3 राज्यों में हार के बाद प्राइवेट जॉब करने वालों के लिए मोदी सरकार ने दी बड़ी सौगात, किसी भी कंपनी में करते हैं जॉब तो जरूर पढ़ें ये ख़बर

07 जनवरी 2019   |  अभय शंकर   (179 बार पढ़ा जा चुका है)

3 राज्यों में हार के बाद प्राइवेट जॉब करने वालों के लिए मोदी सरकार ने दी बड़ी सौगात, किसी भी कंपनी में करते हैं जॉब तो जरूर पढ़ें ये ख़बर

तीन राज्यों से करारी हार के बाद भाजपा के कर्ता-धर्ता और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आने वाले लोकसभा चुनाव के लिए हर कदम फूंक-फूंककर रख रहे है. लोकसभा 2019 चुनाव को मद्देनजर रखते हुए मोदी सरकार ने प्राइवेट नौकरी करने वालों के लिए नये साल का तोहफा दिया है. सरकार ने प्राइवेट नौकरी वाले कर्मचारियों को नौकरी से निकालने और कंपनी बंद करने की मंजूरी देने में कुछ नियम बनाए हैं और कुछ में बदलाव किये हैं. ये खुशखबरी है प्राइवेट जॉब करने वालों के लिए मोदी सरकार ने दी बड़ी सौगात, लोकसभा 2019 चुनाव के लिए उन्होंने आम लोगों को लुभाया है. इस नियम पर प्राइवेट कंपनियां कितनी अमल करती हैं ये तो समय बताएगा तो चलिए बताते हैं आपको क्या हैं मोदी सरकार के वो नियम.

प्राइवेट जॉब करने वालों के लिए मोदी सरकार ने दी बड़ी सौगात

मोदी सरकार ने लोकसभा चुनाव के पहले प्राइवेट कर्मचारियों के लिए एक खास नियम बनाए हैं जिसमें उनके एक डर को खत्म किया गया है. दरअसल प्राइवेट नौकरी करने वालों को ये डर हमेशा रहता है कि कहीं उनकी नौकरी चली ना जाए या फिर उनकी कंपनी बंद ना हो जाए. मगर अब उन्हें परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि सूत्रों के मुताबिक, जिस प्राइवेट कंपनी में 100 लोगों से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं वहां पर किसी को हटाने से पहले कंपनी के मालिक को सरकार से परमिशन लेनी होगी. इसके साथ ही अगर 100 से ज्यादा कर्मचारी काम करते हैं तो उस कंपनी को बंद करना भी आसान नहीं होगी. कंपनियों को कर्मचारियों को निकालने से पहले भी सरकार से मंजूरी लेनी होगी. केंद्र सरकार ने श्रमकानून में से इस विवादास्पद कानून को हटाने का फैसला लिया गया है और इसके साथ ही सरकार ने क्लॉज में कुछ बदलाव किए हैं. सरकार ने कोड ऑन इंडस्ट्रियल रिलेशन के अंतर्गत ये कानून बनाया और बदलाव आया है. सरकार ने ड्राफ्ट बिल में कर्मचारियों की संख्या 100 से 300 की थी लेकिन अब 100 ही है और अब इसका फायदा प्राइवेट कर्मचारियों को मिलेगा.

अब कंपनियां लेंगी सरकार से मंजूरी

मोदी सरकार ने प्राइवेट नौकरी करने वालों के लिए बनाए हैं ये नियम. इन नियमों को आप अच्छे से पढ़िए और अपनी नौकरी के लिए बेफिक्र रहिए क्योंकि मोदी सरकार हर किसी के लिए कुछ ना कुछ सोच रही है.

1. जिस कंपनी में 100 से ज्यादा कर्मचारी काम कर रहे हैं तो उसे बंद करना आसा नहीं होगा.

2. कर्मचारियों को हटाने से पहले कंपनी के मालिक को सरकार की मंजूरी लेनी होगी.

