फेरों के बाद सिंदूरदान की रस्म के लिए दुल्हन ने किया इंकार ,वजह जान रह जायेंगे दंग

24 दिसम्बर 2018   |  अंकिशा मिश्रा   (72 बार पढ़ा जा चुका है)

फेरों के बाद सिंदूरदान की रस्म के लिए दुल्हन ने किया इंकार ,वजह जान रह जायेंगे दंग

आजकल शादियों का सीजन चल रहा है। और किसी भी शादी में छोटी-मोटी भूल-चूक, नाराज़गी होना तो आम बात है। लेकिन जब इन छोटे छोटे बातों का लोग मुद्दा बना देते हैं तो शादी के रंग में भंग पड़ते देर नहीं लगती। जिसके चलते कभी कभी नौबत शादी टूटने तक भी आ जाती है। आपने शादी टूटने के कई किस्से सुने होंगे कभी मनमुताबिक दहेज़ न मिलना कभी सही इंतज़ाम न होने के चलते कई शादियों को आपने टूटते हुए देखा होगा। आज हम आपको एक ऐसा किस्सा बताने जा रहे हैं जिसके चलते आप सोचने पर मजबूर हो जायेंगे कि शादी जैसे पवित्र बंधन को कुछ लोगो ने मज़ाक बना रखा है। आजकल लोग शादी तोड़ने में ज़रा भी नहीं हिचकिचाते। बता दें की रांची में एक दुल्हन ने फेरों के बाद शादी की सबसे अहम् रस्म सिंदूरदान को मना कर दिया। लेकिन इसके पीछे की वजह जान कर आप भी अपना सर पकड़ लेंगे। तो चलिए बताते हैं आपको कि क्या है पूरा मामला।


आदित्यपुर के रहने वाले अमित की शादी गालूडीह थाना क्षेत्र के गांव में रहने वाली एक लड़की से तय हुई थी। 60-70 बाराती लेकर अमित शादी करने गालूडीह पहुंचा था। शादी पूरी रस्मों रिवाज़ से पूरी हो रही थी तभी अचानक फेरों के बाद सिन्दूरदान की रस्म होने ही वाली थी कि दुल्हन ने अचानक दूल्हे का हाथ पकड़ लिया और सिंदूर डालने से मना कर दिया। ये नज़ारा देख वहां मौजूद लोग हैरान हो गये कि अचानक ऐसा क्या हो गया कि ऐसा क्या हो गया कि अचानक लड़की ने मना क्यों कर दिया लेकिन जब दुल्हन ने वजह अपने परिवार को बताई तो दोनों परिवारों के बीच बहस हो गई।




बता दें, फेरों के बाद जैसे ही सिंदूरदान की रस्म के लिए लड़के ने हाथ बढ़ाया और लड़की ने देखा की लड़के की एक उंगली नहीं है तो लड़की ने तुरंत सिन्दूरदान की रस्म करने से इंकार कर दिया। लड़की ने ये बात अपने घरवालों को बताई। यह देखकर लड़कीवालों ने जमकर हंगामा किया। लड़कीवालों को आशंका हुई कि लड़के को कहीं कोई असाध्य बीमारी तो नहीं है। लड़कीवाले ने ये बात जब लड़केवालों को बताई उनमें बहस शुरू हो गयी। दोनों पक्ष में करीब 3 घंटे तक बहस चलती रही। अंत में जब निष्कर्ष नहीं निकला तब लड़केवाले बिना शादी के ही जाने लगे।



दूल्हे के अनुसार, उसकी एक उंगली मशीन में कट गयी थी। कुछ साल पहले उसके साथ एक हादसा हुआ था जिसमें उसकी एक उंगली मशीन में आकर कट गयी थी। ये किसी तरह की कोई बीमारी नहीं है। ये सुनने के बाद लोगों ने लड़कीवालों को समझाया जिसके बाद बात थोड़ी संभली। बहुत समझाने के बाद लड़कीवाले शादी करने के लिए राजी हुए जिसके बाद पुलिस की देखरेख में शादी संपन्न हुई।



अगला लेख: कांग्रेस की बड़ी रणनीति का खुलासा, इसलिए सिंधिया की जगह कमलनाथ को बनाया मुख्यमंत्री



