अम्बेडकर ने आखिर दूसरी शादी ब्राह्मण महिला से ही क्यों की,जाने अनसुनी सच्चाई...

19 अक्तूबर 2018   |  अखिलेश ठाकुर   (964 बार पढ़ा जा चुका है)

अम्बेडकर ने आखिर दूसरी शादी ब्राह्मण महिला से ही क्यों की,जाने अनसुनी सच्चाई...

संविधान दिवस(Constitution day ) हर साल 26 नवंबर को भारत मनाया जाता है।26 नवंबर 1949 को पूरे दो साल,11 महीने ,18 दिन में भारतीय संविधान (Constitution Of India) तैयार किया गया। डॉ. भीमराव आंबेडकर ने इस संविधान को बनाया और देश को समर्पित किया। भारतीय संविधान विश्व में सबसे बड़ा संविधान माना जाता है।

भारत का संविधान (Indian Constitution) 26 जनवरी 1950 से लागू किया गया था। भारत सरकार द्वारा पहली बार 2015 में "संविधान दिवस" मनाया गया। डॉ. भीमराव अंबेडकर के योगदान को याद करने और संविधान के महत्व का प्रसार करने के लिए "संविधान दिवस" (Constitution Day of India) मनाया जाता है।


बता दें कि बाबा साहब अंबेडकर भारत में एक शिल्पकार , संविधान निर्माता, दलितों के मसीहा जैसे कई नामों से जाने जाते हैं। आज हम आपको बाबा साहेब आंबेडकर के ज़िंदगी से जुड़े एक ऐसे तथ्य के बारे में बताने जा रहे हैं जिसे बहुत काम लोग जानते हैं।बता दें दलितों के महीसा कहलाने वाले डॉ अम्बेडकर ने दूसरी शादी एक ब्राम्हण महिला से की थी। 27 मई 1935 को बाबा साहब की पहली पत्नी रमाईबाई का निधन हो गया।

इसके बाद बाबा साहब ने कई आन्दोलन चलाये और कई लड़ाइयाँ भी लड़ीं। 1947 में अंबेडकर को डायबटीज़ ने अपनी गिरफ्त में ले लिया। बाबा साहब काम में इतना व्यस्त रहते थे कि उनकी ये समस्याएं बढ़तीं गईं। जिसकी वजह थी उनका समय पर खानपान न हो पाना और परहेज भी नहीं कर पा रहे थे। उनकी समस्याएं इतनी ज्यादा बढ़ गईं कि बाबा साहब को इलाज की सलाह दी गई। इसके बाद मुम्बई की डॉक्टर शारदा कबीर द्वारा उनका इलाज शुरू किया गया। वह पुणे के सभ्रांत मराठी ब्राह्मण से ताल्लुक रखतीं थीं। इस तरह के ब्राह्मण को चितपावन अर्थात सबसे कुलीन ब्राह्मण कहा जाता था। उन्होंने मुम्बई से एमबीबीएस किया था। बाबा साहब के इलाज के दौरान ही दोनों लोगों में नजदीकियां आ गईं।


15 अप्रैल 1948 को डॉ. भीमराव अम्बेडकर ने डॉ. शारदा कबीर से दूसरी शादी की थी। उस समय डॉ. अम्बेडकर की उमर 57 साल की थी तो डॉ. शारदा की उमर 45 साल थी। यानी डॉ. अम्बेडकर अपनी दूसरी पत्नी से 12 साल बड़े थे।डॉ. भीमराव अम्बेडकर की इस शादी से ब्राह्मण ही नहीं बल्कि दलितों का भी एक बड़ा वर्ग कुपित हो गया था। डॉ. शारदा की देखभाल से अम्बेडकर की सेहत में सुधार हुआ और जिससे वे संविधान लेखन के लिए समय दे सके।इसके बाद डॉ. शारदा का नाम सविता अम्बेडकर हो गया।




बता दें कि 6 दिसम्बर 1956 को डॉ. अम्बेडकर की मौत हो गयी।और इस घटना के बाद बवाल शुरू हो गया। अम्बेडकर के परिजनों और समर्थकों ने सविता अम्बेडकर पर तरह- तरह के लांछन लगाने शुरू कर दिये। यहां तक आरोप लगाया गया कि सविता अम्बेडकर ने ही उन्हें मार दिया।

डॉ. अम्बेडकर और रमाबाई (पहली पत्नी ) के पुत्र यशवंत राव भी सविता अम्बेडकर से खफा रहते थे। उन्होंने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को एक आवेदन देकर इस मौत की जांच की मांग कर दी। इस बीच डॉ. अम्बेडकर के समर्थकों ने 19 सांसदों को इस बात के लिए तैयार कर लिया कि वे इस मौत की जांच के लिए तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू को एक पत्र लिखें। सांसदों ने ये पत्र लिखा। जवाहर लाल नेहरू ने जांच कमेटी बनायी। इस समिति ने जांच में पाया कि डॉ. अम्बेडकर की मौत स्वभाविक रूप से हुई है और सविता अम्बेडकर पर लगाये गये आरोप बेबुनियाद हैं।


अम्बेडकर ने आखिर दूसरी शादी ब्राह्मण महिला से ही क्यों की,जाने अनसुनी सच्चाई...