3. श्रमकानून से विवादास्पद क्लॉज को हटाने का फैसला सरकार ने लिया है.

4. Closure, Layoff-Retrenchment क्लॉज में भी मोदी सरकार ने बदलाव किये हैं.

5. कोड ऑन इंटस्ट्रियल रिलेसन के अंतर्गत ये नये बदलाव किए गए हैं.

6. ड्राफ्ट बिल में कर्मचारियों की संख्या 100 से 300 कर दी गई थी, जिससे 300 से कम कर्मचारी वाली कपंनी मनमानी कर सकती है.

7. ट्रेड यूनियन के दबाव में सरकार ने कड़े सुधारों से अपने कगम वापस लिये.

8. संशोधित ड्राफ्ट बिल सरकार ने कैबिनेट के पास मंजूरी के लिए भेजा था.

9. दो से तीन हफ्तों के अंदर सरकार नए कोड में देगी मंजूरी.

खुशखबरी: प्राइवेट जॉब करने वालों के लिए मोदी सरकार ने दी बड़ी सौगात, किसी कंपनी में करते हैं जॉब तो जरूर पढ़ें ये ख़बर

अगला लेख: मकर संक्रांति के दिन ये एक गलती भूलकर भी न करें, वरना शुरू हो जायेगा बुरा समय



