रोज साइकिल से ऑफिस जाते हैं ये IPS.. और उनके दफ्तर के बाबू लाखों की कार में घूमते हैं

08 जनवरी 2019   |  रितिका चटर्जी   (56 बार पढ़ा जा चुका है)

रोज साइकिल से ऑफिस जाते हैं ये IPS.. और उनके दफ्तर के बाबू लाखों की कार में घूमते हैं - शब्द (shabd.in)

IPS अफसर डीसी सागर अपनी फिटनेस को लेकर पूरे डिपार्टमेंट के लिए मिसाल बने हुए हैं। डीसी सागर मध्य प्रदेश के नक्सली इलाके बालाघाट रेंज के IG पद पर तैनात रहने के बाद वे अभी ADGP ( टेक्निकल सर्विसेस) पुलिस मुख्यालय हैं। बता दें कि डीसी सागर पुलिस डिपार्टमेंट में सबसे फिट अफसर में आते हैं। उनका मानना है कि सिर्फ नैचुरल तरीके से एक्सरसाइज, रनिंग और सही डाइट लेने से गठीला शरीर और सही फिटनेस पा सकते हैं।

इन बातों को फॉलो करते हैं डीसी सागर

– सागर का मानना है कि जिस इंसान को अपने शरीर से प्यार होता है वो अपने शरीर की केयर करता है।

– उनके अनुसार, परफेक्ट फिटनेस का मतलब सिर्फ बॉडी बनाना नहीं, बल्कि फिट रहना है। – वे अपने डेली रूटीन में जॉकिंग और एक्सरसाइज करते हैं, साथ ही साथ एक सही डाइट भी फॉलो करते हैं।

– वे फास्ट फूड से हमेशा दूर रहते हैं और नैचुरल खाद्य और पेय पदार्थ जैसे- दूध, दही, पनीर, चने के आटे की रोटी, दाल और ग्रीन सलाद ही लेते हैं।

– उनका मानना है कि 80 प्रतिशत सही/प्रोटीन युक्त डाइट और 20 प्रतिशत एक्सरसाइज से सही फिटनेस पाई जा सकती है।

– उनके अनुसार एक्सरसाइज के बाद हल्दी वाला दूध पीना चाहिए और सुबह उठकर फल, पनीर, बादाम और अंकुरित दाल खाना चाहिए।\

साइकिल से काम ज्यादा आसान होगा

साइकिल के यूज से फिटनेस भी बनती है। इसलिए वे अभी भी वीक में कई बार साइकिल का यूज करते हैं और साइकिल से PHQ (पुलिस हेडक्वाटर) भी जाते हैं। ADGP सागर नक्सली एरिया में भी जान खतरे में डालकर साइकिल से गश्त करते थे। उनका मानना है कि जिंदगी एक बार मिलती है, तो ड्यूटी मन लगाकर करनी चाहिए। सागर का मानना है कि साइकिल से गश्त करने से पुलिस वाले बीट में ज्यादा समय बिता सकते हैं, पतली गलियों में आसानी से गश्त कर सकते हैं। इसके साथ ही क्रिमिनल्स को गाड़ी की आवाज सुनकर भागने का मौका नहीं मिलता।

पुलिसिंग में LLB का सही यूज करने बने IPS

ADGP सागर का जन्म UP के बुलंदशहर में हुआ था। उनके पिता लखनऊ आर्मी में थे और मां हाऊस वाइफ थीं। उनकी स्कूलिंग तमिलनाडू, दिल्ली और जम्मू में हुई। दिल्ली के हंसराज कॉलेज से हिस्ट्री ऑनर्स के बाद उन्होंने LLB की भी पढ़ाई की। LLB करने का उद्देश्य ये था, कि वे पुलिसिंग में इसका सही तरह से प्रयोग कर सकें और समझ सकें कि किस मुताबिक तरह लॉ का यूज किया जा सकता है। इसके बाद वे 1992 बैच में IPS बने और मसूरी में ट्रेनिंग करने के बाद पहली पोस्टिंग बतौर SDOP नीमच में ज्वाइन की। ADGP सागर के मानते हैं कि कर्म ही पूजा नहीं, बल्कि जायज कर्म पूजा है



सोर्स : अपना बिहार

अगला लेख: मृत्यु के बाद शरीर के कौन से छेद से निकलती है आत्मा…90%लोग नहीं जानते होंगे जवाब



