साहस- बिना डर आगे बढ़ने की

30 नवम्बर 2018   |  DigiCont   (54 बार पढ़ा जा चुका है)

साहस- बिना डर आगे बढ़ने की

हम अपने दैनिक जीवन में साहस के गुण पर अधिक ध्यान नहीं देते हैं। यह गुण सैनिकों, अग्निशामक वर्कर और कार्यकर्ताओं के लिए आरक्षित माना जाता है। साहस से ज्यादा हमें सुरक्षा पर ध्यान देने के लिए बचपन से सिखाया जाता है। शायद यह आपको बहुत बोल्ड या बहुत बहादुर होने से बचने के लिए सिखाया गया हो। जैसे कि यह काफ़ी ख़तरनाक है, अनावश्यक जोखिम न लें, सार्वजनिक रूप से अपने आप पर ध्यान न दें, पारिवारिक परंपराओं का पालन करें, अजनबियों से बात मत करो, संदिग्ध लोगों के पर नजर रखें, सुरक्षित रहें आदि।


लेकिन आपके जीवन में व्यक्तिगत सुरक्षा को अधिक महत्व देने का दुष्प्रभाव यह है कि इससे आप प्रतिक्रियात्मक रूप से जीवित रह सकते हैं। अपने लक्ष्यों को स्थापित करने, उन्हें प्राप्त करने की योजना बनाने और उनके पीछे जाने के बजाय आप अपने सुरक्षा पर ज्यादा ध्यान देते हैं। स्थाई नौकरी को जारी रखना , भले ही यह आपको संतुष्ट ना करे। असंतुष्ट रिश्ते में जुड़े रहना, भले ही यह आपको अंदर से मृत महसूस करवाए। इसमें कोई संदेह नहीं है कि जीवन में वास्तविक खतरे मौजूद हैं जो कि आपको टालना चाहिए। लेकिन लापरवाही और साहस के बीच एक विशाल... और पढ़ें

साहस- बिना डर आगे बढ़ने की

अगला लेख: मृतक दाता से प्राप्त गर्भाशय को प्रत्यारोपित कर हुआ विश्व के प्रथम बच्चे का जन्म