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
17 दिसम्बर 2018
एलीना अपने नौवें जन्मदिन पर एक स्मार्टफोन चाहती था। उसकी मां और सौतेले पिता उसे फोन देने के लिए अनिच्छुक थे, क्योंकि वे मानते थे कि स्मार्टफोन बच्चे के लिए एक लक्जरी गैजेट हैं। सोचने विचारने के बाद आखिरकर एलीना के माता-पिता अपनी पुत्री को आश्चर्यचकित करने के लिए तैयार
17 दिसम्बर 2018
21 दिसम्बर 2018
अपने हिंदी ब्लॉग (Hindi blog) और वेबसाइट (website) के ट्रैफिक को कैसे बढ़ायें ? यह 9 टिप्स आपके ब्लॉग के ट्रैफिक को न केवल बढ़ाएगा बल्कि गूगल पेज रैंक पर ऊपर भी लाएगा। आजकल हर हिंदी लेखक हिंदी ब्लॉगिंग (Hindi blogging) का इस्तेमाल कर रहा
21 दिसम्बर 2018
16 दिसम्बर 2018
जैसा कि आप सभी लोग जान रहे हैं कि आजकल शादियों का माहौल बड़े जोरों शोरों से चल रहा है आम लोग ही नहीं बल्कि यहां तक कि बॉलीवुड इंडस्ट्री में भी शादियां बड़ी धूमधाम से हो रही है आजकल बॉलीवुड की मशहूर हस्तियों की महंगी शादियां काफी सुर्खियों में छाई हुई है वैसे देखा जाए तो ब
16 दिसम्बर 2018
14 दिसम्बर 2018
कहते हैं शादी 7 जन्मों का रिश्ता होता है। रिश्ता पक्का होने के बाद से लड़के और लड़की के बीच नजदीकियों के बढ़ने का सिलसिला तेज होता है। जोकि पड़ाव दर पड़ाव दो जिस्म एक जान की दहलीज तक पहुंच जाता है। जब प्यार परवान चढ़ता है तो लड़का और लड़की एक दूसरे को प्यार भरे नामों से पुकारना शुरू करते हैं। कोई बा
14 दिसम्बर 2018
11 दिसम्बर 2018
महज़ 500 रूपये से अपने सफर की शुरुआत करने वाले धीरूभाई अंबानी कैसे 75000 करोड़ के मालिक बन गए। ये कोई जादू नहीं बल्कि कड़ी मेहनत और धैर्य का नतीज़ा है। अंबानी परिवार का नाम दुनियाभर में बड़े उद्योगपतियों में शुमार होता है। अपनी मेहनत से उन्होंने दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बनाई है। देश - विदेश में आज ह
11 दिसम्बर 2018
20 दिसम्बर 2018
फ्रांसीसी माइकल दि नास्त्रेदमस ने आने वाले कई सालों के लिए भविष्यवाणियां कर दी थीं. पूरी दुनिया में लोग नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियों पर यकीन करते हैं. इसकी वजह ये है कि उनकी भविष्यवाणियां पहले भी सच साबित हो चुकी हैं.नास्त्रेदमस ने 2019 के लिए जो भविष्यवाणियां की हैं, उसमें मानवता के लिए अच्छी खबर न
20 दिसम्बर 2018
19 दिसम्बर 2018
क्रिसमस ईसाई समुदाय का सबसे बड़ा त्यौहार है । जैसे हिन्दू समुदाय के लिए दीपावली, मुस्लिम समुदाय के लिए ईद और सिख समुदाय के लिए लोहड़ी का त्यौहार होता है ठीक उसी तरह क्रिसमस ईसाई समुदाय का सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण त्यौहार होता है। क्रिसमस हर साल 25 दिसंबर के दिन मनाया जाता
19 दिसम्बर 2018
16 दिसम्बर 2018
स्मार्टफोन की लत पूरी दुनिया के लिए समस्या बन गया है. हर कोई इस से छुटकारा पाने में लगा हुआ है. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि फोन छोड़ने पर आपको लाखों रुपये भी मिल सकते हैं. जी हां ये सच है विटामिन वाटर नाम की कंपनी एक साल के लिए फोन छोड़ने वालों को 1 लाख डॉलर दे रही है.
16 दिसम्बर 2018
12 दिसम्बर 2018
न्यायपालिका प्रजातंत्र के चार स्तम्भों में से एक है। न्यायपालिका ही वो जगह है जहाँ हर किसी को इंसाफ मिलता है और अपने हक़ मिलते है। आज उसी न्यायपालिका में अपने हक़ की लड़ाई हमेशा लड़ती आ रहीं ट्रांसजेंडर स्वाति बरूआ न्याय की कुर्सी पर बैठ के न्याय करेंगी।बता दें कि 26 वर्षीय स्वाति अब असम की पहली और देश
12 दिसम्बर 2018
16 दिसम्बर 2018
सफर के दौरान एक छोटा बच्चा शायद ही कभी अपनी आंखें खोल रहा था। वह बच्चा मेट्रो पर यात्रा के दौरान अपने चाचा की गोद में पड़ा था। वह हमेशा अपने सिर को अपने गोद में रखकर आराम करना पसंद करता था, क्योंकि वह सुरक्षित महसूस करता था। उसने ट्रेन की छत पर खाली जगह को देखना शुरू किय
16 दिसम्बर 2018
21 दिसम्बर 2018
नवज्योति इंडिया फाउंडेशन (Navjyoti India Foundation) एक गैर-लाभकारी संगठन है। जिसकी शुरुआत 1988 में प्रथम महिला आईपीएस (IPS) डॉ. किरण बेदी और दिल्ली पुलिस के 16 पुलिस अधिकारियों की टीम के द्वारा भारत में महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराध, निरक्षरता, भेद-भाव, जैसी समाज में फ़ैली विकृतियों को एक जुट होकर साम
21 दिसम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x