मकर संक्रांति के दिन ये एक गलती भूलकर भी न करें, वरना शुरू हो जायेगा बुरा समय

04 जनवरी 2019   |  अभय शंकर   (132 बार पढ़ा जा चुका है)

मकर संक्रांति के दिन ये एक गलती भूलकर भी न करें, वरना शुरू हो जायेगा बुरा समय - शब्द (shabd.in)

इस बार मकर संक्रांति का पर्व रविवार को पड़ रहा है. मकर संक्रांति का ये पर्व सूर्य देव को समर्पित होता है. इस दिन पवित्र नदियों में स्नान किया जाता है और सूर्य को अर्घ्य चढ़ाया जाता है. ज्योतिष में कुल 9 ग्रह होते हैं और सूर्य को इन सबका राजा माना जाता है. मकर संक्रांति उस वक़्त मनाई जाती है जब सूर्य का प्रवेश धनु राशि के मकर राशि में होता है. 14 जनवरी के बाद सूर्य दक्षिणायन से उत्तरायण हो जाता है. मकर संक्रांति को लेकर पंचांग भेद सामने आ गए हैं. कुछ पंचांगों में बताया गया है कि सूर्य अपना राशि परिवर्तन 14 जनवरी के दिन दोपहर 2 बजे के बाद करेगा, जबकि कुछ पंचांगों की मानें तो रात के 8 बजे के बाद सूर्य का प्रवेश मकर राशि में होगा. इस दिन सूर्य उत्तरायण के साथ सर्वार्थ सिद्धि और पारिजात योग भी बन रहा है. इन योगों को शुभ और मंगलकारी माना जाता है.

इस समय सूर्य धनु राशि में बैठा हुआ है जिस वजह से सभी शुभ काम रुके हुए हैं. लेकिन जैसे ही सूर्य मकर राशि में प्रवेश करेगा सभी शुभ कार्य प्रारंभ हो जाएंगे. मकर संक्रांति के दिन से खरमास समाप्त हो जायेगा. सर्वार्थ सिद्धि योग रविवार की दोपहर से शुरू हो जाएगा. यह योग शुरू होते ही सभी मांगलिक कार्य किये जा सकेंगे. शास्त्रों की मानें तो उत्तरायण का समय देवताओं का दिन और दक्षिणायन देवताओं की रात माना जाता है. इस तरह मकर संक्राति देवताओं की सुबह कही जाती है.

मकर संक्रांति के दिन दान-पुण्य करना शुभ माना जाता है. मकर संक्रांति के दिन नदी स्नान, हवन, श्राद्ध, मंत्र जाप तथा पूजा-पाठ आदि का अपना एक अलग महत्व होता है. मान्यता है कि इस दिन जो व्यक्ति दान करता है वह उसका सौ गुना ज्यादा फल प्राप्त करता है. कहते हैं कि मकर संक्रांति के दिन घी, तिल, कंबल, खिचड़ी आदि का दान करना शुभ होता है.

मकर संक्राति के दिन व्यक्ति को देर तक सोने की गलती नहीं करनी चाहिए. इस दिन सुबह जल्दी उठकर स्नान करके सूर्य देवता को जल चढ़ाना चाहिए. इस दिन सुबह जल्दी उठने की कोशिश करें. कहा जाता है कि इस दिन जो व्यक्ति देर तक सोता है उसे सूर्य के प्रभाव के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. ऐसा करने से कुंडली में सूर्य के दोष बढ़ने लगते हैं और बुरा समय निकट आने लगता है. सूर्य देवता की पूजा करने के लिए सुबह के समय को सबसे श्रेष्ठ माना गया है. उनकी विशेष कृपा पाने के लिए सूर्योदय के समय उन्हें जल अर्पित करें.

मकर संक्रांति के दिन ये एक गलती भूलकर भी न करें, वरना शुरू हो जायेगा बुरा समय

https://www.newstrend.news/109479/avoid-sleeping-late-this-makar-sankranti-2018/?fbclid=IwAR01Lv94qB8TmEm765BEnt7iaKtxhwcPjElUQlvMarixc2W-DZjYxCL-6G4

अगला लेख: GoAir का बंपर डिस्काउंट, 1199 रुपए में हवाई यात्रा का ऑफर, बुकिंग के लिए देखें लिस्ट



