पेटीएम मामला: क्या दूसरा पेटीएम खड़ा करना चाहती थीं सोनिया धवन?

26 अक्तूबर 2018   |  अखिलेश ठाकुर   (73 बार पढ़ा जा चुका है)

पेटीएम मामला: क्या दूसरा पेटीएम खड़ा करना चाहती थीं सोनिया धवन?

पेटीएम

फाउंडर विजय शेखर शर्मा से 10 करोड़ रुपये की रंगदारी मांगे जाने के केस में पुलिस को कंपनी के पर्सनल डेटा और गोपनीय डेटा वाली एक हार्ड डिस्क और एक पेन ड्राइव मिली है। पुलिस का कहना है कि बरामद किए गए इन दो डेटा बैंकों से ऐसे संकेत निल रहे हैं कि विजय शेखर की पर्सनल सेक्रटरी सोनिया धवन एक नई कंपनी खड़ी करना चाहती थीं। ये डेटा बैंक ग्रेटर नोएडा के शाहदरा गांव स्थित पेटीएम एप्लॉयी के घर से बरामद हुए। इसी डेटा के जरिए पेटीएम के फाउंडर को ब्लैकमेल किया जा रहा था।

पुलिस सूत्रों का कहना है कि सोनिया, उनके पति रूपक और पेटीएम एम्प्लॉयी देवेंद्र कुमार पेटीएम की प्रतिस्पर्द्धी कंपनी खड़ी करना चाहते थे। हालांकि, पुलिस के पास इस प्लान के रंगदारी से कनेक्शन के बारे में कुछ नहीं कहा।


सोनिमया धवन के परिवार का कहना है कि उन्हें फंसाया जा रहा है क्योंकि कंपनी के वरिष्ठ अधिकारी उनसे जलते थे। सोनिया की बहन रुपाली ने कहा, 'मेरी बहन ने पेटीएम को 10 साल दिए। वह कंपनी से तब से जुड़ी हुई हैं, जब वह पेटीएम नहीं थी। उन लोगों द्वारा सोनिया को दोष देना कल्पना से परे है।' इस मामले में न पुलिस और न ही पेटीएम ने यह बताया है कि चोरी की जानकारी किस तरह से फाउंडर विजय शेखर को ब्लैकमेल करने में इस्तेमाल की जा सकती थी। मंगलवार को कंपनी ने सिर्फ इतना कहा कि उनका पर्सनल डेटा चुराया गया था। कंपनी से जारी बयान के मुताबिक, 'पेटीएम यह बात दोहरा रही है कि उसके सभी ग्राहकों को डेटा पूरी तरह सुरक्षित है।'


बता दें कि इस केस में मुख्य साजिशकर्ता सोनिया धवन को बताया जा रहा और सोनिया समेत तीन लोगों को अरेस्ट किया गया था और चौथा अब तक फरार है। अरेस्ट हुए तीनों आरोपियों को मंगलवार को कोर्ट में पेश किया गया और 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।


नोेडा पुलिस चीफ अजय पाल शर्मा ने कहा कि सोनिया और उनके पति रूपलक प्रॉपर्टी खरीदना चाहते थे, इसी वजह से सोनिया ने रंगदारी मांगने का प्लान बनाया था, लेकिन सोनिया के करीब 70-80 लाख के पैकेज को देखते हुए पुलिस यह पता लगाने की कोशिश में जुटी है कि ब्लैकमेलिंग के पीछे कोई और मकसद तो नहीं था।



डेटा स्टोरेज डिवाइसेज पेटीएम एंप्लॉयी देवेंद्र के घर से बरामद हुई थीं। पुलिस कोलकाता पुलिस के संपर्क में भी है, जहां चौथे आरोपी रोहित को दबोचने के लिए दबिश दी जा रही है। पुलिस का कहना है कि देवेंद्र ने रोहित को डेटा दिया था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, 'देवेंद्र की गर्लफ्रेंड कोलकाता में रहती है, जिसके जरिए वह रोहित को जानता था। दोनों के बीच गर्लफ्रेंड ही लिंक थी।'

सोनिया की बहन रुपाली ने कहा कि परिवार हाई कोर्ट में अपील करेगा। उन्होंने कहा, 'सोनिया पर्सनल सेक्रटरी से वाइस प्रेजिडेंट के पद तक पहुंच गई थीं, शायद इसी वजह से कई लोग उनसे जलते होंगे। संभव है इसी वजह से उनके खिलाफ साजिश रच उन्हें फंसाया जा रहा होगा।'

https://navbharattimes.indiatimes.com/state/uttar-pradesh/noida/in-paytm-blackmail-conspiracy-police-see-bid-to-start-rival-co/articleshow/66342676.cms

अगला लेख: अमृतसर रेल हादसा: शव घर लाने के लिए मांग रहे थे 40 हजार, पत्नी को व्हाट्सएप पर फोटो दिखा कर किया दाह-संस्कार



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
23 अक्तूबर 2018
इसी दिन भगवान् कृष्ण महारास रचाना आरम्भ करते हैं। देवीभागवत महापुराण में कहा गया है कि, गोपिकाओं के अनुराग को देखते हुए भगवान् कृष्ण ने चन्द्र से महारास का संकेत दिया, चन्द्र ने भगवान् कृष्ण का संकेत समझते ही अपनी शीतल रश्मियों से प्रकृति को आच्छादित कर दिया। उन्ही किरणों
23 अक्तूबर 2018
19 अक्तूबर 2018
नवरात्रि के पर्व का समापन का समय धीरे-धीरे पास आ रहा हैं, माँ दुर्गा के विसर्जन का दिन 19 अक्टूबर को हैं| ऐसे में जब नवरात्रि के शुरुआत होती हैं तो उस समय माँ दुर्गा की चौकी और कलश की स्थापना की जाती हैं| ऐसे में जब माँ दुर्गा का विसर्जन करना होता हैं तो उनके साथ कलश, नार
19 अक्तूबर 2018
20 अक्तूबर 2018
Third party image referenceआखिरकार ड्राइवर ने मौके पर गाड़ी क्यों नहीं रोकी। वह लोगों को रौंदता हुआ क्यों चला गया। यह सवाल सभी के मन में है। आइए हम आपको बताते हैं कि ड्राइवर ने गाड़ी क्यों नहीं रोकी। साथ ही हम आपको यह भी बता देते हैं कि इस हादसे के प्रमुख कारण क्या थे।Third party image reference1—रा
20 अक्तूबर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x