गांगुली ने पेश की इंसानियत की मिसाल, जिंदगी से जंग कर रहे पूर्व क्रिकेटर की मदद को आगे आए ....

21 जनवरी 2019   |  अभय शंकर   (649 बार पढ़ा जा चुका है)

गांगुली ने पेश की इंसानियत की मिसाल, जिंदगी से जंग कर रहे पूर्व क्रिकेटर की मदद को आगे आए ....

टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने अपनी महानता का एक बेहद खूबसूरत नमूना पेश किया है। गांगुली पूर्व क्रिकेटर जेकब मार्टिन की मदद के लिए आगे आए हैं। मार्टिन 28 जून को एक दुर्घटना का शिकार हो गए थे जिसमें उन्हें काफी चोटें आई थीं। वह अभी वडोदरा के एक अस्पताल में भर्ती हैं।


मार्टिन के फेफड़े और लिवर में काफी गंभीर चोटें आई हैं और इस वकत वह लाइप सपोर्ट पर हैं। अस्पताल में मार्टिन का प्रति दिन का खर्च 70,000 रुपए है। जैकब मार्टिन की पत्नी ने बीसीसीआई से उनके इलाज के लिए मदद मांगी थी। बोर्ड ने मार्टिन के इलाज के लिए उन्हें 5 लाख रुपए दिए।


इस बात की जानकारी मिलते ही सौरव गांगुली लिखा, 'मार्टन और मैं एक साथ खेल चुके हैं। मुझे याद है कि वो शांत और इंट्रोवर्ट किस्म का शख्स था। मैं उसके जल्द ठीक होने की दुआ करता हूं और मैं उसके परिवार को ये बता देना चाहता हूं कि वो अकेले नहीं हैं।'


बीसीसीआई और बीसीए के पूर्व सचिव संजय पटेल मार्टिन के परिवार की मदद कर रहे हैं। पटेल ने टेलीग्राफ के हवाले से लिखा, 'एक्सीडेंट के बारे में जानकारी मिलते ही मैंने परिवार की मदद करनी चाही। मैंने कुछ लोगों से बात की है, जिनमें समरजीत सिंह शामिल हैं और उन्होंने एक लाख रुपये की मदद की साथ ही पांच लाख रुपये इकट्ठा किए।'

उन्होंने कहा, 'अस्पताल के बिल पहले ही 11 लाख रुपये के पार पहुंच चुका है और एक समय पर अस्पताल ने भी दवाइयां देना बंद कर दिया था। बीसीसीआई ने इसके बाद पैसा भेजा और उसके बाद इलाज नहीं रुका।'

अगला लेख: इस मगरमच्छ से बहुत प्यार करते थे गांव वाले, आखिर क्यों उसके मरते ही फूट-फूट कर रोने लगे लोग



शब्दनगरी पर हो रही अन्य चर्चायें
10 जनवरी 2019
भारतीय सेना में जवानों की कोई कमी नहीं है, सब एक से बढ़कर एक जवान हैं। हर किसी की अपनी ख़ासियत है।ऐसा ही एक जवान भारतीय सेना में था जिसकी आत्मा आज भी भारतीय सीमाओं की रक्षा करती है एक ऐसा जवान जिसकी आत्मा भी करती है। इतना ही नहीं उस जवान (Baba Harbhajan Singh) को सैलरी और प
10 जनवरी 2019
10 जनवरी 2019
आमतौर पर जब आपको कोई जानलेवा जानवर दिखता है तो आप डर जाते हैं और अपनी जान बचाकर इधर-उधर भागने लगते हैं. ऐसा ही एक जानलेवा जानवर है मगरमच्छ. मगरमच्छ यूं तो शांत रहते हैं और पानी में पाए जाते हैं लेकिन अगर आप गलती से भी उसके हाथ लग गए तो वह आपके चीथड़े उड़ा देगा. इसलिए ऐसे जा
10 जनवरी 2019
08 जनवरी 2019
इतिहास के बारे में लगभग हर कोई जानना चाहता है. खासकर, आजकल के युवाओं को इतिहास में काफी दिलचस्पी होती है. बचपन में नानी-दादी हमें अक्सर इतिहास से संबंधित कहानियां सुनाया करती थीं. वह हमें बताया करती थीं कि कैसे उस समय देश आजाद करवाने के लिए लोगों ने हंसते-हंसते अपने जानों
08 जनवरी 2019
सम्बंधित
लोकप्रिय
आज के प्रमुख लेख
आसान हिन्दी  [?]
तीव्र हिंदी  [?]
ऑनस्क्रीन कीबोर्ड  [?]
हिन्दी टाइपिंग  [?]
डिफ़ॉल्ट कीबोर्ड  [?]

(फोन के लिए विकल्प)
X
1 2 3 र्4 ज्ञ5 त्र6 क्ष7 श्र8 (9 )0 --   =
q w e r t y u i o p [   ]
a s d िfि g h  j k l ; '  \
  z x c  v  b n m ,, .. ?/ एंटर
शिफ्ट                                                         शिफ्ट बैकस्पेस
x