नहीं रहे मंत्री अनंत कुमार, वाजपेयी से लेकर मोदी सरकार तक में संभाले कई मंत्रालय

12 नवम्बर 2018   |  रेखा यादव   (83 बार पढ़ा जा चुका है)

नहीं रहे मंत्री अनंत कुमार, वाजपेयी से लेकर मोदी सरकार तक में संभाले कई मंत्रालय

अनंत कुमार मोदी कैबिनेट में संसदीय मामलों का मंत्रालय संभाल रहे थे. वो दक्षिणी बेंगलुरु की सीट से सांसद थे. तकरीबन छह महीने पहले उनका कैंसर डाइग्नॉज़ हुआ था. लंदन और न्यू यॉर्क में इलाज भी चला. अक्टूबर के आखिर में ही वो अमेरिका से लौटे थे (फोटो: बाईं तरफ अनंत कुमार, दाहिनी ओर उनके शव को देखने आए परिवार के लोग और पार्टी सहयोगी ANI)

बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार गुजर गए. 12 नवंबर की तड़के सुबह तकरीबन चार बजे बेंगलुरु के शंकर कैंसर हॉस्पिटल में उन्होंने दम तोड़ दिया. अनंत 59 साल के थे. उन्हें कैंसर था. पिछले कुछ दिनों से उनकी स्थिति काफी बिगड़ गई थी. उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था. मौत के समय उनका परिवार- पत्नी और दो बेटियां उनके साथ थीं. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अलावा कई मंत्रियों-नेताओं ने अनंत कुमार की मौत पर तकलीफ जताई है.


लंदन और न्यू यॉर्क में कैंसर का इलाज चला
मई 2018 में हुए कर्नाटक विधानसभा चुनाव के कुछ ही समय पहले अनंत कुमार का कैंसर डायग्नोज़ हुआ. उन्होंने लंदन और न्यू यॉर्क में अपना इलाज करवाया. अक्टूबर के आखिर में ही वो न्यू यॉर्क के ‘मेमोरियल स्लोअन केटेरिंग कैंसर सेंटर’ से इलाज करवाकर लौटे थे. उनका शव बेंगलुरु के नैशनल कॉलेज ग्राउंड में रखा जाएगा. ताकि लोग वहां पहुंचकर उन्हें आखिरी बार देख सकें.


1998 में वाजपेयी सरकार के सबसे युवा मंत्री थे
अनंत कुमार दक्षिणी बेंगलुरु से सांसद थे. इस शहर ने उन्हें छह बार संसद भेजा. वो वाजपेयी सरकार में भी मंत्री रहे थे. नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अलावा वो पर्यटन, खेल और शहरी विकास मंत्रालय भी संभाल चुके थे. मोदी सरकार में उनके पास दो पोर्टफोलियो रहा. पहले उन्हें रसायन और उर्वरक मंत्रालय सौंपा गया. फिर जुलाई 2016 में उनको संसदीय मामलों का प्रभार दिया गया.

https://www.thelallantop.com/news/ananth-kumar-senior-bjp-leader-and-union-minister-passes-away-from-cancer-in-bengaluru/

नहीं रहे मंत्री अनंत कुमार, वाजपेयी से लेकर मोदी सरकार तक में संभाले कई मंत्रालय

अगला लेख: पिछले 26 सालों से केवल पत्ते खा रहा है यह पाकिस्तानी व्यक्ति वजह जानकार हो जाओगे हैरान



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
11 नवम्बर 2018
देश के सबसे बड़े करोड़पति परिवार की बेटी ईशा अंबानी और आनंद पीरामल की सगाई के बाद दोनों की शादी की चर्चा ज़ोरों पर है। मुकेश अबांनी और नीता अंबानी की लाडली बेटी ईशा की सगाई इटली में करने के बाद पूरा परिवार दोनों की शादी की तैयारियों में लग गया है। ईशा की शादी की सारी तैयारियां हो चुकी हैं और कार्ड
11 नवम्बर 2018
09 नवम्बर 2018
बिहार में सिपाही के 9900 पदों पर इस साल हुई बहाली में फर्जीवाड़े का नया और बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है। सिपाही के पद पर चयनित हो चुके दो सौ से ज्यादा अभ्यर्थियों की चालाकी चयन पर्षद ने ज्वाइनिंग से ठीक पहले पकड़ ली। अगर थोड़ी भी चूक होती तो ये सिपाही बन गए होते, लेक
09 नवम्बर 2018
19 नवम्बर 2018
भारत पूरी दुनिया में अपनी विविधता के लिए जाना जाता है. उसकी ये ख़ासियत आज से नहीं बल्कि शुरूआत से ही रही है. इसकी झलक दिखा रही हैं ये तस्वीरें जो 20वीं सदी के पहले दशक में ली गई थीं, जब भारत अंग्रेज़ों के अधीन था.50 फ़ीट के टावर से नीचे पानी में छलांग लगाता एक आदमी.कश्मीर
19 नवम्बर 2018
31 अक्तूबर 2018
ईज ऑफ डूइंग बिजनस रैकिंग में भारत ने लगातार दूसरे साल लंबी छलांग लगाई है। विश्व बैंक की ओर से जारी सूची में भारत ने 23 पायदान के सुधार के साथ 77वां स्थान हासिल किया है। भारत पिछले साल 100वें स्थान पर रहा था। पिछले दो सालों में भारत की रैकिंग में कुल 53 पायदान का सुधार आया है। माना जा रहा है कि इससे
31 अक्तूबर 2018
11 नवम्बर 2018
बॉलीवुड सितारों की हर चीज़ निराली होती है। ये न सिर्फ अपने घर, आउटफिट और एक्सेसरीज पर जमकर पैसे खर्च करते हैं, बल्कि इनके बिजली का बिल भी लाखों में आता है। करोड़ों के मकान में रहने वाले बॉलीवुड स्टार्स जितना बिजली का बिल भरते हैं उतने में तो आप एक फ्लैट खरीद सकते हैं। चलिए आपको बताते हैं कौन से स्टा
11 नवम्बर 2018
11 नवम्बर 2018
हम सब स्थायी खाता संख्या (पैन) कार्ड से परिचित हैं। आप एक भारतीय है या एक अप्रवासी भारतीय, आपको पैन कार्ड की जरूरत बेशक पड़ती है। आप कोई काम या नौकरी कर रहे हैं या नहीं, आप पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके आवेदन हेतु आयु, क्षेत्र या राष्ट्रीयता पर कोई प्रतिबंध नहीं
11 नवम्बर 2018
03 नवम्बर 2018
बिहार में क्यों मनाया जाता है छठ पूजा का पर्व, क्या है इसका इतिहास- भारत के प्रमुख भौगोलिक और सांस्कृतिक त्योहारों (लोक त्योहारों) में से एक है छठ पूजा। इसकी मान्यता वैदिक काल से ही है, इसीलिए यह प्राचीन परंपराओं का धनी पर्व है। अगर आप भी इस त्यौहार के बारे में जानना चाहत
03 नवम्बर 2018
11 नवम्बर 2018
जयपुर, इंसान की एवरेज उम्र करीब सौ साल मानी जाती है। कुछ लोग होते है जो सौ साल से कुछ अधिक भी जी लेते हैं। लेकिन आज आपको एक ऐसे शख्स के बारे में बताने जा रहे हैं। जिनके घर का रास्ता मौत भी भूल गई है। इस शख्स का नाम महाष्टा मुरासी है। इन्होंने अपनी जिंदगी के 183 साल पूरे कर लिए हैं। इतनी उम्र पाने क
11 नवम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x