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
07 जनवरी 2019
यूपी की दबंग आईएएस (IAS) अधिकारी बी. चंद्रकला हमेशा अपने तीखे तेवर, अधिकारियों को सबके सामने फटकारने और बयानों को लेकर सुर्खियों में बनी रहती हैं. जो भी गलत काम करते हैं चाहे वो ठेकेदार हो या पुलिस कर्मी सभी को जेल भिजवाने की धमकी देकर कई बार मीडिया के सामने हीरो बनी बी. चंद्रकला यूपी के कई जिलों मे
07 जनवरी 2019
27 दिसम्बर 2018
सलमान के बारे में बॉलीवुड में एक बात कही जाती है कि वो बड़े ही मासूम इंसान हैं...वह काम को दिल से करते हैं या फिर करते ही नहीं हैं लेकिन इस बात में भी कोई दो राह नहीं है कि सलमान का दिल बार बार टूटा है। संगीता बिजलानी, सोमी अली, ऐश्वर्या राय, केटरीना कैफ, जरीन खान, स्नेहा उल्लाल, ये सब नाम सलमान खान
27 दिसम्बर 2018
27 दिसम्बर 2018
मोदी सरकार जबसे केंद्र में आई है तब से उसका एक ही प्रयास है कि ऐसी योजनाएं चलाई जाएं जिससे आर्थिक रूप से अत्यधिक कमजोर वर्गों को सहायता मिले और वह लोग भी समाज में बराबर का योगदान दे पाए।इस संबंध में सरकार ने कई योजनाओं, स्कीम्स को लॉन्च किया है और लोगों तक पहुंचने का प्रयास किया है। और यह भी मैसेज भ
27 दिसम्बर 2018
04 जनवरी 2019
इस बार मकर संक्रांति का पर्व रविवार को पड़ रहा है. मकर संक्रांति का ये पर्व सूर्य देव को समर्पित होता है. इस दिन पवित्र नदियों में स्नान किया जाता है और सूर्य को अर्घ्य चढ़ाया जाता है. ज्योतिष में कुल 9 ग्रह होते हैं और सूर्य को इन सबका राजा माना जाता है. मकर संक्रांति उस व
04 जनवरी 2019
28 दिसम्बर 2018
हमारे देश में लोग कहते हैं कि रिलायंस देश के उद्योगों का वो बुलबुला है जिसमें फूटकर छा जाने की कूवत है. मैं कहता हूं कि मैं वो बुलबुला हूं जो फूट चुका है.-धीरूभाई अंबानी ने एक प्रेस कांफ्रेंस में मुस्कुराते हुए कहा थाकई लोगों ने इसे धीर
28 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
:मध्य प्रदेश की नई सरकार में वादे के अनुसार जगह ना मिलने से 3 निर्दलीय विधायक समेत सपा और बसपा के विधायक भी खासे नाराज हैं, तीनों निर्दलियों के साथ सपा और बसपा के दोनों विधायकों ने एक होटल में मीटिंग की है। शपथ ग्रहन समारोह के बाद निर्दलयी विधायक सुरेन्द्र सिंह उर्फ शेरा
26 दिसम्बर 2018
27 दिसम्बर 2018
बोधगया में है 2650 साल पुराना यह बोधिवृक्ष। बोधिमंदिर सहित इस वृक्ष की सुरक्षा में बिहार मिलिट्री पुलिस की चार बटालियन (करीब 360 जवान) तैनात हैं।इसकी टहनियां इतनी विशाल हैं कि इसे लोहे के 12 पिलर के सहारे खड़ा किया गया है। संभवत: यह देश का अकेला वृक्ष है, जिसके दर्शन के लिए हर साल 5 लाख से ज्यादा श्र
27 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
योगी आदित्यनाथ जब से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने हैं तब से शायद ही कोई ऐसा दिन गया होगा जब उन्होंने अपने राज्य की जनता के लिए कोई खुशखबरी या फिर बड़ा ऐलान ना किया हो. लोगों को समृद्ध और विकासशील बनाने के लिए वह कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं और एक बार फिर उन्होंने मजबूर और
26 दिसम्बर 2018
04 जनवरी 2019
आज के समय पर एक तरफ सरकार ना जाने कितनी तरह की योजनाएं ला रही हैं, बेटी बचाओ से लेकर के सुकन्या धन योजना ना जाने कितनी तरह की योजनाएं सरकार लेकर आ रही हैं जिससे लोगों के दिमाग में इतने सालों से चली आ रही रूढ़ीवादी समाज के एक बड़े वर्ग में आज भी बेटे को अहमियत देना जारी है।
04 जनवरी 2019
27 दिसम्बर 2018
बायोपिक का दौर चल रहा है. आने वाली 25 जनवरी को एक साथ दो बायोपिक रिलीज हो रही हैं. कंगना रानौत की हिस्टोरिक बायोग्राफिकल ‘मणिकर्णिका’ और नवाजुद्दीन सिद्दीकी की ‘ठाकरे.’ पुराने जमाने में फिल्मों के लिए कोई शास्त्रीय गीत लिखा जाता था तो एक नाम दिमाग में आता था. इसे मन्ना डे गाएंगे. आज के जमाने में बाय
27 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद एक बार फिर से राफेल डील का मुद्दा गरमा गया है। जी हां, राफेल डील पर जहां बीजेपी और कांग्रेस आमने सामने है, तो वहीं अब इस मुद्दे पर आम जनता भी प्रतिक्रिया देने लगी है। राफेल मुद्दे पर केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट ने क्लीन चिट दे दी है, लेकिन
26 दिसम्बर 2018
27 दिसम्बर 2018
मोदी सरकार जबसे केंद्र में आई है तब से उसका एक ही प्रयास है कि ऐसी योजनाएं चलाई जाएं जिससे आर्थिक रूप से अत्यधिक कमजोर वर्गों को सहायता मिले और वह लोग भी समाज में बराबर का योगदान दे पाए।इस संबंध में सरकार ने कई योजनाओं, स्कीम्स को लॉन्च किया है और लोगों तक पहुंचने का प्रयास किया है। और यह भी मैसेज भ
27 दिसम्बर 2018
26 दिसम्बर 2018
मध्य प्रदेश की नई सरकार में वादे के अनुसार जगह ना मिलने से 3 निर्दलीय विधायक समेत सपा और बसपा के विधायक भी खासे नाराज हैं, तीनों निर्दलियों के साथ सपा और बसपा के दोनों विधायकों ने एक होटल में मीटिंग की है। शपथ ग्रहन समारोह के बाद निर्दलयी विधायक सुरेन्द्र सिंह उर्फ शेरा भ
26 दिसम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x