"नेशनल हेराल्ड" केस क्या है आसान शब्दों में जानिए ?

25 दिसम्बर 2018   |  कुनाल मंजुल   (108 बार पढ़ा जा चुका है)

"नेशनल हेराल्ड" केस क्या है आसान शब्दों में जानिए ?

★ नेहरू जी ने #नेशनल हेराल्ड नामक अखबार 1930 में शुरू किया। धीरे-धीरे इस अखबार ने 5000/- करोड़ की संपत्ति अर्जित कर ली। सन् 2000 में यह अखबार घाटे में चला गया और इस पर 90 करोड़ का कर्जा हो गया।

★ "नेशनल हेराल्ड" की तत्कालीन डायरेक्टर्स, सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी और मोतीलाल वोरा ने, इस अखबार को यंग इंडिया लिमिटेड नामक कंपनी को बेचने का निर्णय लिया।

★ अब मज़े की बात सुनो, यंग इंडिया के डायरेक्टर्स थे, सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी, ऑस्कर फेर्नाडीज़ और मोतीलाल वोरा।

★ डील यह थी कि यंग इंडिया, #नेशनल हेराल्ड के 90 करोड़ के कर्ज़ को चुकाएगी और बदले में 5000 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति यंग इंडिया को मिलेगी।

★ इस डील को फाइनल करने के लिए मोती लाल वोरा ने "तत्काल" मोतीलाल वोरा से बात की, क्योंकि वह अकेले ही, दोनों ही कंपनियों के डायरेक्टर्स थे।

★ अब यहाँ एक और नया मोड़ आता है। 90 करोड़ का कर्ज़ चुकाने के लिए #यंगइंडिया ने कांग्रेस पार्टी से 90 करोड़ का लोन माँगा।

★ इसके लिये कांग्रेस पार्टी ने एक मीटिंग बुलाई जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, कोषाध्यक्ष और कांग्रेस पार्टी के महासचिव शामिल हुए।

★ और यह वरिष्ठ लोग कौन थे.......?
सोनिया, राहुल, ऑस्कर और मोतीलाल वोरा।

★ कांग्रेस पार्टी ने लोन देना स्वीकार कर लिया और इसको कांग्रेस पार्टी के कोषाध्यक्ष मोतीलाल वोरा ने पास भी कर दिया और #यंग इंडिया के डायरेक्टर मोतीलाल वोरा ने ले लिया और आगे #नेशनल हेराल्ड के डायरेक्टर मोतीलाल वोरा को दे दिया।

★ अभी कुछ और मज़ा बाकी था...

★ अब कांग्रेस पार्टी ने एक मीटिंग और बुलाई जिसमें सोनिया, राहुल, ऑस्कर और वोरा साहब सम्मलित हुए।

★ उन्होंने मिलकर यह तय किया कि #नेशनल हेराल्ड ने आज़ादी की लड़ाई में बहुत सेवा की है इसलिए उसके ऊपर 90 करोड़ के कर्ज़ को माफ़ कर दिया जाए और इस तरह 90 करोड़ का छोटा सा कर्ज माफ़ कर दिया गया।

★ और इस तरह से #यंग इंडिया जिसमें 36 प्रतिशत शेयर सोनिया और राहुल के हैं और शेष शेयर ऑस्कर और वोरा साहब के हैं, को, 5000 करोड़ की संपत्ति मिल गई...

★ जिसमें, एक 11 मंज़िल बिल्डिंग जो बहादुर शाह जफ़र मार्ग दिल्ली में और उस बिल्डिंग के कई हिस्सों को अब पासपोर्ट ऑफिस सहित कई ऑफिसेस को किराये पर दे दिया गया है।

इसको कहते हैं #राख के ढेर से महल# खड़ा कर लेना।

★ राहुल गाँधी और सोनिया गाँधी इसी #नेशनल हेराल्ड केस में #5000 करोड़ के घोटाले में जमानत पर हैं...

अगला लेख: जब 101 साल की इस चायवाली दादी से मिले अनुपम खेर, ये नहीं देखा तो क्या देखा!



