घाट को साफ करने में जी जान से जुटे हैं मुस्लिम समाज के लोग, छठ मैया के सच्चे भक्तों को सलाम

09 नवम्बर 2018   |  रेखा यादव   (65 बार पढ़ा जा चुका है)

घाट को साफ करने में जी जान से जुटे हैं मुस्लिम समाज के लोग, छठ मैया के सच्चे भक्तों को सलाम

कहते हैं कि सियासत भले ही सामाजिक सद्भाव और सांप्रदायिक सौहार्द की बात को न समझे लेकिन लोक आस्था के महापर्व छठ की छटा ऐसी है, जहां सिर्फ और सिर्फ सामाजिक सद्भाव और समरसता का ही दृश्य दिख रहा है. जी हां, मुजफ्फरपुर के छठ घाटों की सफाई में जुटे मुस्लिम समाज के युवा वैसे लोगों को एक बड़ी सीख दे रहे हैं, जो गाहे-बगाहे धर्म के नाम पर समाज को बांटने में लगे रहते हैं. भगवान भास्कर की अर्चना वाले पर्व में देखिए कैसे सामाजिक समरसता की धारा बह रही है.

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के पताही स्थित दुर्गा स्थान छठ घाट पर सिर पर टोपी लगाये मुस्लिम युवाओं की टोली अपने काम में लग गयी है. सभी के हाथों में फावड़ा और टोकरी है. वह मनोयोग से छठी मइया की सेवा में लगे हुए हैं. उन्होंने पूरे घाट की सफाई की और अर्ध्य वाले स्थान को पूरी तरह साफ किया. उनकी इस निष्ठा को देखकर स्थानीय लोग भी उनकी काफी सराहना कर रहे हैं. पौराणिक मान्यता है कि महाभारत में कुंती ने भी सूर्य की अराधना के लिए छठ व्रत किया था. साथ ही सावित्री ने भी सत्यवान के लिए छठ किया था.

मुजफ्फरपुर के दुर्गा स्थान छठ घाट पर सैकड़ों श्रद्धालु हर वर्ष छठ करते हैं. इस बात तालाब में गंदगी ज्यादा थी. उसके बाद 15 से 20 मुस्लिम युवाओं की टोली ने घाट पर आकर गंदगी देखी और उसकी सफाई में भीड़ गये. उनकी मेहनत रंग लायी और अब पूरा घाट पूरी तरह स्वच्छ दिखने लगा है. घाट की सफाई कर रहे तमन्ना हाशमी कहते हैं कि छठ पर्व इनके लिए भी खुशियां लेकर आता है, यह लोग सभी घाटों की सफाई में मदद करते हैं और छठ का प्रसाद खाते हैं. लोक आस्था के महापर्व की शुरुआत कल से नहाय खाय के साथ शुरू हो रही है. अगले चार दिनों तक यह पवित्र उत्सव पूरे बिहार में हर्षोल्लास के साथ मनाया जायेगा. इस बीच में मुस्लिम युवाओं द्वारा साफ-सफाई कर इस पूजा में मदद करने एक सामाजिक सद्भाव का मिसाल कायम करने के लिए काफी है.

https://www.ekbiharisabparbhari.com/2018/11/08/ghaat-ko-saaph-karane-mein-jee-jaan-se-jute-hain-muslim/?fbclid=IwAR2YecE02IcroZH5VzSWDGtAcu8x4zvJ5MCyey4fn5crZcZ5p1atEr9opQc