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
14 जनवरी 2019
सूर्य का मकर राशि में संक्रमण 2019पौष शुक्लअष्टमी,सोमवार 14 जनवरी 2019 को सायं सात बजकर बावन मिनट के लगभग उत्तराषाढ़ नक्षत्र मेंरहते हुए राहू केतु के मध्य बव करण और सिद्ध योग में भगवान भास्कर मित्र ग्रह गुरुकी धनु राशि से निकलकर शत्रु गृह शनि की मकर राशि में संचार करेंगे | जिसे “मकर संक्रान्ति” के ना
14 जनवरी 2019
27 दिसम्बर 2018
बोधगया में है 2650 साल पुराना यह बोधिवृक्ष। बोधिमंदिर सहित इस वृक्ष की सुरक्षा में बिहार मिलिट्री पुलिस की चार बटालियन (करीब 360 जवान) तैनात हैं।इसकी टहनियां इतनी विशाल हैं कि इसे लोहे के 12 पिलर के सहारे खड़ा किया गया है। संभवत: यह देश का अकेला वृक्ष है, जिसके दर्शन के लिए हर साल 5 लाख से ज्यादा श्र
27 दिसम्बर 2018
28 दिसम्बर 2018
पीएम मोदी के सत्तासीन होने के बाद से ही विभिन्न क्षेत्रों में देश की उपलब्धियों से दुनिया में भारत का नाम रोशन होता रहा है। वर्ष 2018 में भी यह सिलसिला जारी रहा। आइए, एक नजर डालते हैं, इस साल की उन उपलब्धियों पर जो पहली बार भारत को हासिल हुईं और जिन्होंने हर भारतवासी को दुनिया में गर्व से सिर ऊंचा क
28 दिसम्बर 2018
03 जनवरी 2019
साल 2019 में तीन सूर्य और दो चंद्र ग्रहण के साथ कुल पांच ग्रहण लगेंगे, ज्योतिषी ने बताया कि साल 2019 का आगमन कन्या लग्न, तुला राशि और स्वाति नक्षत्र में हो रहा है, ये कई मामलों में बेहद लाभप्रद साबित होगा, ज्योतिषी के अनुसार साल 2019 के ग्रह गोचर का विभिन्न राशियों पर भी
03 जनवरी 2019
04 जनवरी 2019
आज के समय पर एक तरफ सरकार ना जाने कितनी तरह की योजनाएं ला रही हैं, बेटी बचाओ से लेकर के सुकन्या धन योजना ना जाने कितनी तरह की योजनाएं सरकार लेकर आ रही हैं जिससे लोगों के दिमाग में इतने सालों से चली आ रही रूढ़ीवादी समाज के एक बड़े वर्ग में आज भी बेटे को अहमियत देना जारी है।
04 जनवरी 2019
24 दिसम्बर 2018
*सनातन धर्म इतना दिव्य एवं विस्तृत है कि यहाँ मानव जीवन में उपयोगी सभी तत्वों का विशेष ध्यान रखा गया है | सनातन धर्म में अन्य देवी - देवताओं की पूजा के साथ ही प्रकृति पूजन का विशेष ध्यान रखा गया है , इसी विषय में आज हम बात करेंगे २५ दिसंबर अर्थात "तुलसी पूजन दिवस" की | मानव जीवन के लिए तुलसी कितनी उ
24 दिसम्बर 2018
24 दिसम्बर 2018
क्रिसमस के मौके पर हर घर में छोटे से लेकर बड़े क्रिसमस ट्री को बेहद आकर्षक ढंग से सजाया जाता है। गिफ़्ट, लाइट और मोमबत्तियों से सजा क्रिसमस ट्री बेहद सुंदर दिखता है, लेकिन क्या कभी आपने सोचा क्रिसमस ट्री को सजाने की शुरुआत कैसे हुई और इसे क्यों सजाया जाता है? zoom ऐसा माना
24 दिसम्बर 2018
07 जनवरी 2019
यूपी की दबंग आईएएस (IAS) अधिकारी बी. चंद्रकला हमेशा अपने तीखे तेवर, अधिकारियों को सबके सामने फटकारने और बयानों को लेकर सुर्खियों में बनी रहती हैं. जो भी गलत काम करते हैं चाहे वो ठेकेदार हो या पुलिस कर्मी सभी को जेल भिजवाने की धमकी देकर कई बार मीडिया के सामने हीरो बनी बी. चंद्रकला यूपी के कई जिलों मे
07 जनवरी 2019
20 दिसम्बर 2018
हम आपके लिए 11 बहुत ही खूबसूरत तस्वीरें लेकर आए हैं। आज की तस्वीरों पर आपको गर्व जरूर होगा। क्योंकि ये तस्वीरें हिंदू मुस्लिम एकता का प्रतीक है। भारत में सैकड़ों धर्म मौजूद है। यहां पर हिंदू और मुस्लिम दो मुख्य धर्म है। इन दोनों धर्मो को मानने वाले करोड़ों लोग इस देश में रहते हैं दोनों ही समुदाय के
20 दिसम्बर 2018
07 जनवरी 2019
