गांगुली ने पेश की इंसानियत की मिसाल, जिंदगी से जंग कर रहे पूर्व क्रिकेटर की मदद को आगे आए ....

21 जनवरी 2019   |  अभय शंकर   (632 बार पढ़ा जा चुका है)

गांगुली ने पेश की इंसानियत की मिसाल, जिंदगी से जंग कर रहे पूर्व क्रिकेटर की मदद को आगे आए ....

टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने अपनी महानता का एक बेहद खूबसूरत नमूना पेश किया है। गांगुली पूर्व क्रिकेटर जेकब मार्टिन की मदद के लिए आगे आए हैं। मार्टिन 28 जून को एक दुर्घटना का शिकार हो गए थे जिसमें उन्हें काफी चोटें आई थीं। वह अभी वडोदरा के एक अस्पताल में भर्ती हैं।


मार्टिन के फेफड़े और लिवर में काफी गंभीर चोटें आई हैं और इस वकत वह लाइप सपोर्ट पर हैं। अस्पताल में मार्टिन का प्रति दिन का खर्च 70,000 रुपए है। जैकब मार्टिन की पत्नी ने बीसीसीआई से उनके इलाज के लिए मदद मांगी थी। बोर्ड ने मार्टिन के इलाज के लिए उन्हें 5 लाख रुपए दिए।


इस बात की जानकारी मिलते ही सौरव गांगुली लिखा, 'मार्टन और मैं एक साथ खेल चुके हैं। मुझे याद है कि वो शांत और इंट्रोवर्ट किस्म का शख्स था। मैं उसके जल्द ठीक होने की दुआ करता हूं और मैं उसके परिवार को ये बता देना चाहता हूं कि वो अकेले नहीं हैं।'


बीसीसीआई और बीसीए के पूर्व सचिव संजय पटेल मार्टिन के परिवार की मदद कर रहे हैं। पटेल ने टेलीग्राफ के हवाले से लिखा, 'एक्सीडेंट के बारे में जानकारी मिलते ही मैंने परिवार की मदद करनी चाही। मैंने कुछ लोगों से बात की है, जिनमें समरजीत सिंह शामिल हैं और उन्होंने एक लाख रुपये की मदद की साथ ही पांच लाख रुपये इकट्ठा किए।'

उन्होंने कहा, 'अस्पताल के बिल पहले ही 11 लाख रुपये के पार पहुंच चुका है और एक समय पर अस्पताल ने भी दवाइयां देना बंद कर दिया था। बीसीसीआई ने इसके बाद पैसा भेजा और उसके बाद इलाज नहीं रुका।'

अगला लेख: इस मगरमच्छ से बहुत प्यार करते थे गांव वाले, आखिर क्यों उसके मरते ही फूट-फूट कर रोने लगे लोग



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
07 जनवरी 2019
मक्का मदीना: इस दुनिया में लाखो – करोड़ो लोग रहते हैं जो अपने अलग-अलग धर्म और रीति रिवाजों से संबंध रखते हैं. जैसे हम हिंदू और सिख लोग मंदिरों और गुरुद्वारों को उत्तम मानते हैं, ठीक वैसे ही मुस्लिमों के लिए मक्का मदीना किसी जन्नत से कम नहीं है. मक्का मदीना का इतिहास कईं सा
07 जनवरी 2019
10 जनवरी 2019
90 के दशक में कुछ धारावाहिक बहुत मशहूर हुआ करते थे. शनिवार और रविवार के दिन सभी बच्चे और बड़े टीवी के सामने टकटकी लगा कर बैठ जाया करते थे. उस दौर में मनोरंजन के साधन कम होने के बावजूद लोगों को खुश रहना आता था. उस टाइम में अधिकतर लोगों के घरों में दूरदर्शन ही देखा जाता था.
10 जनवरी 2019
10 जनवरी 2019
मकर संक्रांति का पर्व बहुत ही जल्दी आने वाला है पूरे भारतवर्ष में मकर संक्रांति का पर्व विभिन्न प्रकार से बड़ी ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है ज्योतिष की मानें तो इस दिन सूर्य मकर राशि में प्रवेश करता है इसी वजह से मकर संक्रांति के दिन सूर्य
10 जनवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x