'सवर्ण आरक्षण' तो थी महज़ एक शुरूआत, अब 8 बड़े ऐलान करके जनता को बड़ी राहत देने जा रही मोदी सरकार

10 जनवरी 2019   |  रितिका चटर्जी   (569 बार पढ़ा जा चुका है)

'सवर्ण आरक्षण' तो थी महज़ एक शुरूआत, अब 8 बड़े ऐलान करके जनता को बड़ी राहत देने जा रही मोदी सरकार

साल 2014 में जब लोकसभा चुनाव हुए और पूर्ण बहुमत से नरेंद्र मोदी ने भाजपा की जीत दर्ज की तो हर किसी को नरेंद्र मोदी से ढेर सारी उम्मीदें हो गईं. इन उम्मीदों को मोदी सरकार ने एक के बाद एक पूरा करने की कोशिश की लेकिन फिर भी लोगों को उनसे और भी उम्मीदें हैं. इन बातों को ध्यान में रखते हुए मोदी सरकार में सवर्ण आरक्षण बिल संसद में रखा और वो पास भी हो गया है और ये 31 जनवरी से शुरु हो रहे बजट सत्र में जनता के सामने रखे जाएंगे. ये मोदी सरकार का आम जनता के लिए खास तोहफा हो सकता है. इन तोहफों को लोकसभा चुनाव 2019 के पहले आम जनता को रिझाने का एक जरिया हो सकता है. अब 8 बड़े ऐलान करके जनता को बड़ी राहत देने जा रही मोदी सरकार, इनके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए.

अब 8 बड़े ऐलान करके जनता को बड़ी राहत देने जा रही मोदी सरकार

किसानों और बेरोजगारों को वेतन

केंद्र सरकार किसानों को बहुत ही जल्द दो तोहफे देगी जिसकी घोषणा अगले हफ्ते या बजट से पहले होगी. इसमें जहां किसानों को मंथली सैलरी मिलेगी वहीं खेती के लिए ब्याज मुक्त लोन भी मिलेगा. दूसरी ओर बेरोजगारों को भी हर महीने उनके खाते में एक निश्चित राशि ट्रांसफर की जाएगी, जिससे उनका जीवन अच्छे से गुजर सके और वो नौकरी तलाशने तक किसी परेशानी से ना गुजरें.

हर महीने मिलेगी इतनी तनख्वाह

हर सीजन में किसानों को प्रति एकड़ चार हजार रुपये मिलेंगे और रुपया सीधे किसानों के खाते में जाएगा, हालांकि ये रुपया किसानों को कुछ शर्तों के साथ दिया जाएगा. इन रुपयों की मदद से किसान खेती के समय होने वाले खर्च को आसानी से पूरा कर पाएंगे. खेती के दौरान किसानों का ज्यादा खर्च बीज, खाद, सिंचाई और फसल की पैदावार होने पर मंडी तक की जाने वाली ढुलाई के लिए होता है.

किसानों के लिए होगा ब्याज मुक्त लोन

केंद्र सरकार किसानों को ब्याज मुक्त लोन देने का एलान भी होगा जिससे किसानों पर ज्यादा आर्थिक बोझ नहीं होगा. किसानों को एक लाख रुपये का लोन बिना किसी ब्याज के दिया जाएगा. ब्याज मुक्त लोन देने से सरकार पर करीब 2.30 लाख करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा लेकिन किसानों के बढ़ते सुसाइड केस को देखते हुए लिया जाएगा. सरकार इसकी घोषणा यूनिवर्सल बेसिक इनकम (यूबीआई) के तहत करने वाली है.

साल 2019 के चुनाव पर नजर

केंद्र सरकार की अब सीधे नजर मई 2019 में होने वाले लोकसभा पर है और इसलिए ही सरकार इस बजट में ये योजना की भी घोषणा करना चाहती है. एनडीए एक बार फिर से भारी बहुमत से जीत सकें और आपको बता दें मोदी सरकार इस स्कीम पर दो साल से काम कर रही है. भारत सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार रहे अरविंद सुब्रमण्यन ने 29 जनवरी 2018 को इस बारे में बताया था कि अगले सालों में 2 राज्यों में यूनिवर्सल बेसिक इनकम की शुरुआत होगी और सुब्रमण्यन ने 2016-17 के आर्थिक सर्वे में इसकी सिफारिश की थी।

इनकम टैक्स में छूट

सरकार इनकम टैक्स को लेकर भी एक बड़ा फैसला ले सकती है, जिसके अंतर्गत आयकर छूट की सीमा को ढाई लाख से बढ़ाकर तीन लाख रुपये तक किया जा सकता है. बुधवार को ही उद्योग संगठन सीआईआई ने आयकर छूट सीमा को पांच लाख रुपये करने की मांग की थी.