हिन्दू धर्म के शास्त्रों के अनुसार किसी भी व्यक्ति के नाम का पहला अक्षर उसके व्यक्तित्व और व्यवहार से जुड़ी कईं बातों से हमे रूबरू करवाता है. हर नाम का पहला अक्षर उस व्यक्ति के बारे में हमे अच्छी और बुरी दोनों बातें बताता है. आज हम बात करने जा रहे हैं “S” अक्षर से शुरू होने वाले नाम वले व्यक्तियों की
07 जनवरी 2019
29 दिसम्बर 2018
बुधका धनु में गोचरनव वर्ष 2019 के प्रथम दिवस अर्थात एकजनवरी को पौष कृष्ण एकादशी को बव करण, धृति योग और विशाखा नक्षत्र में 09:50 के लगभग बुध काप्रवेश सूर्य और शनि के साथ गुरु की धनु राशि और मूल नक्षत्र में हो जाएगा |सर्वप्रथम सभी को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएँ… धनु राशि में बुधका गोचर सभी के लिए भाग
29 दिसम्बर 2018
20 दिसम्बर 2018
ऑनलाइन शॉपिंग कंपनियों की मनमानी के किस्से तो आपने सुने ही होंगे. ग्राहकों को लुभाने के लिए ये कंपनियां न जाने क्या-क्या हथकंडे अपनाती हैं. इनकी मनमानी इस कदर बढ़ गई है कि ये कुछ भी बेचने को तैयार हैं, चाहे उससे किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस ही क्यों न पहुंचे.Source: rack
20 दिसम्बर 2018
27 दिसम्बर 2018
बोधगया में है 2650 साल पुराना यह बोधिवृक्ष। बोधिमंदिर सहित इस वृक्ष की सुरक्षा में बिहार मिलिट्री पुलिस की चार बटालियन (करीब 360 जवान) तैनात हैं।इसकी टहनियां इतनी विशाल हैं कि इसे लोहे के 12 पिलर के सहारे खड़ा किया गया है। संभवत: यह देश का अकेला वृक्ष है, जिसके दर्शन के लिए हर साल 5 लाख से ज्यादा श्र
27 दिसम्बर 2018
31 दिसम्बर 2018
2019 की शुरुआत होने जा रही है और हर किसी के दिमाग में बस यही चल रहा होगा कि कैसा होगा ये नया साल।व्यक्ति के जीवन में राशियों का बड़ा महत्व माना गया है राशियों के आधार पर किसी भी व्यक्ति के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है व्यक्ति को आने वाले समय में किन किन परिस्थितियों का सामना करना पड़ेगा इन स
31 दिसम्बर 2018
07 जनवरी 2019
भारतीय समाज में सिंगल मदर होकर बच्चों की परवरिश करना आसान नहीं होता है, लेकिन हमारे सामने कई ऐसे उदाहरण हैं, जिससे यह साबित होता है कि इरादे मजबूत होंगे तो कायदे भी बदल जाएंगे। जी हां, अभिनेत्री अमृता ने अपने बच्चों की परवरिश अकेले की है और यही वजह है कि सारा अली खान अपनी कामयाबी का श्रेय अपनी मम्मी
07 जनवरी 2019
24 दिसम्बर 2018
क्रिसमस के मौके पर हर घर में छोटे से लेकर बड़े क्रिसमस ट्री को बेहद आकर्षक ढंग से सजाया जाता है। गिफ़्ट, लाइट और मोमबत्तियों से सजा क्रिसमस ट्री बेहद सुंदर दिखता है, लेकिन क्या कभी आपने सोचा क्रिसमस ट्री को सजाने की शुरुआत कैसे हुई और इसे क्यों सजाया जाता है? zoomऐसा माना जाता है मशहूर संत बोनिफेस जब
24 दिसम्बर 2018
27 दिसम्बर 2018
सलमान के बारे में बॉलीवुड में एक बात कही जाती है कि वो बड़े ही मासूम इंसान हैं...वह काम को दिल से करते हैं या फिर करते ही नहीं हैं लेकिन इस बात में भी कोई दो राह नहीं है कि सलमान का दिल बार बार टूटा है। संगीता बिजलानी, सोमी अली, ऐश्वर्या राय, केटरीना कैफ, जरीन खान, स्नेहा उल्लाल, ये सब नाम सलमान खान
27 दिसम्बर 2018
21 दिसम्बर 2018
*आदिकाल में जब सृष्टि का प्रादुर्भाव हुआ तो इस संपूर्ण धरा धाम पर सनातन धर्म एवं सनातन धर्म के मानने वाले लोगों के अतिरिक्त न तो कोई धर्म था और न ही कोई पंथ | सनातन धर्म ने ही संपूर्ण सृष्टि को आगे बढ़ने का मार्ग दिखाया | संसार के समस्त ज्ञान इसी दिव्य सनातन धर्म से प्रसारित हुये | सृष्टि के साथ ही
21 दिसम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x