैसे आने शुरू। आपको निरन्तर प्रयासरत रहना है आगे बढ़ना है। मेहनत करते रहो सफलता आज नहीं तो कल मिलेगी जरूर।
  • हर किसी की आपके लिए एक राय (opinion) होगी- जब आप नौकरी छोड़कर बिज़नेस में आते है ये जोखिम लेते है तो आपके फैसले को सही बताने वाले बहुत कम लोग होते है। यहाँ तक कि आपके माता-पिता, आपके परिवार के सदस्य, आपकी पत्नी, सबको को लगता है आपका दिमाग ख़राब हो गया है अच्छी इनकम की नौकरी छोड़कर बिज़नेस करने की क्या जरुरत है। आपके सह कार्यकर्ता (co-worker) आपके पीछे बातें करते है कि क्या ये बिज़नेस कर पाएगा इतना तो कमा नहीं पाएगा बिज़नेस करना आसान नहीं वगैरह-वगैरह। एक बात आप समझ लीजिये कमाता हुआ इंसान सबको अच्छा लगता है और यही सार्वभौमिक सत्य है।
  • बिज़नेस करना सच में आसान नहीं है- नौकरी से व्यापार में जाने की योजना बनाते समय आपको लगता है अपना काम होगा, सब कुछ अपने अनुसार करेंगे, सब सही होगा मस्ती से बिज़नेस करेंगे किंतु ऐसा होता नहीं है। ये रास्ता इतना भी आसान नहीं है। बहुत सी समस्याएं आती है जिनका आपको पता भी नहीं था। आप कुछ भी करें और समस्याओं का सामना न करना पड़े ये तो हो ही नहीं सकता। जब परेशानिया आये तो हार न मानें। आपको अपने पर विश्वास होना चाहिए, आपको अपना रास्ता पता होना चाहिए, आपको पता होना चाहिए कि जो आप कर रहे है वो आपके लिए सही है। ये संघर्ष आसान नहीं है पर ये आपको आपके भविष्य के लिया मजबूत बनाता है और आपको उस मुकाम पर ले जाता है जहाँ का आपने सपना देखा था।
  • लोगो की पहचान- इस दौर में आपके साथ सबसे अच्छी बात ये होती है कि आपके दोस्तों की लिस्ट बहुत छोटी हो जाती है। आपको समझ आ जाता है कि कौन आपके साथ किस उद्देश्य से जुड़ा था। आपके सह कार्यकर्ता (co-worker) में से कौन-कौन आपसे अब भी बातें करता है आपके लिए समय निकलता है आपकी फ़िक्र करता है आपसे जुड़ा रहता है। जब आपके लिया सबसे मुश्किल समय होता है उस समय जो आपके साथ जुड़ा रहता है वही आपका सबसे सच्चा दोस्त होता है।
  • सही लोगो के साथ मेलजोल- अगर आप किसी बिज़नेस में सफल होना चाहते है तो आपको उन लोगो के साथ मेलजोल रखना होगा जो वो बिज़नेस करते है या कर चुके है। उन को उस काम का वास्तविक अनुभव है और वो आपको सबसे सही सलाह दे सकते है। साथ ही अगर आप ने स्टार्टअप शुरू कि है तो आपका सही लोगो के साथ मेलजोल आपको आपके बिज़नेस के लिए सही कस्टमर (clients) दिलाने में भी बहुत मदद करता है क्योंकि कोई भी बड़ी कम्पनी किसी स्टार्टअप से जल्दी से डील नहीं करती मतलब काम नहीं देती है वही अगर आपके पास किसी सही व्यक्ति का रेफरेंस हो जिसको वो कंपनी जानती हो तो आपको आराम से काम मिल जाता है।


अगर आपको हमारा ये लेख – “कुछ महत्वपूर्ण बातें जो मैंने नौकरी छोड़ने के बाद सीखी (Most Important things I learned Since I left my Perfect Job)” पसंद आया हो तो अपनी प्रतिक्रिया(comments) जरूर लिखें और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें


This post was originally published at gyaanlok.

अगला लेख: Job Opening @ Dainik Jagran For Chief Sub- Editor - Jagran



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x