65 किलो वर्ग कुश्ती में बजरंग पूनिया बने विश्व में No. #1 - Bajrang Punia Biography in Hindi

28 नवम्बर 2018   |  अंकिशा मिश्रा   (38 बार पढ़ा जा चुका है)

65 किलो वर्ग कुश्ती में बजरंग पूनिया बने विश्व में No. #1 - Bajrang Punia Biography in Hindi  - शब्द (shabd.in)

Bajrang punia biography, age , weight, height in hindi

भारतीय पहलवान बजरंग पूनिया ने एशियन गेम 2018 में पुरुषों की 65 किलोग्राम वर्ग स्पर्धा के फाइनल में जापान के पहलवान तकातानी डियाची को एकतरफा मुकाबले में 11-8 से शिकस्त दी। बजरंग का नाम एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीतने वाले भारत के 9वें पहलवान में शुमार हो गया है। बता दें कि बजरंग पूनिया ने अपना यह गोल्ड मेडल पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी को समर्पित किया।




जीवन परिचय -


बजरंग पूनिया का जन्म 26 फरवरी 1994 को हरियाणा के झाझर गाँव में हुआ।बजरंग के पिता का नाम बलवान सिंह पुनिया और माता का नाम ओमप्यारी है। बजरंग के पिता भी एक पेशेवर पहलवान है। तो ये कहा जा सकता है की बजरंग को पहलवानी विरासत में मिली है। इनके भाई का नाम हरिंदर पुनिया है।बजरंग के परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण बजरंग के सपनों को पूरा करने के लिए उनके पिता और परिवार ने काफ़ी त्याग और संघर्ष किया है।बजरंग की प्रारंभिक शिक्षा गांव में ही पूरी हुई।बजरंग ने सात साल की उम्र में कुश्ती शुरू कर दी थी जिसमे बजरंग को पिता की और से पूरा सहयोग मिला। स्नातक की पढ़ाई बजरंग ने महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी से पूरी की।परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक न होने के वजह से बजरंग पूनिया ने भारतीय रेलवे में टिकट चेकर (TTE) का भी काम किया।




कैरियर -


साल 2013 में बजरंग पूनिया ने एशियन रेसलिंग चैंपियनशिप दिल्ली में भाग लिया था। जिसमें पूनिया ने सेमीफाइनल तक का सफ़र पूरा किया , लेकिन इसमें बजरंग को हार का सामना करना पड़ा।2013 में ही बजरंग ने विश्व कुश्ती चैम्पियनशिप बुडापेस्ट, हंगरी में 60 कि.ग्रा वर्ग में कांस्य पदक अपने नाम किया था। वर्ष 2014 के राष्ट्रमंडल खेल ग्लासगो, स्कॉटलैंड में 61 कि.ग्रा वर्ग में रजत पदक जीता। वर्ष 2014 में ही एशियाई खेल इनचियन, दक्षिण कोरिया में फिर से रजत पदक अपने नाम किया। एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप 2017, दिल्ली में बजरंग पूनिया ने गोल्ड मेडल जीता था। इसके बाद 2018 के राष्ट्रमंडल खेल में गोल्ड मेडल अपने नाम किया और 2018 के ही एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीत कर देश का नाम रोशन किया हैं।


बजरंग पूनिया ने अब तक कुल 5 गोल्ड, 3 ब्रोनज, 4 सिल्वर मेडल जीत चुके हैं।




बजरंग पूनिया के बारे में आवश्यक जानकारी -


नाम (Name)

बजरंग पूनिया

खेल (Game)

फ्रीस्टाइल रेसलिंग(Freestyle wrestling)

वज़न (weight)

65kg

जन्म तारीख़ (Date of Birth)

26 फ़रवरी 1994

उम्र (Age)

24 वर्ष

स्थान (Home Town)

झाझर हरियाणा

नागरिकता (Nationality)

भारतीय

कॉलेज (College)

महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी

पिता का नाम (Father’s Name)

बलवान सिंह पूनिया

माता का नाम (Mother’s Name)

ओमप्यारी पूनिया

भाई का नाम ( Brother’s Name)

हरिंदर सिंह पूनिया

पुरस्कार (Medals)

5 गोल्ड, 3 ब्रोनज, 4 सिल्वर




अगला लेख: भ्रमर कोई कुमुदनी पर मचल बैठा तो हंगामा- कुमार विश्वास



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
20 नवम्बर 2018
फैज़ अहमद फैज़ (Faiz Ahmad Faiz) उर्दू भाषा के सबसे प्रसिद्ध लेखकों में से एक थे। फैज़ की शायरी (Shayri) को न केवल उर्दू बल्कि हिंदी (Hindi) भाषी लोग भी बहुत पसंद करते है| गर मुझे इस का यक़ीं हो मेरे हमदम मेरे दोस्त, फैज़ अहमद फैज़ की सर्वा
20 नवम्बर 2018
21 नवम्बर 2018
इतिहास की बात की जाये तो पूरे देश के इतिहास को यदि तराजू के एक तरफ रख दें और केवल मेवाड़ के ही इतिहास को दूसरी ओर रख दें, तो भी मेवाड़ का पलड़ा हमेशा भारी ही रहेगा | कभी गुलामी स्वीकार न करने वाले शूरवीर महाराणा प्रताप ने इतने संघर्षों के बाद अकबर को मेवाड़ से खदेड़ने पर मजबूर कर दिया था |न जाने मेव
21 नवम्बर 2018
21 नवम्बर 2018
बॉलीवुड में हर हस्ती की अपनी एक अलग पहचान है और ये बड़ी हस्तियां अपनी हिफाज़त के लिए बॉडीगार्ड रखती है। सभी बॉलीवुड स्टार्स के बॉडीगार्ड है, लेकिन इन सब में हर समय सबसे ज़्यादा चर्चा में कोई होता है तो वो है बॉलीवुड के भाईजान यानि सलमान खान के बॉडीगार्ड शेरा। शेरा कोई मामूली बॉडीगार्ड नहीं है, बल्क
21 नवम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x