ये हैं रामचरितमानस की सबसे चमत्कारी चौपाइयां, 21 दिन के जाप से दूर होंगे सारे संकट

03 जनवरी 2019   |  अंकिशा मिश्रा   (78 बार पढ़ा जा चुका है)

ये हैं रामचरितमानस की सबसे चमत्कारी चौपाइयां, 21 दिन के जाप से दूर होंगे सारे संकट   - शब्द (shabd.in)

जाने रामचरितमानस चौपाई के बारे में:

रामायण का हिंदू धर्म में विशेष महत्व है। रामायण की किताब लगभग हर हिंदू घर में मिलती है। रामायण में हर एक किरदारों का अपना एक अलग महत्व है। रामायण के बारे में ज़्यादातर लोगों को टीवी, सीरियल या राम-लीला देखकर ही जानकारी मिली है। बहुत लोग किताब पढ़कर भी रामायण में निपुण हुए हैं। तुलसीदास महाराज ने रामायण लिखकर मनुष्य का जीवन सफल कर दिया है। रामचरितमानस अवधी भाषा में तुलसीदास द्वारा 16वीं सदी में रचित एक महाकाव्य है। रामायण में आपको तुलसीदास की ढेर सारी चौपाइयां मिलेंगी। इन रामायण चौपाई को यदि मनुष्य पढ़ ले और उसका अर्थ समझ ले तो जान लीजिये उसका जीवन सफल है। इन चौपाइयों का विधिपूर्वक जाप करने पर जीवन की विभिन्न प्रकार की मनोकामनाएं पूर्ण होती है।


रामायण चौपाई | रामचरितमानस चौपाई | तुलसीदास | रामचरितमानस में लिखी चौपाइयां

इसलिए आज हम आपके लिए रामचरितमानस की कुछ मुख्य चौपाइयां लेकर आये हैं। तो ये रहीं कुछ प्रसिद्ध रामायण चौपाई ….