DigiCont
04 दिसम्बर 2018

धन्यवाद सर

उदय पूना
04 दिसम्बर 2018

साहस का गुण हो तभी अन्य गुण आ सकतें हैं ;
आपका लेख अच्छा लगा;
सुन्दर!
साधुवाद

उदय पूना
04 दिसम्बर 2018

साहs गुण

शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
21 नवम्बर 2018
सं
प्राथमिक शिक्षा देश के विकास से जुड़ा सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा है। बिना शिक्षित किये आप किसी व्यक्ति से देश की प्रगति में सक्रिय सहयोग की अपेक्षा ही नहीं कर सकते हैं। अनपढ़ और आर्थिक रूप से कमजोर तबके के वेहतर जीवन के लिए ही सरकार को टैक्स से प्राप्त धन का बड़ा हिस्सा खर्
21 नवम्बर 2018
01 दिसम्बर 2018
दे
देवरहा बाबा के बहानेविजय कुमार तिवारीजब हम एकान्त में होते हैं तो हमारे सहयात्री होते हैं-आसपास के पेड़-पौधे। वे लोग बहुत भाग्यशाली हैं जिन्हें ऐसी अनुभूति होती है। मेरा दुर्भाग्य रहा कि मुझे पूज्य देवरहा बाबा जी का दर्शन करने का सुअवसर नहीं मिला। साथ ही सौभाग्य है कि आज मैं उन्हें श्रद्धा भाव से या
01 दिसम्बर 2018
29 नवम्बर 2018
प्रसिद्ध स्पेनिश चित्रकार Bartolome Esteban Murillo के 400 वीं जयंती पर Google ने उनके सम्मान में आज का डूडल उन्हें समर्पित किया। Google पेज पर जानकारी के मुताबिक, बार्टोलोमे(Bartolomé Esteban Murillo hindi Bartolomé Esteban Murillo artworks) एस्टेबान मुरिलो ने स्पेनिश कल
29 नवम्बर 2018
22 नवम्बर 2018
‘दूध में हॉर्लिक्स मिलाओ, दूध की शक्ति बढ़ाओ’कैल्शियम- 741 मिली ग्रामविटामिन डी- 9.26 माइक्रो ग्रामफ़ॉस्फ़ोरस- 280 मिली ग्राममैग्नीशियम- 65 मिली ग्रामप्रोटीन- 11.0 ग्रामहॉर्लिक्स के डिब्बे पर 10 से ज़्यादा पोषक तत्वों की फ़ेहरिस्त दिखती है और साथ ही दिखती है हरे रंग क
22 नवम्बर 2018
06 दिसम्बर 2018
ब्राजील के डॉक्टर ने मृतक दाता से प्राप्त गर्भाशय को एक महिला में प्रत्यारोपित करने के बाद पैदा हुए दुनिया के पहले बच्चे के बारे में जानकारी दी है। इससे पहले ग्यारह जन्मों में प्रत्यारोपित गर्भ का उपयोग किया जाता रहा है, लेकिन एक जीवित दाता
06 दिसम्बर 2018
13 दिसम्बर 2018
आज रात, आपको Geminids Meteor Shower (जेमीनीड मीटियोर शॉवर) नामक एक शानदार ब्रह्मांडीय शो आकाश में दिखाई देगा। Google ने अपने डूडल के माध्यम से यह याद दिलाया है कि हमें इस वार्षिक खगोलीय घटना को देखना नहीं भूलना चाहिए। जबकि नासा ने कहा है कि यह खगोलीय घटना साल का सबसे
13 दिसम्बर 2018
22 नवम्बर 2018
रणबीर कपूर और आलिया भट्ट( Alia bhatt and Ranbir kapoor) को फिर से मुंबई में एक साथ देखा गया। रिपोर्टों(latest bollywood news in hindi, bollywood news latest in hindi) से पता चलता है कि रणबीर आलिया को मामूली चोट के इलाज के लिए जुहू में स्थित
22 नवम्बर 2018
16 नवम्बर 2018
रक्तचाप का सामान्य न होकर निम्न स्तर पर होना निम्न रक्तचाप है। रक्तचाप का सामान्य ना होना, स्वास्थ्य के लिए हमेशा नुकसानदायक ही होता है। यह ज्यादातर शरीर में कमजोरी के कारण होता है और इस बीमारी में बताए गए नाम के अनुसार रक्तचाप सामान्य रक्तचाप की सीमा से भी कम हो जाता है।
16 नवम्बर 2018
16 नवम्बर 2018
Google ने डूडल बनाकर आज अरेसीबो संदेश(Arecibo message in hindi) की 44 वीं वर्षगांठ मनाया। यह ब्रॉडकास्ट काफी शक्तिशाली था, लेकिन आज तक इसका रिस्पॉन्स मेसेज( Arecibo message meaning) नहीं मिला। गूगल के मुताबिक भेजा गया अरसीबो(Arecibo message explained) मेसेज अपने तय लक्ष्य
16 नवम्बर 2018
03 दिसम्बर 2018
एक आदमी फूल की दुकान के सामने रूका, जिसका उद्देश्य दो सौ मील दूर रहने वाली मां को गुलदस्ता भेजने के लिये बुकिग कराना था, ताकि कुछ फूलों को दो सौ मील दूर रहने वाली मां को भेजा जा सके। जैसे ही वह अपनी कार से निकल कर बाहर आया तो उसने देखा
03 दिसम्बर 2018
04 दिसम्बर 2018
हर किसी को प्रियंका चोपड़ा की शादी की तस्वीरों का बेसब्री से इंतजार था। आखिरकार उनके फैंस का ये इंतजार खत्म हो चुका है। पीपुल मैगजीन ने क्रिश्चियन और हिंदू रीति-रिवाज से हुई दोनों शादियों की तस्वीरें जारी कर दी हैं। स्टार जोड़ी से संबंधित इस समारोह में विभिन्न संस्कृतियो
04 दिसम्बर 2018
15 दिसम्बर 2018
आपका आखिरी मांसाहारी भोजन चिकन होने की संभावना काफी ज्यादा है। आखिर क्यों ना हो? यह सस्ते मांसाहारी श्रेणी में जो आता है। चिकन सबसे अधिक खपत होने वाला मांसाहारी खाना है, यह सिर्फ भारत के लिए नहीं है, बल्कि पूरी दुनिया बहुत ज्यादा चिकन का
15 दिसम्बर 2018
01 दिसम्बर 2018
वाशिंगटन: शीत युद्ध के अंत तक अमेरिका को राष्ट्रपति के रूप में संचालित करने वाले और एक राजनीतिक राजवंश का नेतृत्व करने वाले राजनयिक जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश का शुक्रवार को 94 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। वो रक्त में संक्रमण के रोग से ग्रसित
01 दिसम्बर 2018
01 दिसम्बर 2018
वाशिंगटन: शीत युद्ध के अंत तक अमेरिका को राष्ट्रपति के रूप में संचालित करने वाले और एक राजनीतिक राजवंश का नेतृत्व करने वाले राजनयिक जॉर्ज एच डब्ल्यू बुश का शुक्रवार को 94 वर्ष की उम्र में निधन हो गया। वो रक्त में संक्रमण के रोग से ग्रसित
01 दिसम्बर 2018
17 नवम्बर 2018
7 दिसंबर को सारा अली खान अपने एक ऐसे सपने को पूरा करेगी जिसे वो चार साल की उम्र से ही संजोई है। दिसंबर में उनकी पहली फिल्म ‘केदारनाथ’ सिनेमाघरों में दस्तक दे रही है। सारा को बड़े पर्दे पर देखने के लिए उनके फैंस बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। इन दिनों वह फिल्म के प्रमोशन म
17 नवम्बर 2018
18 नवम्बर 2018
नेहा धुपिया और अंगद बेदी के प्रशंसकों के लिए एक अच्छी खबर आयी, बॉलीवुड जोड़े अब माता-पिता बन गए हैं। इस जोड़े को एक शिशु के रूप में एक पुत्री की प्राप्ति हुई है और कहने की जरूरत नहीं है, ये मौका नेहा(Neha dhupia husband, Neha dhupia show, Neha dhupia talk show) और अंगद के
18 नवम्बर 2018
03 दिसम्बर 2018
नोबुनगा(Nobunaga) नाम के एक महान जापानी योद्धा ने दुश्मन पर हमला करने का फैसला किया। हालांकि विपक्ष की तुलना में उनके सैनिकों की संख्या केवल 1/10 थी। वह यह जानता था कि इस युद्ध को जीत जीत जाएगा, लेकिन उनके सैनिकों को इस बात पर संदेह था। (i
03 दिसम्बर 2018

शब्दनगरी से जुड़िये आज ही

सम्बंधित
लोकप्रिय
19 नवम्बर 2018
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x