जीएसटी में हो सकते हैं बदलाव

निर्माणाधीन मकानों पर अभी लगने वाली 12 प्रतिशत जीएसटी में आधे से ज्यादा हिस्सा इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) के रूप में बिल्डर को वापस कर दिया जाता है. ऐसे में वास्तविक जीएसटी सिर्फ 5-6 फीसदी की ही होती है, जबकि बिल्डर खरीदारों को आईटीसी का लाभ नहीं देते हैं. इस बात को ध्यान में रखते हुए डिपार्टमेंट ने 80 फीसदी इनपुट पंजीकृत डीलर से खरीदने वाले बिल्डर पर 5 फीसदी जीएसटी लगाने पर विचार कर सकती है.

जेटली ने दिए थे संकेत

पिछले दिनों वित्त मंत्री ने कहा था कि जीएसटी परिषद की अगली बैठक में टैक्स की दरों को कम करने होगी. इसमें 28 फीसदी स्लैब में आने वाली वस्तुओं की संख्या घटाने, निर्माणाधीन मकानों पर जीएसटी दर कम करने और एमएसएमई के लिए मौजूदा सीमा 20 लाख को बढ़ाने पर फैसला लिया जा सकता है.

होम लोन होगा सस्ता

1 अप्रैल से आम जनता को बड़ा तोहफा दिया जाएगा जिसमें भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने सभी प्रकार के लोन की ब्याज दर को लेकर ये बड़ा फैसला किया है. इस नियम के मुताबिक होम, पर्सनल और सूक्ष्म व लघु उद्योगों के लिए ब्याज दर के लिए किसी भी बैंकों पर निर्भर नहीं रहना होगा.

'सवर्ण आरक्षण' तो थी महज़ एक शुरूआत, अब 8 बड़े ऐलान करके जनता को बड़ी राहत देने जा रही मोदी सरकार

https://www.newstrend.news/204576/modi-goverment-may-announce-8-big-projects/?fbclid=IwAR0OOYNUZoG-_RAhkQWnu6ldAwHZVHM5R3qjsmFiouYG6-EwFcKYmUFhMrw

अगला लेख: मृत्यु के बाद शरीर के कौन से छेद से निकलती है आत्मा…90%लोग नहीं जानते होंगे जवाब