रामायणचरित चौपाई

परीक्षा में सफलता के लिए रामायण चौपाई


जेहि पर कृपा करहिं जनुजानी।

कवि उर अजिर नचावहिं बानी।।

मोरि सुधारहिं सो सब भांती।

जासु कृपा नहिं कृपा अघाती।।


लक्ष्मी प्राप्ति के लिए रामायण चौपाई


जिमि सरिता सागर मंहु जाही।

जद्यपि ताहि कामना नाहीं।।

तिमि सुख संपत्ति बिनहि बोलाएं।

धर्मशील पहिं जहि सुभाएं।।


रिद्धि-सिद्धि की प्राप्ति के लिये रामायण चौपाई


साधक नाम जपहिं लय लाएं।

होहि सिद्धि अनिमादिक पाएं।।


प्रेम वृद्धि के लिए रामायण चौपाई


सब नर करहिं परस्पर प्रीती।

चलहिं स्वधर्म निरत श्रुतिनीती।।


धन-संपत्ति की प्राप्ति के लिए रामायण चौपाई


जे सकाम नर सुनहिं जे गावहिं।

सुख सम्पत्ति नानाविधि पावहिंII

सुख प्राप्ति के लिए रामायण चौपाई


सुनहि विमुक्त बिरत अरू विबई।

लहहि भगति गति संपति नई।।


विद्या प्राप्ति के लिए रामचरितमानस चौपाई


गुरु ग्रह गए पढ़न रघुराई।

अलपकाल विद्या सब आई।।


शास्त्रार्थ में विजय पाने के लिए रामायण चौपाई


तेहि अवसर सुनि शिव धनु भंगा।

आयउ भृगुकुल कमल पतंगा।।


ज्ञान प्राप्ति के लिए रामचरितमानस चौपाई


तेहि अवसर सुनि शिव धनु भंगा।

आयउ भृगुकुल कमल पतंगा।।


विपत्ति में सफलता के लिए रामायण चौपाई


राजिव नयन धरैधनु सायक।

भगत विपत्ति भंजनु सुखदायक।।


पुत्र प्राप्ति के लिए रामायण चौपाई

प्रेम मगन कौशल्या निसिदिन जात न जान।

सुत सनेह बस माता बाल चरित कर गान।।


दरिद्रता दूर करने के लिए रामचरितमानस चौपाई


अतिथि पूज्य प्रियतम पुरारि के ।

कामद धन दारिद्र दवारिके।।


अकाल मृत्यु से बचने के लिए रामचरितमानस चौपाई


नाम पाहरू दिवस निसि ध्यान तुम्हार कपाट।

लोचन निज पद जंत्रित प्रान केहि बात।।


रोगों से बचने के लिए


दैहिक दैविक भौतिक तापा।

राम काज नहिं काहुहिं व्यापा।।

जहर को खत्म करने के लिए


नाम प्रभाऊ जान सिव नीको।

कालकूट फलु दीन्ह अमी को।।

खोई हुई वास्तु वापस पाने के लिए


गई बहारे गरीब नेवाजू।

सरल सबल साहिब रघुराजू।।

शत्रु को मित्र बनाने के लिए


वयरू न कर काहू सन कोई।

रामप्रताप विषमता खोई।।

भूत प्रेत के डर को भगाने के लिए


प्रनवउ पवन कुमार खल बन पावक ग्यान धुन।

जासु हृदय आगार बसहि राम सर चाप घर।।

ईश्वर से माफ़ी मांगने के लिए


अनुचित बहुत कहेउं अग्याता।

छमहु क्षमा मंदिर दोउ भ्राता।।

सफल यात्रा के लिए


प्रबिसि नगर कीजै सब काजा।

हृदय राखि कौशलपुर राजा।।

वर्षा की कामना की पूर्ति के लिए


सोइ जल अनल अनिल संघाता।

होइ जलद जग जीवनदाता।।

मुकदमा में विजय पाने के लिए


पवन तनय बल पवन समानाI

बुधि विवके बिग्यान निधाना।।

प्रसिद्धि पाने के लिए


साधक नाम जपहिं लय लाएं।

होहिं सिद्ध अनिमादिक पाएं।।

विवाह के लिए


तब जनक पाइ बसिष्ठ आयसु ब्याह साज संवारि कै।

मांडवी श्रुतिकीरित उरमिला कुंअरि लई हंकारि कै।।


अगला लेख: Guest Post : Guest posting के ज़रिये कैसे अपने ब्लॉग को बनायें NO. 1 - In HIndi