अगला लेख: अमृतसर रेल हादसा: शव घर लाने के लिए मांग रहे थे 40 हजार, पत्नी को व्हाट्सएप पर फोटो दिखा कर किया दाह-संस्कार



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
22 अक्तूबर 2018
अब न तो लाठियों का दौर है और न ही लठैतों का जोर है, फिर भी सुलतानुपर के ऐतिहासिक पांडेय बाबा मेले में कई करोड़ रुपयों की लाठियों का कारोबार होता है। प्रदेश के कई जिलों से पांडेय बाबा मेले में आये लोग बड़े पैमाने पर यहां से लाठियों की खरीदारी करते हैं। उल्लेखनीय है कि फैजाब
22 अक्तूबर 2018
19 अक्तूबर 2018
19 अक्टूबर को पूरे विश्व में दशहरा (Dussehra) मनाया जाएगा. इस दिन हर गली-नुक्कड़ और बड़े-बड़े मैदानों में रावण (Ravana) का पुतला जलाया जाएगा. बुराई पर अच्छाई की जीत का ये जश्न धूमधाम से मनाया जाएगा. मैदानों में मेले लगेंगे और मेले में राम और रावण से जुड़े खेल-खिलौने दिखेंगे. एक तरफ परिवार मिलकर चाट
19 अक्तूबर 2018
20 अक्तूबर 2018
Third party image referenceआखिरकार ड्राइवर ने मौके पर गाड़ी क्यों नहीं रोकी। वह लोगों को रौंदता हुआ क्यों चला गया। यह सवाल सभी के मन में है। आइए हम आपको बताते हैं कि ड्राइवर ने गाड़ी क्यों नहीं रोकी। साथ ही हम आपको यह भी बता देते हैं कि इस हादसे के प्रमुख कारण क्या थे।Third party image reference1—रा
20 अक्तूबर 2018
24 अक्तूबर 2018
Third party image referenceदशहरा की रात अमृतसर में हुए भीषण हादसे ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया। जी हां रावण दहन देख रहे लोगों पर तेज रफ्तार ट्रेन चढ़ गई और अमृतसर के साथ साथ पूरे भारत में चीख पुकार मच गई। इस हादसे में 61 से ज्यादा लोगों की जान गई जबकि 100 से ज्यादा लोग घायल हैं।इस हादसे के तुरंत बा
24 अक्तूबर 2018
19 अक्तूबर 2018
सलमान ख़ान ने अपना खूबसूरत प्यार हमेशा हमेशा के लिए खो दिया है! और इसकी खबर उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपने फैन्स के साथ शेयर की। बता दें कि सलमान एक घर सालों से रह रहीं उनकी फीमेल डॉग का देहांत हो गया है, जिसका नाम My Love था।सलमान ने इमोशनल होकर ट्वीटर पर माय लव
19 अक्तूबर 2018
12 अक्तूबर 2018
टीम इंडिया के युवा विकेटकीपर रिषभ पंत को भले ही धोनी का उत्तराधिकारी माना जा रहा है लेकिन विकेट के पीछे उनका शर्मनाक प्रदर्शन इसकी तस्दीक नहीं करता. वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट में भी रिषभ पंत बतौर विकेटकीपर वही गलती करते नजर आए जिसे लेकर उन्हें लगातार आलोचनाएं झेलनी
12 अक्तूबर 2018
23 अक्तूबर 2018
पंजाब के अमृतसर में विजयादशमी के दिन रावण वध के दौरान के हुए ट्रेन हादसे में मारे गये मजदूरों के परिजनों ने पंजाब सरकार पर शव भेजने के लिए कोई इंतजाम नहीं करने का आरोप लगाया है. बरौली के सलोना निवासी मृत राजेश भगत के भाई भूलन भगत ने कहा कि अमृतसर जाने के लिए पैसे नहीं थे,
23 अक्तूबर 2018
19 अक्तूबर 2018
भले ही #MeToo के आरोपों में फंसे बहुत से लोगों पर अब तक कोई ठोस कार्यवाई न हो सकी हो, लेकिन भारतीय समाज में इसका असर साफ़ नज़र आने लगा है। कम से कम इस अभियान ने महिलाओं को अपनी आवाज़ उठाने का एक मौका तो दिया ही है। सालों से जो आवाज़े डर के चलते दबी हुई थीं वो अब खुलकर सुनाई देने लगी हैं। एक के बाद एक
19 अक्तूबर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x