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
31 दिसम्बर 2018
क्या आपके मन में भी कभी ये ख्याल आता है कि आखिर क्यों हर साल न्यू ईयर पर कैलेंडर की तारीखों में बदलाव होता रहता है।आखिर क्यों हर साल त्योहारों से लेकर जन्मदिन तक की सारी तारीखें बदल जाती हैं।अगर आपके मन को भी इन सवालों ने परेशान कर रखा है तो आइए जानते हैं न्यू ईयर मनाने की शुरुआत सबसे पहले कब और कैस
31 दिसम्बर 2018
22 जनवरी 2019
एक न एक दिन अपने शरीर का त्याग कर हर किसी को जाना है। मौ’त के बाद की जिंदगी के बारे में जानने को लोग अकसर उत्सुक रहते हैं, लेकिन इस रहस्य को सुलझाना इतना आसान नहीं। हालांकि गरुड़ पुराण में मौ’त के बाद की जिंदगी के बारे में काफी कुछ बताया गया है। आज इन्हीं में से एक किस्से
22 जनवरी 2019
08 जनवरी 2019
कश्मीरी गद्दार जिस पाकिस्तान के लिए अपने मुल्क भारत से गद्दारी करते हैं उसी पाकिस्तान ने इन्हें आइना दिखाया है। पूर्व पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की बेटी मरियम नवाज का एक ट्वीट वायरल हो रहा जिसमें वो कह रही हैं कि जो कश्मीरी अपने मुल्क भारत के नहीं हुए वो हमारे क्या
08 जनवरी 2019
27 दिसम्बर 2018
बायोपिक का दौर चल रहा है. आने वाली 25 जनवरी को एक साथ दो बायोपिक रिलीज हो रही हैं. कंगना रानौत की हिस्टोरिक बायोग्राफिकल ‘मणिकर्णिका’ और नवाजुद्दीन सिद्दीकी की ‘ठाकरे.’ पुराने जमाने में फिल्मों के लिए कोई शास्त्रीय गीत लिखा जाता था तो एक नाम दिमाग में आता था. इसे मन्ना डे गाएंगे. आज के जमाने में बाय
27 दिसम्बर 2018
29 दिसम्बर 2018
निहित स्वार्थ वाले लोग किसी विश्वास को बनाने या कायम रखने के लिए एक ऐसा आवरण बनाते हैं, जिससे आप महसूस करते हैं कि किसी खास खास वस्तु या सेवा से आपके जीवन में रोचक परिवर्तन आ सकता है। मार्केटर्स हर साल आपको यह समझाने के लिए अरबों डॉलर खर्च करते हैं कि आप उनके इंडस्ट्री का
29 दिसम्बर 2018
31 दिसम्बर 2018
2019 की शुरुआत होने जा रही है और हर किसी के दिमाग में बस यही चल रहा होगा कि कैसा होगा ये नया साल।व्यक्ति के जीवन में राशियों का बड़ा महत्व माना गया है राशियों के आधार पर किसी भी व्यक्ति के बारे में जानकारी हासिल की जा सकती है व्यक्ति को आने वाले समय में किन किन परिस्थितियों का सामना करना पड़ेगा इन स
31 दिसम्बर 2018
10 जनवरी 2019
साल 2014 में जब लोकसभा चुनाव हुए और पूर्ण बहुमत से नरेंद्र मोदी ने भाजपा की जीत दर्ज की तो हर किसी को नरेंद्र मोदी से ढेर सारी उम्मीदें हो गईं. इन उम्मीदों को मोदी सरकार ने एक के बाद एक पूरा करने की कोशिश की लेकिन फिर भी लोगों को उनसे और भी उम्मीदें हैं. इन बातों को ध्यान
10 जनवरी 2019
08 जनवरी 2019
भारत में लड़कियों के जन्म के समय घरवालों को बहुत चिंता हो जाती है इसके लिए वो लड़की पैदा करने में घबराते हैं. इसकी सबसे बड़ी वजह होती है दहेज, जिसे इकट्ठा करने में मिडिल क्लास फैमिली को बहुत परेशानी होती है लेकिन जो बहुत गरीब होते हैं उन्हें बेटी की शादी में बहुत ज्यादा स
08 जनवरी 2019
26 दिसम्बर 2018
Guest Post क्या है ?Guest Post करना क्यों ज़रूरी हैं ?Guest Post करने के फ़ायदे Guest Post करते समय किन-किन बातों का ध्यान दें ?शब्दनगरी पर Guest Post करें यदि आप एक हिंदी ब्लॉगर (Hindi Bloggar) हैं तो आपका यह जानना ज़रूरी है कि Guest Post क्या है ? ये करना क्यों ज़रूरी ह
26 दिसम्बर 2018
22 जनवरी 2019
आप ने अक्‍सर सुना होगा कि गैस सिलेंडर फटने से बड़ा हादसा हो गया। ऐसे हादसों के बाद लोगों को जिम्‍मेदार ठहराया जाता है, लेकिन अक्‍सर हादसा पेट्रोलियम कंपनी की तरफ से गलत सिलेंडर
22 जनवरी 2019
08 जनवरी 2019
हमीरपुर में हुए खनन घोटाले में सीबीआई की जांच में जद में आईं 2008 बैच की आईएएस बी चंद्रकला को दो बार जांच एजेंसी की पूछताछ का सामना करना पड़ा था। सीबीआई ने उनको तलब करके खनन घोटाले के राज जानने की कोशिश की तो उन्होंने उन सफेशपोश नेताओं और अफसरों के नाम उगल दिए जिनके इशारे पर हमीरपुर में खनन के पट्टे
08 जनवरी 2019
08 जनवरी 2019
मां को भगवान का दूसरा रूप माना जाता है ..कहते हैं धरती पर भगवान हर जगह, हर समय नही रह सकते इसलिए मां को बना दिया। अक्सर ये देखा जाता है कि जब भी बच्चे पर बात बन आती है तो मां उसकी रक्षा के लिए सबकुछ कर गुजर जाती है। इंसान तो इंसान, जानवरों में भी मां की ममता कम नही होती..
08 जनवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
अंग्रेजी  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x