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
24 दिसम्बर 2018
आजकल शादियों का सीजन चल रहा है। और किसी भी शादी में छोटी-मोटी भूल-चूक, नाराज़गी होना तो आम बात है। लेकिन जब इन छोटे छोटे बातों का लोग मुद्दा बना देते हैं तो शादी के रंग में भंग पड़ते देर नहीं लगती। जिसके चलते कभी कभी नौबत शादी टूटने तक भी आ जाती है। आपने शादी टूटने के कई कि
24 दिसम्बर 2018
21 दिसम्बर 2018
अगर आप वैष्णो देवी जाना चाहते हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। IRCTC वैष्णो देवी की यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए खास पैकेज लेकर आया है। इस पैकेज के तहत यात्रियों को ट्रैवेलिंग से लेकर खाने-पीना से लेकर ठहरने तक की सुविधाए मिलेंगी।जानिए पैकेज के बारें में डिटेल्स : इस इकोनॉमी पैकेज में स्लीपर क्लास
21 दिसम्बर 2018
28 दिसम्बर 2018
चांद पर दाग हो तो चलता है, लेकिन आपके चांद से चेहरे पर दाग हो तो फिर मुश्किलें बढ़ जाती हैं। साथ ही अगर बात ख़ूबसूरती की आती है तो गोरा रंग सबसे पहले दिमाग में आता है। हर कोई चाहता है कि उसका चेहरा सबसे अच्छा औऱ खूबसूरत दिखे। सांवले रंगत की शक्ल भी अपने आप में खूबसूरत
28 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
8 नवंबर 2016 की नोटबंदी के बाद नोटों की दुनिया में क्रांति आ गई. कुछ बंद हो गए, कुछ नए आ गए, बाकियों का नाक-नक्शा बदल गया. पुराने वाले हज़ार-पांच सौ लापता हो गए. दो हज़ार और दो सौ के नए नोट दिखने लगे. जो बचे थे उनके साथ दिवाली खेली गई. आई मीन जैसे दिवाली पर घर को नया रंग-र
26 दिसम्बर 2018
02 जनवरी 2019
राफेल डील मामले पर लोकसभा में हुई चर्चा के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कई सवाल खड़े किए और आरोप लगया कि इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झूठ बोला है। राहुल के सवालों को जवाब देने के लिए सत्ता पक्ष से वित्त मंत्री अरुण जेटली खड़े हुए और उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी
02 जनवरी 2019
02 जनवरी 2019
आजकल का जमाना काफी बदल चुका है और जमाने के साथ साथ लोगों की जीवनशैली भी बदल चुकी है यदि व्यक्ति को किसी भी प्रकार की कोई शारीरिक परेशानी होती है तो वह अंग्रेजी दवाइयों पर निर्भर रहता है हर बीमारी के लिए वह अंग्रेजी दवाइयों का सेवन करता है परंतु भारत में पहले ऐसा नहीं
02 जनवरी 2019
25 दिसम्बर 2018
मध्य प्रदेश में सियासत का रंग बदले हुए हम सब ने देखा है पिछले 15 सालों से मध्य प्रदेश के तख़्त पर बैठी भारतीय जनता पार्टी को अपना तख़्त छोड़ना पड़ा और इसी के साथ कांग्रेस का वनवास ख़त्म हो गया। वहीँ सत्ता बदलने के बाद जहां लोगों में आशा की नई उम्मीद जाएगी है तो कांग्रेस पर भी बड़ी ज़िम्मेदारी भी आन पढ़ी है।
25 दिसम्बर 2018
25 दिसम्बर 2018
★ नेहरू जी ने #नेशनल हेराल्ड नामक अखबार 1930 में शुरू किया। धीरे-धीरे इस अखबार ने 5000/- करोड़ की संपत्ति अर्जित कर ली। सन् 2000 में यह अखबार घाटे में चला गया और इस पर 90 करोड़ का कर्जा हो गया।★ "नेशनल हेराल्ड" की तत्कालीन डायरेक्टर्स, सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी और मोतीलाल वोरा ने, इस अखबार को यंग इं
25 दिसम्बर 2018
20 दिसम्बर 2018
हम आपके लिए 11 बहुत ही खूबसूरत तस्वीरें लेकर आए हैं। आज की तस्वीरों पर आपको गर्व जरूर होगा। क्योंकि ये तस्वीरें हिंदू मुस्लिम एकता का प्रतीक है। भारत में सैकड़ों धर्म मौजूद है। यहां पर हिंदू और मुस्लिम दो मुख्य धर्म है। इन दोनों धर्मो को मानने वाले करोड़ों लोग इस देश में रहते हैं दोनों ही समुदाय के
20 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
Guest Post क्या है ?Guest Post करना क्यों ज़रूरी हैं ?Guest Post करने के फ़ायदे Guest Post करते समय किन-किन बातों का ध्यान दें ?शब्दनगरी पर Guest Post करें यदि आप एक हिंदी ब्लॉगर (Hindi Bloggar) हैं तो आपका यह जानना ज़रूरी है कि Guest Post क्या है ? ये करना क्यों ज़रूरी ह
26 दिसम्बर 2018
28 दिसम्बर 2018
कर्नाटक चुनाव प्रचार के बीच कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 2019 आम चुनाव के लिए बड़ा बयान दिया है। राहुल गांधी ने कहा कि अगर 2019 में कांग्रेस जीतती है तो वे प्रधानमंत्री बन सकते हैं। साथ ही राहुल गांधी ने बहुत ही दावे के साथ कहा कि 2019 में बीजेपी सरकार नहीं बनाएगी और ना ही नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्
28 दिसम्बर 2018
21 दिसम्बर 2018
अपने हिंदी ब्लॉग (Hindi blog) और वेबसाइट (website) के ट्रैफिक को कैसे बढ़ायें ? यह 9 टिप्स आपके ब्लॉग के ट्रैफिक को न केवल बढ़ाएगा बल्कि गूगल पेज रैंक पर ऊपर भी लाएगा। आजकल हर हिंदी लेखक हिंदी ब्लॉगिंग (Hindi blogging) का इस्तेमाल कर रहा
21 दिसम्बर 2018
02 जनवरी 2019
सभी लोगों को खुशहाल जीवन पसंद है ऐसा कोई व्यक्ति होगा जो अपने जीवन में खुश रहना नहीं चाहता होगा लगभग सभी लोग चाहते हैं कि उनके जीवन में कभी भी कोई मुसीबत या कठिन परिस्थितियां ना आए व्यक्ति रोजाना अपना कोई ना कोई कार्य करता रहता है कभी-कभी ऐसा होता है कि व्यक्ति कोई का
02 जनवरी 2019
21 दिसम्बर 2018
Third party image referenceदोस्तों आप तो अपने हाथों के ऊँगली में यह निशान अक्सर देखते है। यह निशान किसीके हाथों में ज्यादा होता होता है और वही किसीके की हाथों में कम होता है। लेकिन जो भी हो क्या अापने कभी यह निशान आखिर क्यों आपके उंगलियों पर दिखते है यह अपने कभी सोचा है है ? आज हम इसी विषय पर बात कर
21 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
यूनेस्को द्वारा नालंदा यूनिवर्सिटी को वर्ल्ड हेरिटेज साइट का दर्ज़ा दिया गया ।'नालंदा' नाम की उत्पत्ति 3 संस्कृत शब्दों के संयोजन से हुई: "ना", "आलम" और "दा", जिसका अर्थ है 'ज्ञान के उपहार को ना रोकना'।नालंदा यूनिवर्सिटी दुनिया की सबसे प्राचीन रेज़िडेंशियल यूनिवर्सिट
26 दिसम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x