अगला लेख: आपके पैन कार्ड में लिखी दस अंकों की संख्या का यह मतलब है।



अलोक सिन्हा
12 नवम्बर 2018

बहुत प्रशंसनीय |

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
04 नवम्बर 2018
Third party image referenceपाकिस्तान के पंजाब प्रांत में एक आदमी पिछले 26 सालों से ताजा पत्तियों और टहनियों को खाकर जीवित रहा है और कभी बीमार भी नहीं हुआ है।पंजाब प्रांत के गुजराँवाला जिले के रहने वाले 51 वर्षीय मेहमूद बट ने 25 साल की उम्र में पत्तियों को खाना शुरू कर दिया था क्योंकि उसके पास कोई का
04 नवम्बर 2018
11 नवम्बर 2018
हम सब स्थायी खाता संख्या (पैन) कार्ड से परिचित हैं। आप एक भारतीय है या एक अप्रवासी भारतीय, आपको पैन कार्ड की जरूरत बेशक पड़ती है। आप कोई काम या नौकरी कर रहे हैं या नहीं, आप पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके आवेदन हेतु आयु, क्षेत्र या राष्ट्रीयता पर कोई प्रतिबंध नहीं
11 नवम्बर 2018
26 अक्तूबर 2018
हमारे देश में जब योग और वंदेमातरम जैसी चीज़ों को कट्टरपंथी धर्म के चश्मे से देखते हैं भला ऐसे में भारत मे श्रीमद्भागवत गीता को स्कूल में पढ़ाया जाना संभव कैसे हो सकता है। लेकिन एक अरब देश ऐसा भी है, जिसने श्रीमद्भागवत गीता को एक विषय के रूप में कॉलेज में पढ़ाना शुरू भी कर
26 अक्तूबर 2018
03 नवम्बर 2018
धर्म आज के समय सबसे सवेंदनशील मुद्दा है।धर्म के लिए लोग किसी हद तक जाने को तैयार रहते हैं।आज हम आपको ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने हाल ही में धर्म परिवर्तन किया है वो भी पुरे परिवार के साथ और भगवान श्री राम को लेकर एक बड़ी बात भी कही है।उसकी बातों में कितनी सचाई ये तो वो स्वयं ही बता स
03 नवम्बर 2018
09 नवम्बर 2018
उत्तर प्रदेश का मेरठ जिला. यहां मिलक नाम का एक गांव है. 5 नवंबर को शाम के करीब छह बज रहे थे. यहां एक आदमी ने तीन साल की बच्ची के मुंह में पटाखा रख दिया. पटाखा बच्ची के मुंह में फट गया. वो बुरी तरह से जख्मी हो गई. उसका मुंह फट गया, जिसे सिलने के लिए तकरीबन 50 टांके लगाए गए
09 नवम्बर 2018
12 नवम्बर 2018
अनंत कुमार मोदी कैबिनेट में संसदीय मामलों का मंत्रालय संभाल रहे थे. वो दक्षिणी बेंगलुरु की सीट से सांसद थे. तकरीबन छह महीने पहले उनका कैंसर डाइग्नॉज़ हुआ था. लंदन और न्यू यॉर्क में इलाज भी चला. अक्टूबर के आखिर में ही वो अमेरिका से लौटे थे (फोटो: बाईं तरफ अनंत कुमार, दाहिनी ओर उनके शव को देखने आए परि
12 नवम्बर 2018
03 नवम्बर 2018
धर्म आज के समय सबसे सवेंदनशील मुद्दा है।धर्म के लिए लोग किसी हद तक जाने को तैयार रहते हैं।आज हम आपको ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने हाल ही में धर्म परिवर्तन किया है वो भी पुरे परिवार के साथ और भगवान श्री राम को लेकर एक बड़ी बात भी कही है।उसकी बातों में कितनी सचाई ये तो वो स्वयं ही बता स
03 नवम्बर 2018
03 नवम्बर 2018
आप सभी को बता दें कि दिवाली का इंतज़ार सभी को है और सभी दिवाली मनाने के लिए तैयारी में जुटे हुए हैं. ऐसे में इन दिनों कई लोगों के मन में यह सवाल आ रहा है कि ‘क्या हर दीपावली नई लक्ष्मी-गणेश मूर्तियां खरीदना चाहिए..?’ ऐसे में अगर आपके पास भी इसका जवाब नहीं है तो आइए हम बतात
03 नवम्बर 2018
11 नवम्बर 2018
जयपुर, इंसान की एवरेज उम्र करीब सौ साल मानी जाती है। कुछ लोग होते है जो सौ साल से कुछ अधिक भी जी लेते हैं। लेकिन आज आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनके घर का रास्ता मौत भी भूल गई है। इस शख्स का नाम महाष्टा मुरासी है। इन्होंने अपनी जिंदगी के 183 साल पूरे कर लिए हैं। इतनी उम्र पाने क
11 नवम्बर 2018
09 नवम्बर 2018
बिहार में सिपाही के 9900 पदों पर इस साल हुई बहाली में फर्जीवाड़े का नया और बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है। सिपाही के पद पर चयनित हो चुके दो सौ से ज्यादा अभ्यर्थियों की चालाकी चयन पर्षद ने ज्वाइनिंग से ठीक पहले पकड़ ली। अगर थोड़ी भी चूक होती तो ये सिपाही बन गए होते, लेक
09 नवम्बर 2018
19 नवम्बर 2018
भारत पूरी दुनिया में अपनी विविधता के लिए जाना जाता है. उसकी ये ख़ासियत आज से नहीं बल्कि शुरूआत से ही रही है. इसकी झलक दिखा रही हैं ये तस्वीरें जो 20वीं सदी के पहले दशक में ली गई थीं, जब भारत अंग्रेज़ों के अधीन था.50 फ़ीट के टावर से नीचे पानी में छलांग लगाता एक आदमी.कश्मीर
19 नवम्बर 2018
06 नवम्बर 2018
*सनातन धर्म वैसे तो समय-समय पर पर्व एवं त्यौहार मनाए जाते रहते हैं , परंतु कार्तिक मास में पांच त्योहार एक साथ उपस्थित होकर के पंच पर्व या पांच दिवसीय महोत्सव मनाने का दिव्य अवसर प्रदान करते हैै | आज कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी के दिन से प्रारंभ होकर के शुक्ल पक्ष की द्वितीया का पर्वों का
06 नवम्बर 2018
03 नवम्बर 2018
बिहार में क्यों मनाया जाता है छठ पूजा का पर्व, क्या है इसका इतिहास- भारत के प्रमुख भौगोलिक और सांस्कृतिक त्योहारों (लोक त्योहारों) में से एक है छठ पूजा। इसकी मान्यता वैदिक काल से ही है, इसीलिए यह प्राचीन परंपराओं का धनी पर्व है। अगर आप भी इस त्यौहार के बारे में जानना चाहत
03 नवम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x