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
27 दिसम्बर 2018
बायोपिक का दौर चल रहा है. आने वाली 25 जनवरी को एक साथ दो बायोपिक रिलीज हो रही हैं. कंगना रानौत की हिस्टोरिक बायोग्राफिकल ‘मणिकर्णिका’ और नवाजुद्दीन सिद्दीकी की ‘ठाकरे.’ पुराने जमाने में फिल्मों के लिए कोई शास्त्रीय गीत लिखा जाता था तो एक नाम दिमाग में आता था. इसे मन्ना डे गाएंगे. आज के जमाने में बाय
27 दिसम्बर 2018
28 दिसम्बर 2018
पीएम मोदी के सत्तासीन होने के बाद से ही विभिन्न क्षेत्रों में देश की उपलब्धियों से दुनिया में भारत का नाम रोशन होता रहा है। वर्ष 2018 में भी यह सिलसिला जारी रहा। आइए, एक नजर डालते हैं, इस साल की उन उपलब्धियों पर जो पहली बार भारत को हासिल हुईं और जिन्होंने हर भारतवासी को दुनिया में गर्व से सिर ऊंचा क
28 दिसम्बर 2018
07 जनवरी 2019
लोकसभा चुनाव में अब कुछ ही दिन बचे हैं, हर किसी के मन में एक ही सवाल है कि क्या बीजेपी 2014 वाला प्रदर्शन 2019 में दुहरा पाएगी, तमाम न्यूज चैनल और सर्वे एजेंसियां जनता का मूड भांपने की कोशिश कर रही है, इसी कड़ी में इंडिया टीवी और सीएनएक्स ने यूपी, बिहार, महाराष्ट्र, गोवा
07 जनवरी 2019
07 जनवरी 2019
तीन राज्यों से करारी हार के बाद भाजपा के कर्ता-धर्ता और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आने वाले लोकसभा चुनाव के लिए हर कदम फूंक-फूंककर रख रहे है. लोकसभा 2019 चुनाव को मद्देनजर रखते हुए मोदी सरकार ने प्राइवेट नौकरी करने वालों के लिए नये साल का तोहफा दिया है. सरकार ने प्राइवेट नौकरी वाले कर्मचारियों
07 जनवरी 2019
27 दिसम्बर 2018
बायोपिक का दौर चल रहा है. आने वाली 25 जनवरी को एक साथ दो बायोपिक रिलीज हो रही हैं. कंगना रानौत की हिस्टोरिक बायोग्राफिकल ‘मणिकर्णिका’ और नवाजुद्दीन सिद्दीकी की ‘ठाकरे.’ पुराने जमाने में फिल्मों के लिए कोई शास्त्रीय गीत लिखा जाता था तो एक नाम दिमाग में आता था. इसे मन्ना डे गाएंगे. आज के जमाने में बाय
27 दिसम्बर 2018
08 जनवरी 2019
मां को भगवान का दूसरा रूप माना जाता है ..कहते हैं धरती पर भगवान हर जगह, हर समय नही रह सकते इसलिए मां को बना दिया। अक्सर ये देखा जाता है कि जब भी बच्चे पर बात बन आती है तो मां उसकी रक्षा के लिए सबकुछ कर गुजर जाती है। इंसान तो इंसान, जानवरों में भी मां की ममता कम नही होती..
08 जनवरी 2019
27 दिसम्बर 2018
बॉलीवुड के दबंग सलमान खान यारों के यार हैं लेकिन अगर जब कोई उनसे पंगा लेता है तो वो उनसे दुश्मनी भी बखूबी निभाते हैं. सलमान जिसके ऊपर मेहरबान हो जाते हैं तो उनकी जिंदगी बना देते हैं और जब किसी से दुश्मनी होती है तो उसका करियर बिगाड़ भी सकते हैं. उन्होंने बहुत से सितारों क
27 दिसम्बर 2018
07 जनवरी 2019
नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने लोकसभा चुनाव से पहले मास्टरस्ट्रोक खेला है. मोदी सरकार ने फैसला लिया है कि वह सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण देगी. सोमवार को पीएम मोदी की अध्‍यक्षता में कैबिनेट की हुई बैठक में सवर्णों को 10 फीसदी आरक्षण देने के फैसले पर मुहर लगाई गई. कैबिनेट ने फैस
07 जनवरी 2019
08 जनवरी 2019
भारत में लड़कियों के जन्म के समय घरवालों को बहुत चिंता हो जाती है इसके लिए वो लड़की पैदा करने में घबराते हैं. इसकी सबसे बड़ी वजह होती है दहेज, जिसे इकट्ठा करने में मिडिल क्लास फैमिली को बहुत परेशानी होती है लेकिन जो बहुत गरीब होते हैं उन्हें बेटी की शादी में बहुत ज्यादा स
08 जनवरी 2019
11 जनवरी 2019
न्यूज़ट्रेंड वेब डेस्क: जीवन में सफल होने के लिए सिर्फ कुछ बातें जरूरी होती हैं जो हैं लगन और जज्बा। अगर आपके मन में ये दोनों चीजें हैं और जीवन में सफल होने के लिए कुछ करने की चाह है तो आप कभी भी असफल नहीं होएंगे। आपकी मेहनत और लगन के बलबूते आप अपने सभी सपनों को पूरा कर स
11 जनवरी 2019
07 जनवरी 2019
नई दिल्ली : बॉलीवुड में बायोपिक का दौर नया नहीं है लेकिन ऐसा लगता है कि खिलाड़ियों के बाद अब राजनीति के कई चेहरों को पर्दे पर देखना मजेदार होगा. पूर्व पीएम मनमोहन सिंह के बाद अब वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी बॉलीवुड स्टाइल में देखना उनके फैंस के लिए किसी ट्रीट स
07 जनवरी 2019
27 दिसम्बर 2018
मोदी सरकार जबसे केंद्र में आई है तब से उसका एक ही प्रयास है कि ऐसी योजनाएं चलाई जाएं जिससे आर्थिक रूप से अत्यधिक कमजोर वर्गों को सहायता मिले और वह लोग भी समाज में बराबर का योगदान दे पाए।इस संबंध में सरकार ने कई योजनाओं, स्कीम्स को लॉन्च किया है और लोगों तक पहुंचने का प्रयास किया है। और यह भी मैसेज भ
27 दिसम्बर 2018
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x