पिछले 26 सालों से केवल पत्ते खा रहा है यह पाकिस्तानी व्यक्ति वजह जानकार हो जाओगे हैरान

04 नवम्बर 2018   |  रेखा यादव   (73 बार पढ़ा जा चुका है)

पिछले 26 सालों से केवल पत्ते खा रहा है यह पाकिस्तानी व्यक्ति वजह जानकार हो जाओगे हैरान

पिछले 26 सालों से केवल पत्ते खा रहा है यह पाकिस्तानी व्यक्ति, वजह जानकार हो जाओगे हैरान

Third party image reference

पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में एक आदमी पिछले 26 सालों से ताजा पत्तियों और टहनियों को खाकर जीवित रहा है और कभी बीमार भी नहीं हुआ है।

पंजाब प्रांत के गुजराँवाला जिले के रहने वाले 51 वर्षीय मेहमूद बट ने 25 साल की उम्र में पत्तियों को खाना शुरू कर दिया था क्योंकि उसके पास कोई काम नहीं था ताकि वह बुनियादी भोजन कर सके।

बट ने कहा, "मेरे परिवार में बहुत अधिक गरीबी थी। सब कुछ सीमा से परे था और भोजन पाना मेरे लिए बहुत मुश्किल था, इसलिए मैंने सोचा कि सड़क पर भीख मांगने के बजाय पत्ते और टहनियां खाना बेहतर है।"

"पत्ते और टहनियां खाना अब मेरी आदत बन गई है," बट्ट ने कहा द न्यूज़ इंटरनेशनल के अनुसार।

Third party image reference

सालों बाद, जब उन्हें काम मिला और भोजन पर खर्च कर सकते थे, तो उन्होंने अपने अनोखे खाने के अभ्यास को बनाए रखने के लिए खुद को उत्सुक पाया।

बट, जो अपने गधे वाली गाड़ी पर एक जगह से दूसरी जगह चीजों को ले जाकर 600 रुपये प्रति दिन कमाता है, कभी बीमार नहीं पड़ता है और हमेशा ताजा टहनियों और पत्तियों का उपभोग करने की तलाश में रहता है। उन्होंने कहा कि बरगान, ताली और चक चेन के पेड़ों की लकड़ी उनके पसंदीदा थे।

Third party image reference

उनके पड़ोसी गुलाम मोहम्मद ने कहा, "उन्होंने कभी डॉक्टर या किसी अस्पताल का दौरा नहीं किया है। हम इस बात से चौंक गए हैं कि इन सभी वर्षों में पत्ते खाने के बावजूद कोई व्यक्ति बीमार कैसे नहीं पड़ सकता है।"

मोहम्मद ने कहा, "वह कभी भी सड़क के किनारे अपनी गाड़ी को रोक सकता है ताजा पेड़ की शाखाएं खाने के लिए।"

रिपोर्ट में कहा गया है कि बट अपने खाने की आदतों के लिए अपने क्षेत्र में लोकप्रिय है क्योंकि लोग उसे पत्तियों को खाते हुए देखते हैं, लेकिन वह कभी बीमार नहीं होते हैं।

https://www.ucnews.in/news/%E0%A4%AA%E0%A4%BF%E0%A4%9B%E0%A4%B2%E0%A5%87-26-%E0%A4%B8%E0%A4%BE%E0%A4%B2%E0%A5%8B%E0%A4%82-%E0%A4%B8%E0%A5%87-%E0%A4%95%E0%A5%87%E0%A4%B5%E0%A4%B2-%E0%A4%AA%E0%A4%A4%E0%A5%8D%E0%A4%A4%E0%A5%87-%E0%A4%96%E0%A4%BE-%E0%A4%B0%E0%A4%B9%E0%A4%BE-%E0%A4%B9%E0%A5%88-%E0%A4%AF%E0%A4%B9-%E0%A4%AA%E0%A4%BE%E0%A4%95%E0%A4%BF%E0%A4%B8%E0%A5%8D%E0%A4%A4%E0%A4%BE%E0%A4%A8%E0%A5%80-%E0%A4%B5%E0%A5%8D%E0%A4%AF%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%A4%E0%A4%BF-%E0%A4%B5%E0%A4%9C%E0%A4%B9-%E0%A4%9C%E0%A4%BE%E0%A4%A8%E0%A4%95%E0%A4%BE%E0%A4%B0-%E0%A4%B9%E0%A5%8B-%E0%A4%9C%E0%A4%BE%E0%A4%93%E0%A4%97%E0%A5%87-%E0%A4%B9%E0%A5%88%E0%A4%B0%E0%A4%BE%E0%A4%A8/1925378549289707.html

