मकर संक्रान्ति की हार्दिक शुभकामनाएँ

15 जनवरी 2019   |  कात्यायनी डॉ पूर्णिमा शर्मा   (81 बार पढ़ा जा चुका है)

मकर संक्रान्ति की हार्दिक शुभकामनाएँ

सूर्य के उत्तरायण गमन के पर्व मकर संक्रान्ति की सभी को हार्दिक शुभकामनाएँ…

इस शुभावसर पर प्रस्तुत है महाभारत के वनपर्व अध्याय तीन से उद्धृत सूर्य अष्टोत्तरशतनामस्तोत्रम्…

धौम्य उवाच
सूर्योSर्यमा भगस्त्वष्टा पूषार्क: सविता रवि: |
गभस्तिमानज: कालो मृत्युर्धाता प्रभाकर: ||
पृथिव्यापश्च तेजश्च खं वायुश्च परायणम् |
सोमो बृहस्पति: शुक्रो बुधो अंगारक एव च ||
इन्द्रो विवस्वान् दीप्तांशु: शुचि: शौरि: शनैश्चर: |
ब्रह्मा विष्णुश्च रुद्रश्च स्कन्दो वै वरुणो यम: ||
वैद्युतो जाठरश्चाग्नि रैन्धनस्तेजसां पति: |
धर्मध्वजो वेदकर्ता वेदांगो वेदवाहन: ||
कृतं त्रेता द्वापरश्च कलि: सर्वमलाश्रय: |
कला काष्ठा मुहूर्त्ताश्च क्षपा यामस्तथा क्षण: ||
संवत्सरकरोऽश्वत्थ: कालचक्रो विभावसु: |
पुरुष: शाश्वतो योगी व्यक्ताव्यक्त: सनातन: ||
कालाध्यक्ष: प्रजाध्यक्षो विश्वकर्मा तमोनुद: |
वरुण: सागरोंSशश्च जीमूतो जीवनोSरिहा ||
भूताश्रयो भूतपति: सर्वलोकनमस्कृत: |
स्रष्टा संवर्तको वह्नि: सर्वस्यादिरलोलुप: ||
अनन्त: कपिलो भानु: कामद: सर्वतोमुख: |
जयो विशालो वरद: सर्वधातुनिषेचिता ||
मन:सुपर्णो भूतादि: शीघ्रग: प्राणधारक: |
धन्वन्तरिर्धूमकेतुरादिदेवो दिते: सुत: ||
द्वादशात्मारविन्दाक्ष: पिता माता पितामह: |
स्वर्गद्वारं प्रजाद्वारं मोक्षद्वारं त्रिविष्टपम् ||
देहकर्ता प्रशान्तात्मा विश्वात्मा विश्वतोमुख: |
चराचरात्मा सूक्ष्मात्मा मैत्रेय: करुणान्वित: ||

सूर्य, अर्यमा, भग, त्वष्टा, पूषा (पोषक), अर्क, सविता, रवि, गभस्तिमान (किरणों से युक्त), अज (अजन्मा), काल (काल अथवा समय), मृत्यु (अवसान), धाता (धारण करने वाला), प्रभाकर (प्रकाश उत्पन्न करने वाला), पृथ्वी, आप: (जल), तेज, ख (आकाश), वायु, परायण (आश्रयदाता), सोम, बृहस्पति, शुक्र, बुध, अंगारक (मंगल), इन्द्र, विवस्वान्, दीप्तांशु (दीप्त अर्थात प्रकाशित अंशु अर्थात किरणों से युक्त), शुचि (पवित्र), सौरि (सूर्यपुत्र मनु), शनैश्चर, ब्रह्मा, विष्णु, रुद्र (त्रिदेव) स्कन्द (कार्तिकेय), वैश्रवण (कुबेर), यम (संयमित अथवा सन्तुलित करने वाले), वैद्युताग्नि, जाठराग्नि, ऐन्धनाग्नि (विद्युत, जठर और ईंधन तीनों प्रकार की अग्नियाँ), तेज:पति, धर्मध्वज, वेदकर्ता, वेदांग, वेदवाहन (जिनके द्वारा वेदों की रचना हुई, जो वेदों के अंग भी हैं और वेदों के वाहक भी), कृत (सत्ययुग), त्रेता, द्वापर, सर्वामराश्रय कलि, कला, काष्ठा मुहूर्तरूप समय, क्षपा (रात्रि), याम (प्रहर), क्षण, संवत्सरकर, अश्वत्थ, कालचक्र प्रवर्तक विभावसु, शाश्वतपुरुष, योगी, व्यक्ताव्यक्त (जोई व्यक्त अर्थात प्रत्यक्ष भी है और अव्यक्त अर्थात अप्रत्यक्ष भी), सनातन, कालाध्यक्ष, प्रजाध्यक्ष, विश्वकर्मा, तमोनुद (अंधकार को भगाने वाले), वरुण, सागर, अंशु, जीमूत (मेघ), जीवन, अरिहा (शत्रुओं का नाश करने वाले), भूताश्रय, भूतपति, सर्वलोकनमस्कृत, स्रष्टा, संवर्तक, वह्नि, सर्वादि, अलोलुप (निर्लोभ), अनन्त, कपिल, भानु, कामद, सर्वतोमुख, जय, विशाल, वरद, सर्वभूतनिषेवित, मन:सुपर्ण, भूतादि, शीघ्रग (शीघ्र चलने वाले), प्राणधारण, धन्वन्तरि, धूमकेतु, आदिदेव, अदितिपुत्र, द्वादशात्मा (बारह स्वरूपों वाले – द्वादश आदित्य), अरविन्दाक्ष, पिता-माता-पितामह, स्वर्गद्वार-प्रजाद्वार, मोक्षद्वार, देहकर्ता, प्रशान्तात्मा, विश्वात्मा, विश्वतोमुख, चराचरात्मा, सूक्ष्मात्मा, मैत्रेय, करुणान्वित (दयालु) |