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
31 दिसम्बर 2018
क्या आपके मन में भी कभी ये ख्याल आता है कि आखिर क्यों हर साल न्यू ईयर पर कैलेंडर की तारीखों में बदलाव होता रहता है।आखिर क्यों हर साल त्योहारों से लेकर जन्मदिन तक की सारी तारीखें बदल जाती हैं।अगर आपके मन को भी इन सवालों ने परेशान कर रखा है तो आइए जानते हैं न्यू ईयर मनाने की शुरुआत सबसे पहले कब और कैस
31 दिसम्बर 2018
31 दिसम्बर 2018
2019 की शुरुआत होने जा रही है और हर किसी के दिमाग में बस यही चल रहा होगा कि कैसा होगा ये नया साल।व्यक्ति के जीवन में राशियों का बड़ा महत्व माना गया है राशियों के आधार पर किसी भी व्यक्ति के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है व्यक्ति को आने वाले समय में किन किन परिस्थितियों का सामना करना पड़ेगा इन स
31 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
यूनेस्को द्वारा नालंदा यूनिवर्सिटी को वर्ल्ड हेरिटेज साइट का दर्ज़ा दिया गया ।'नालंदा' नाम की उत्पत्ति 3 संस्कृत शब्दों के संयोजन से हुई: "ना", "आलम" और "दा", जिसका अर्थ है 'ज्ञान के उपहार को ना रोकना'।न
26 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
8 नवंबर 2016 की नोटबंदी के बाद नोटों की दुनिया में क्रांति आ गई. कुछ बंद हो गए, कुछ नए आ गए, बाकियों का नाक-नक्शा बदल गया. पुराने वाले हज़ार-पांच सौ लापता हो गए. दो हज़ार और दो सौ के नए नोट दिखने लगे. जो बचे थे उनके साथ दिवाली खेली गई. आई मीन जैसे दिवाली पर घर को नया रंग-र
26 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
हाल ही में फेमस यू-ट्यूबर दानिश जेहन का रोड एक्सीडेंट में निधन हो गया. दानिश की उम्र केवल 21 साल थी और इतनी कम उम्र में दुनिया को अलविदा कहना बॉलीवुड जगत के साथ देशभर के लोगों को भी सदमा दे गया है. दानिश की मौत के बाद विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा. जहां कुछ लोग इसे रोड
26 दिसम्बर 2018
02 जनवरी 2019
हर इंसान चाहता है की वो सुंदर दिखे ताकि आस पास के लोग तथा उसके मित्र यार सभी में उसकी वाहवाही होती रहे। खैर सुंदर और स्मार्ट होना आपके व्यक्तित्व के लिए भी काफी महत्वपूर्ण होता है और आपको बता दें की अगर आप स्मार्ट और सुंदर दिखते है तो कई बार बहुत सी जगहों पर आपको वरीयता भ
02 जनवरी 2019
24 दिसम्बर 2018
जहां प्रिया प्रकाश वारियर अपनी मुस्कान और कातिलाना निगाहों से हर युवा दिल की धड़कन बनी हुई हैं और देखते ही देखते महज कुछ दिनों में देश-दुनियाभर में छा गईं हैं, अब इसी कड़ी में एक और भारतीय इन्टरनेट पर छाया हुआ है। जहाँ अमूमन इन्टरनेट सेंसेशन बॉलीवुड की हसीनाएं, क्रिकेटरर्स, कॉमेडियंस होते हैं, वहीं यह
24 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एक बार फिर से राफेल डील का मुद्दा गरमा गया है। जी हां, राफेल डील पर जहां बीजेपी और कांग्रेस आमने सामने है, तो वहीं अब इस मुद्दे पर आम जनता भी प्रतिक्रिया देने लगी है। राफेल मुद्दे पर केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट ने क्लीन चिट दे दी है, लेकिन
26 दिसम्बर 2018
31 दिसम्बर 2018
वर्तमान समय में किसी भी इंसान को समझ पाना काफी कठिन है किस के मन में क्या है और कब कौन आपको धोखा दे दे इस बारे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता इसलिए व्यक्ति को अपनी तरफ से ही बचने की कोशिश करनी चाहिए आप सभी लोग आचार्य चाणक्य जी को तो जानते ही हैं इन्होंने “चाणक्य नीति” नामक ए
31 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
मध्य प्रदेश की नई सरकार में वादे के अनुसार जगह ना मिलने से 3 निर्दलीय विधायक समेत सपा और बसपा के विधायक भी खासे नाराज हैं, तीनों निर्दलियों के साथ सपा और बसपा के दोनों विधायकों ने एक होटल में मीटिंग की है। शपथ ग्रहन समारोह के बाद निर्दलयी विधायक सुरेन्द्र सिंह उर्फ शेरा भ
26 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
:मध्य प्रदेश की नई सरकार में वादे के अनुसार जगह ना मिलने से 3 निर्दलीय विधायक समेत सपा और बसपा के विधायक भी खासे नाराज हैं, तीनों निर्दलियों के साथ सपा और बसपा के दोनों विधायकों ने एक होटल में मीटिंग की है। शपथ ग्रहन समारोह के बाद निर्दलयी विधायक सुरेन्द्र सिंह उर्फ शेरा
26 दिसम्बर 2018
25 दिसम्बर 2018
अपनी विदेशी यात्राओं को लेकर अक्सर सुर्खियों में रहने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार में मंत्रियो के बारे में एक नया खुलासा हुआ है। कुछ समय पहले प्रधानमंत्री की विदेशी यात्राओं पर हुए खर्च का लेखा जोखा सामने आया था लेकिन अब उनके मंत्रियो की यात्राओं पर हुए खर्च का ब्यौरा भी सामने आ गया है।इ
25 दिसम्बर 2018
31 दिसम्बर 2018
अगर आप ऑफिस जाते हैं तो आपको छुट्टियों की कीमत तो पता होगी क्योंकि हर एम्प्लॉयी को हर महीने कुछ ही छुट्टियां मिलती हैं लेकिन अगर छुट्टियां ज्यादा हो जाएं तो फिर क्या बात है, दरअसल अगर किसी शख्स को कुछ ज्यादा छुट्टियां मिलती हैं तो वो अपनी फैमिली या फ्रेंड्स के साथ आसानी स
31 दिसम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
29 दिसम्बर 2018
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x