अगला लेख: 5 महीने में टूट रही है लालू के बेटे तेजप्रताप की शादी - किसी बाबा की सलाह पर तलाक ले रहे तेज प्रताप?



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
12 नवम्बर 2018
अनंत कुमार मोदी कैबिनेट में संसदीय मामलों का मंत्रालय संभाल रहे थे. वो दक्षिणी बेंगलुरु की सीट से सांसद थे. तकरीबन छह महीने पहले उनका कैंसर डाइग्नॉज़ हुआ था. लंदन और न्यू यॉर्क में इलाज भी चला. अक्टूबर के आखिर में ही वो अमेरिका से लौटे थे (फोटो: बाईं तरफ अनंत कुमार, दाहिनी ओर उनके शव को देखने आए परि
12 नवम्बर 2018
19 नवम्बर 2018
भारत पूरी दुनिया में अपनी विविधता के लिए जाना जाता है. उसकी ये ख़ासियत आज से नहीं बल्कि शुरूआत से ही रही है. इसकी झलक दिखा रही हैं ये तस्वीरें जो 20वीं सदी के पहले दशक में ली गई थीं, जब भारत अंग्रेज़ों के अधीन था.50 फ़ीट के टावर से नीचे पानी में छलांग लगाता एक आदमी.कश्मीर
19 नवम्बर 2018
20 अक्तूबर 2018
Third party image referenceआखिरकार ड्राइवर ने मौके पर गाड़ी क्यों नहीं रोकी। वह लोगों को रौंदता हुआ क्यों चला गया। यह सवाल सभी के मन में है। आइए हम आपको बताते हैं कि ड्राइवर ने गाड़ी क्यों नहीं रोकी। साथ ही हम आपको यह भी बता देते हैं कि इस हादसे के प्रमुख कारण क्या थे।Third party image reference1—रा
20 अक्तूबर 2018
23 अक्तूबर 2018
मालूम पड़ता है कि आयकर विभाग के अधिकारियों के पास पैसों को सूंघ लेने की क्षमता भी होती है. कुछ ही दिनों पहले लुधियाना के एक पकौड़े वाले के घर रेड में 60 लाख की अघोषित संपत्ति का पता चला था. इधर CBI की टीम पटियाला में एक चाटवाले के घर पहुंच गई. जांच अधिकारियों ने बताया कि
23 अक्तूबर 2018
09 नवम्बर 2018
आइए एक कहानी सुनाई जाए. वो नहीं जो दादा-दादी रात को सोते वक़्त बच्चों को सुनाते हैं. सच्ची कहानी. इसी समाज की कहानी. ऐसी कहानी जिसने नोटबंदी के दौरान चौंका दिया था कि कोई गांव ऐसा भी है जहां रह रही एक बुज़ुर्ग महिला को इस बात का ही पता नहीं चला कि पुराने 1000 और 500 के नोट
09 नवम्बर 2018
23 अक्तूबर 2018
भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और धाकड़ बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी आजकल चर्चाओं में हैं। चर्चा भी कोई ऐसी-वैसी नहीं सीधे भारतीय टीम से भारतीय राजनीती में शामिल होने की। फिलहाल तो यह अटकलें हैं, जब तक खुद महेंद्र सिंह धोनी बीजेपी में शामिल होंने या न होने का जिक्र नहीं कर देते
23 अक्तूबर 2018
22 अक्तूबर 2018