ये सूर्य के 108 नाम महाभारत के वनपर्व में उपलब्ध होते हैं जो सूर्योपनिषद के इस वाक्य की पुष्टि करते हैं कि सूर्य ही आत्मा है “आदित्यात् ज्योतिर्जायते | आदित्याद्देवा जायन्ते | आदित्याद्वेदा जायन्ते | असावादित्यो ब्रह्म |” अर्थात आदित्य से प्रकाश उत्पन्न होता है, आदित्य से ही समस्त देवता उत्पन्न हुए हैं, आदित्य ही वेदों का भी कारक है और इस प्रकार आदित्य ही ब्रह्म है |

https://www.astrologerdrpurnimasharma.com/2019/01/15/makar-sankranti-2019/

अगला लेख: सूर्य का मकर राशि में गोचर



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
08 जनवरी 2019
वर्ष 2019 में पंचकों की सूचीवर्ष 2019 में प्रथम पंचक कल बुधवार 9 जनवरी दोपहर 1:16 से आरम्भ होकर सोमवार14 जनवरी दोपहर 12:52 तक रहेंगे | आज हम प्रस्तुत कर रहे हैं वर्ष 2019 में आने वाले पंचकों की एकतालिका | किन्तु तालिका प्रस्तुत करने से पूर्व आइये जानते हैं कि पंचक वास्तव मेंहोते क्या हैं |पंचकों का
08 जनवरी 2019
06 जनवरी 2019
7 से 13 जनवरी 2019 तक का साप्ताहिक राशिफलनीचे दिया राशिफल चन्द्रमा की राशि परआधारित है और आवश्यक नहीं कि हर किसी के लिए सही ही हो – क्योंकि लगभग सवा दो दिनचन्द्रमा एक राशि में रहता है और उस सवा दो दिनों की अवधि में न जाने कितने लोगोंका जन्म होता है | साथ ही ये फलकथन केवलग्रहों के तात्कालिक गोचर पर आ
06 जनवरी 2019
14 जनवरी 2019
सूर्य का मकर राशि में संक्रमण 2019पौष शुक्लअष्टमी,सोमवार 14 जनवरी 2019 को सायं सात बजकर बावन मिनट के लगभग उत्तराषाढ़ नक्षत्र मेंरहते हुए राहू केतु के मध्य बव करण और सिद्ध योग में भगवान भास्कर मित्र ग्रह गुरुकी धनु राशि से निकलकर शत्रु गृह शनि की मकर राशि में संचार करेंगे | जिसे “मकर संक्रान्ति” के ना
14 जनवरी 2019
24 जनवरी 2019
नक्षत्रों के आधार पर हिन्दी महीनों का विभाजन और उनके वैदिक नाम:- ज्योतिष में मुहूर्त गणना, प्रश्न तथा अन्य भी आवश्यक ज्योतिषीय गणनाओं के लिए प्रयुक्त कियेजाने वाले पञ्चांग के आवश्यक अंग नक्षत्रों के नामों की व्युत्पत्ति और उनके अर्थतथा पर्यायवाची शब्दों के विषय में हम पहले बहुत कुछ लिख चुके हैं | अब
24 जनवरी 2019
14 जनवरी 2019
संक्रान्ति 2019 और मकर संक्रान्तिॐ घृणि: सूर्य आदित्य नम: ॐआज रात्रि सातबजकर पावन मिनट के लगभग भगवान भास्कर गुरुदेव की धनु राशि से निकल कर महाराज शनिकी मकर राशि में गमन करेंगे और इसके साथ उत्तर दिशा की ओर उनका प्रस्थान आरम्भ होजाएगा | और कल यानी 15 जनवरी – मकर संक्रान्ति को सूर्य के मकर राशि में संक
14 जनवरी 2019
24 जनवरी 2019
बुधका मकर में गोचररविवार 20 जनवरी को रात्रि नौ बजकरसात मिनट के लगभग पौष शुक्ल पूर्णिमा को विष्टि करण और विषकुम्भ योग में बुध कागोचर मकर राशि में हो चुका है | बुध इस समय उत्तराषाढ़ नक्षत्र पर है तथा अस्त है |यहाँ से 26 जनवरी को बुध श्रवण नक्षत्र और तीन फरवरी को धनिष्ठा नक्षत्र पर भ्रमणकरता हुआ सात फरव
24 जनवरी 2019
19 जनवरी 2019
ठिठुराती भीषण ठण्ड में जब प्रकृति नटी ने छिपा लिया हो स्वयं को चमकीली बर्फ की घनी चादर में छाई हो चारों ओर घरों की छत पर और आँगन में खामोशी के साथ “टप टप” बरसती धुँध नहीं दीख पड़ता कि चादर के उस पार दूसरा कौन है और फिर इसी द्विविधा को दूर करने धीरे धीरे मीठी मुस्कान के सूर्यदेव का ऊपरउठाना जो कर दे
19 जनवरी 2019
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x