अब न तो लाठियों का दौर है और न ही लठैतों का जोर है, फिर भी सुलतानुपर के ऐतिहासिक पांडेय बाबा मेले में कई करोड़ रुपयों की लाठियों का कारोबार होता है। प्रदेश के कई जिलों से पांडेय बाबा मेले में आये लोग बड़े पैमाने पर यहां से लाठियों की खरीदारी करते हैं। उल्लेखनीय है कि फैजाब
22 अक्तूबर 2018
09 नवम्बर 2018
बिहार में सिपाही के 9900 पदों पर इस साल हुई बहाली में फर्जीवाड़े का नया और बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है। सिपाही के पद पर चयनित हो चुके दो सौ से ज्यादा अभ्यर्थियों की चालाकी चयन पर्षद ने ज्वाइनिंग से ठीक पहले पकड़ ली। अगर थोड़ी भी चूक होती तो ये सिपाही बन गए होते, लेक
09 नवम्बर 2018
03 नवम्बर 2018
आने वाले 12 नवंबर को तेजप्रताप यादव और ऐश्वर्या की शादी के 6 महीने पूरे होते. लेकिन 10 दिन पहले ही दोनों के बीच तलाक की खबर आ रही है. तेजप्रताप यादव ने कोर्ट में तलाक की अर्जी दे दी है. ये अर्जी दी गई है पटना के सिविल कोर्ट में. तेजप्रताप यादव ने इसी साल 12 मई को ऐश्वर्या
03 नवम्बर 2018
09 नवम्बर 2018
कहते हैं कि सियासत भले ही सामाजिक सद्भाव और सांप्रदायिक सौहार्द की बात को न समझे लेकिन लोक आस्था के महापर्व छठ की छटा ऐसी है, जहां सिर्फ और सिर्फ सामाजिक सद्भाव और समरसता का ही दृश्य दिख रहा है. जी हां, मुजफ्फरपुर के छठ घाटों की सफाई में जुटे मुस्लिम समाज के युवा वैसे लोग
09 नवम्बर 2018
09 नवम्बर 2018
उत्तर प्रदेश का मेरठ जिला. यहां मिलक नाम का एक गांव है. 5 नवंबर को शाम के करीब छह बज रहे थे. यहां एक आदमी ने तीन साल की बच्ची के मुंह में पटाखा रख दिया. पटाखा बच्ची के मुंह में फट गया. वो बुरी तरह से जख्मी हो गई. उसका मुंह फट गया, जिसे सिलने के लिए तकरीबन 50 टांके लगाए गए
09 नवम्बर 2018
03 नवम्बर 2018
धर्म आज के समय सबसे सवेंदनशील मुद्दा है।धर्म के लिए लोग किसी हद तक जाने को तैयार रहते हैं।आज हम आपको ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने हाल ही में धर्म परिवर्तन किया है वो भी पुरे परिवार के साथ और भगवान श्री राम को लेकर एक बड़ी बात भी कही है।उसकी बातों में कितनी सचाई ये तो वो स्वयं ही बता स
03 नवम्बर 2018
19 नवम्बर 2018
बिहार सीवान के रहने वाले डॉक्टर राजीव कुमार सिंह फिजियोथेरेपिस्ट हैं। उन्होंने आम पेशेंट से लेकर बॉलीवुड में दीपिका पादुकोण तक का इलाज किया है। कई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज इनके क्लाइंट हैं। पटना के बोरिंग रोड पर राजीव का साईं फिजियोथेरेपी क्लिनिक है, जहां वे मरीजों को इलाज करते हैं।राजीव सीवान के संठी गा
19 नवम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x